बुधवार, 21 अक्तूबर 2020

मारपीट एवं हत्या के बाद फरार आरोपी का जमानत आवेदन निरस्त कर भेजा जेल


भिण्ड। न्यायालय विशेष न्यायाधीश (एस.सी.एस.टी.) जिला भिण्ड के न्यायालय में मारपीट एवं हत्या के बाद फरार आरोपी नीरज वर्मा द्वारा जमानत के लिये आवेदन पेश किया गया जिसे न्यायालय द्वारा निरस्त कर दिया गया। 


     जनसंपर्क अधिकारी (अभियोजन) चंबल संभाग इन्द्रेश कुमार प्रधान द्वारा बताया गया कि दिनांक 28/01/2020 को फरियादी अशोक जाटव ने थाना गोहद में रिपोर्ट लेख करायी कि रामू कुशवाह से ताश खेलने के ऊपर से महेन्द्र उर्फ करू से विवाद हो गया था तो रामू कुशवाह, बल्लू एवं धर्मेन्द्र ने महेन्द्र से झगड़ा किया एवं जातिसूचक, अश्लील गालियां दी, उसके बाद उक्त आरोपीगण ने 10-12 लोगो के साथ आकर अभियोगी का घर घेर लिया और दरवाजे पर ईट-पत्थर फेंके। मौके पर पुलिस के आने पर उक्त आरोपीगण भाग गये। उक्त घटना की थाना पर शिकायत करने के उपरांत घर वापिस आते समय शाम के 6ः30 बजे आरोपीगण रामू कुशवाह, बल्लू कुशवाह, धर्मेन्द्र कुशवाह, गोपाल तोमर, दीपक यादव, मनीष यादव, कलूटी उर्फ बालकिशन ने फरियादी के भाई महेन्द्र की मारपीट की, रामू कुशवाह, नीरज वर्मा, भारत सिंह राठौर, संदीप माहौर ने लात मारी जिससे महेन्द्र नीचे गिर गया, उसी समय रामू कुशवाह ने फरियादी के भाई महेन्द्र उर्फ करू के पेट में चाकू मारा, उसके उपरांत उक्त लोग भाग गए। इलाज के दौरान आहत करू उर्फ महेन्द्र की मृत्यु हो गयीं। उक्त रिपोर्ट पर से थाना गोहद द्वारा अपराध क्रमांक 35/2020 पर अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना मे लिया ।

बहला फुसलाकर नाबालिग को लेजाकर दुष्कृत्य करने वाले आरोपी की जमानत खारिज, रहना होगा जेल में



सागर। न्यायालय- श्रीमती नीलू संजीव श्रृंगीऋषि विशेष न्यायाधीश/नवम अपर सत्र न्यायाधीश पाॅक्सो एक्ट सागर के न्यायालय ने आरोपी रंजीत चढार पिता ठाकुरदास चढार निवासी ग्राम औरिया थाना जैसीनगर जिला सागर का जमानत का आवेदन को निरस्त करने का आदेश दिया गया। वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से जमानत आवेदन पर राज्य शासन की ओर से वरिष्ठ सहा0 जिला अभियोजन अधिकारी श्रीमती रिपा जैन, सागर ने शासन का पक्ष रखा। 


घटना का संक्षिप्त विवरण इस प्रकार है कि  फरियादी ने थाना नरयावली में उपस्थित होकर रिपोर्ट लेख कराई कि दिनांक 08.12.2017 के दोपहर में उसकी बेटी जिसकी उम्र 16 साल(नाबालिग) है गेहूॅ लाने का कहकर घर से बाहर गयी थी जो रात तक घर पर वापिस नही आयी। आस-पडोस एवं रिस्तेदारी में भी पता करने पर उसका कही कोई पता नही चला। कोई अज्ञात व्यक्ति बहला फुसला के ले गया। उक्त रिपोर्ट के आधार पर प्रकरण धारा 363 भादवि के अंतर्गत पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। विवेचना के दौरान नाबालिग को दस्तयाव कर नाबालिग के कथन लिये गये जिसमें उसने बताया कि आरोपी रंजीत उसे बहला फुसला के भोपाल ले गया और एक किराये के कमरे में उसके साथ गलत काम करता रहा। विवेचना में आरोपी के विरूद्ध धारा 366,376 भादवि एवं 3/4, 5/6 पाॅक्सो एक्ट का इजाफा किया गया।  आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत किया गया। आरोपी के अधिवक्ता ने जमानत आवेदन न्यायालय में प्रस्तुत किया। जहां अभियोजन ने जमानत आवेदन का विरोध किया। माननीय न्यायालय द्वारा उभय पक्ष को सुना गया। न्यायालय द्वारा प्रकरण के तथ्य परिस्थितियों एवं अपराध की गंभीरता को देखते हुए व अभियोजन के तर्कों से सहमत होकर आरोपी रंजीत चढार का प्रस्तुत  जमानत हेतु धारा 439 दप्रसं का आवेदन निरस्त कर दिया गया। 



