गुरुवार, 20 फ़रवरी 2020

दारुल उलूम शेख अली मुत-तकी बुरहानपुर में दो धार्मिक कार्यक्रमों का आयोजन*।              

            


 बुरहानपुर (मेहलक़ा अंसारी) दारुल उलूम शेख अली मुततकी बुरहानपुर से सम्बद्ध हाफिज़ ज़ूबेर ने बताया कि दारुल उलूम शेख अली मूत्तकी में अध्ययनरत 6 छात्रों द्वारा संपूर्ण क़ुरआन जबानी  कंठस्थ कर पूर्ण किए जाने पर एक गरिमामय कार्यक्रम का आयोजन आज गुरुवार को प्रातः 11:00 बजे से 1:00 बजे तक आयोजित किया गया जिसमें     बुरहानपुर के प्रसिद्ध धार्मिक विद्वान डॉक्टर हाफिज मौलाना सलीम गिन्नौरी ने उन छात्रों को अंतिम पैराग्राफ पढ़ाया ।



इस अवसर पर उपरोक्त संस्थान के संचालक मुफ्ती रहमत उल्लाह कासमी ने हाफ़िज़ छात्रों को उपदेश भी दिए। दूसरा कार्यक्रम अरबी बोलचाल पर आधारित  प्रतियोगिता  (मसा-बि-क़ा अन्नादी-अल-अरबी)का संपन्न हुआ, जिसमें 21 छात्रों ने भाग लिया, जिनमें (1) मोहम्मद उस्मान हाफिज इब्राहिम (2) अबू बकर सिद्दीक अब्दुल करीम(3) मोहम्मद जैद मोहम्मद उल्लाह  (4) अब्दुल जब्बार (5) निजामुद्दीन (6) सैयद मुबाशिर (7) सैय्यद सायम अली (8) उमर फारूक मोहम्मद फहमीद को ईनाम के लिए चयनित  किया ।



कार्यक्रम में शाही ईदगाह के इमाम हाफिज रईस साहब, हाफिज अब्दुल रउफ, मुफ्ती असलम, हाजी अकरम, हाजी न्याज़ मोहम्मद, डॉक्टर एसएम तारिक़, एस एम सादिक, डाक्टर  मुमताज, डाक्टर सैयद नदीम, सैयद सेठ, नूर क़ाज़ी, अकबर भाई रॉयल आदि ने शिरकत की । कार्यक्रम हाफिज जुबेर की निगरानी में संपन्न हुआ ।


कुल्हाडी मार कर अस्थिभंग करने के मामले में आरोपी को दो वर्ष की सजा और अर्थदण्ड

 छतरपुर- कुल्हाडी मार कर अस्थिभंग करने के मामले में कोर्ट ने फैसला दिया। बिजावर अपर सत्र न्यायाधीश की अदालत ने आरोपी को दो साल की कठोर कैद क...