नाबालिग लड़की को बहला-फुसलाकर घर से भगाकर दुष्‍कर्म करने वाले आरोपी की जमानत निरस्‍त।


गुना। विशेष न्‍यायालय गुना ने नाबलिग लड़की को बहला-फुसलाकर घर से भगाकर दुष्‍कर्म करने वाले आरोपी रिंकू वाल्मिक का किया जमानत निरस्त।


मीडिया सेल प्रभारी श्रीमती डॉली गुप्‍ता ने बताया कि दिनांक 05.02.2020 को अभियोक्‍त्री के गायब होने की रिपोर्ट थाना बजरंगढ में अपराध क्रमांक 104/20 के तहत अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया था। अभियोक्‍त्री को दस्‍तयाब कर कथन कराये जाने पर आरोपी रिंकू के द्वारा उसे बहला-फुसलाकर घर से भगाकर डांग में ले जाना और चार-पांच दिन तक जंगल में दुष्‍कर्म करना बताया है। उक्‍त रिपोर्ट थाना बजरंगढ में धारा 363,366ए,376(2)(एन) भादवि एवं पोक्‍सो एक्‍ट की धारा 5/6 क तहत अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। शासन की ओर से पैरवी विशेष लोक अभियोजक श्री रविकांत दुबे द्वारा की गई जिनके तर्को से सहमत होकर माननीय न्यायालय ने आरोपी की जमानत आवेदन खारिज की।

दहेज मृत्‍यू करने वाले आरोपीगण का जमानत आवेदन निरस्त

  


माननीय न्यायालय प्रथम न्यायिक मजिस्ट्रेट श्रीमती पूनम सिंह सतना द्वारा थाना सिटी कोतवाली के अपराध क्र0 650/2020 अंतर्गत धारा 498(ए), 304(बी)/34 , दहेज प्रतिषेध अधि0 ¾ के अन्त0र्गत अभियुक्तत मनीष विश्वकर्मा , शिवकुमार विश्वकर्मा, श्रीमती सावित्री विश्वकर्मा, शनि उर्फ आशीष विश्वेकर्मा , आरती विश्वकर्मा सभी निवासीगण डालीबाबा थाना कोतवाली जिला सतना का आवेदन निरस्त किया गया ।  मामले में राज्य की ओर से एडीपीओ चेतन शाक्यवार द्वारा का जमानत आवेदन का विरोध किया गया । 


         अभियोजन सहा0 प्रवृक्ता संदीप कुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि मृतिका श्रीमती नीलम विश्वकर्मा की शादी दिनांक 18/06/2017 को मनीष विश्वकर्मा के साथ सतना में हुई थी शादी के बाद से मृतिका का पति मनीष विश्वकर्मा सास सावित्री विश्ववकर्मा ससुर शिवकुमार विश्वकर्मा देवर आशीष विश्वकर्मा ननद पूजा विश्वकर्मा , आरती विश्वकर्मा एवं नंदोई राजू विश्वककर्मा के द्वारा चार पहिया गाडी खरीदने के लिये तथा नगदी पांच लाख रू0 की मांग कर मृतिका के साथ मारपीट तथा प्रताडित करते थे । दिनांक 13/10/2020 की रात्रि को भी उक्त सभी लोगो के द्वारा तथा घटना दिनांक को मृतिका के पति के द्वारा उक्त मांग को लेकर मृतिका के साथ मारपीट कर क्रूरता का व्यवहार किया गया इसी प्रताडना से विवश होकर दिनांक 13/10/2020 करीब चार बजे श्रीमती नीलम विश्वकर्मा ने अपने ऊपर मिट्टी का तेल डालकर आग लगा लिया उसके पश्चात उसी दिनांक को  उपचार के दौरान मृतिका ने अपने मृत्युुकालीन कथन मे ससुराल वालो की प्रताडना से तंग आकर स्वंय मिट्टी का तेल डालकर आग लगाना बताई थी । दिनांक  15/10/2020 को  उसकी मृत्यू  हो गई । 



हत्या का प्रयत्न करने वाले 24 वर्ष से फरार आरोपी को गिरफ्तार कर भेजा जेल

थाना कालीदेवी द्वारा आरोपी मुंशी पिता बुचा मेड़ा निवासी ग्राम दुधी के विरुद्ध माननीय अपर सत्र न्याायालय झाबुआ से स्थाई वारंट जारी किया गया था। आरोपी लगभग पिछले 24 वर्षों से फरार चल रहा था, जिसके कारण प्रकरण के निराकरण में विलंब कारित हो रहा था व दिनांक 20.10.2020 को पुलिस थाना कालीदेवी जिला झाबुआ द्वारा आरोपी मुंशी को न्यायालय श्रीमान् न्यायिक दण्डााधिकारी श्री हर्ष ठा‍कुर साहब के न्या्यालय में पेश किया गया। न्यायालय द्वारा उक्त आरोपी का जेल वारंट बनाकर जेल भेजा गया। 


उक्त जानकारी जिला मीडिया सेल प्रभारी (‍अभियोजन) सूश्री सूरज वैरागी सहायक जिला अभियोजन अधिकारी जिला झाबुआ द्वारा दी गई।


                                           

सोमवार, 19 अक्तूबर 2020

हाॅलीडे स्पेशल ट्रेन का रेल्वे स्टेशन पर रहेगा स्टापेज



खिरकिया। स्थानीय रेल्वे स्टेषन पर एक हालीडे स्पेषल टेªन का स्टापेज दिया गया। कोरोना संक्रमण के चलते रेल्वे स्टेषन पर रूकने वाली टेªनो का आवागमन बंद है। जिसमें से 3 जोड़ी टेªनो का संचालन किया जा रहा है, लेकिन अब काषी एक्सप्रेस के समय हालीडे टेªन स्पेषल का स्टापेज दिया गया है। जानकारी के अनुसार अप में खंडवा की ओर जाने के लिए टेªन क्र. 05018 प्रतिदिन 20 अक्टूबर से 30 नबंवर तक स्थानीय रेल्वे स्टेषन पर प्रातः 6 बजे रूकेगी। वही डाउन में इटारसी की ओर जाने के लिए 22 अक्टूबर से 2 दिसंबर तक प्रतिदिन शाम 5ः41 बजे रेल्वे स्टेषन पर रूकेगी।    

--------

सिंचाई के लिए 10 घंटे सतत प्रदान की जाए बिजली



खिरकिया। किसानो को सिंचाई कार्य के लिए 10 घंटे लगातार विद्युत सप्लायी प्रदाय किए  जाने को लेकर जपं सदस्य मयाराम यादव द्वारा कनिष्ठ यंत्री केा पत्र लिखा है। जिसमें उन्होने बताया कि धनवाड़ा फीडर अंतर्गत आने वाले ग्राम धनवाड़ा, देवपूर, नगावामाल, पाहनपाट, चैकड़ी, लोधियाखेड़ी, सारंगपूर, कुड़ावा सहित अन्य ग्रामो में किसानो को 10 घंटे सतत सिंचाई हेतु विद्युत सप्लायी प्रदान की जाए, ताकि किसान समय पर बोवनी कार्य कर सके। इस दौरान कृषक तेजराम पटेल, बलिराम, जगन्नाथ, सकाराम सहित अन्य मौजूद थे।

दुकान से मोबाईल चोरी करने वाले आरोपी की जमानत निरस्त


थाना पनवार के अप0क्र0 105/19, भादवि0 की धारा 379 के अंतर्गत दुकान से मोबाइल फोन चोरी वाले आरोपी अमित द्विवेदी पिता श्यामाकान्त द्विवेदी, उम्र 23 वर्ष, निवासी जोडावरपुर थाना पनवार जिला रीवा म0प्र0 का माननीय न्यायालय-़ जेएमएफसी, त्योंथर जिला रीवा द्वारा जमानत आवेदन निरस्त कर जेल भेजा गया। 



मीडिया प्रभारी मो0 अफजल खान, एडीपीओ रीवा द्वारा बताया गया कि दिनांक 18.07.2020 को फरियादी अपनी दुकान का सामान लेने कल्याणपुर गया था और दुकान में उसका छोटा लड़का था जो गूंगा था और इसारे से बताने पर सामान देता था और पैसा ले लेता था। फरियादी करीब 05 बजे शाम को वापस आया तो उसके लड़के ने इसारे से बताया कि करीब 04 बजे अमित द्विवेदी एवं आशीष द्विवेदी दुकान पर पारलेजी बिस्कुट लेने आये थे उन्होने 100रू0 का नोट दिया था, फरियादी का लड़का दुकान के अन्दर खुल्ला पैसा लेने गया था तभी आरोपी अमित द्विवेदी ने दराज में रखा मोबाईल एवं करीब 3000/- नगदी रू0 चुराकर ले गया। उक्त घटना की रिपोर्ट फरियादी ने थाना पनवार में लेख कराई। पुलिस ने विवेचना उपरांत अभियोग पत्र एवं आरोपी को न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत किया। 

मामले में आरोपी के अधिवक्ता ने जमानत आवेदन माननीय न्यायालय में प्रस्तुत कर यह तर्क दिया कि आरोपी निर्दोष है उसे झूठा फसाया गया है अतः उसे जमानत पर रिहा किया जाए। शासन की ओर से सहायक जिला अभियोजन अधिकारी श्री धीरज सिंह, तहसील-त्योंथर द्वारा अपने तर्क प्रस्तुत किये गये और जमानत आवेदन का विरोध करते हुए कहा कि वर्तमान में चोरी की घटनाए लगातार बढ़ रही है यदि आरोपी को जमानत का लाभ दिया गया तो वह और भी अपराध को अंजाम दे सकता हैं। तर्को से सहमत होते हुए माननीय न्यायालय द्वारा आरोपी का जमानत आवेदन निरस्त कर जेल भेजा 

महिला के साथ छेड़छाड़ करने वाले आरोपी की जमानत निरस्त



भिण्ड। न्यायालय षष्ठम् अपर सत्र न्यायाधीश जिला भिण्ड के न्यायालय में महिला के साथ छेड़छाड़ करने वाले आरोपी सत्यनारायण उर्फ गपोले द्वारा जमानत आवेदन पेश किया गया। जिसे न्यायालय द्वारा निरस्त कर दिया गया।  


     जनसंपर्क अधिकारी (अभियोजन) चंबल संभाग इंद्रेश कुमार प्रधान द्वारा बताया गया कि फरियादिया ने अपने पति के साथ थाना देहात में उपस्थित होकर रिपोर्ट लेख करायी कि दिनांक 13/10/2020 को अपने पति के साथ खेत पर चारा लेने गयी थीं। सुबह करीब 8 बजे फरियादिया का पति कुए पर पानी पीने चला गया, तब गांव का आरोपी गपोले आया और बुरी नियत से फरियादिया का हाथ पकड़ लिया और साथ चलने के लिये कहा। फरियादिया चिल्लाई तो उसका पति आ गया, जिसे देखकर आरोपी गपोले भाग गया और भागते समय जान से मारने की धमकी दी। उक्त घटना पर से थाना देहात में अपराध क्रमांक 641/2020 धारा 354, 506 भादवि के तहत अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

अवैध कट्टा व जिन्दा कारतूस रखने वाले आरोपी को भेजा जेल


 मेहगांव (भिंड)। सहायक मीडिया सेल प्रभारी/सहायक जिला लोक अभियोजन अधिकारी आकिल अहमद खाँन द्वारा बताया कि घटना दिनाक 15.10.2020 को मुखबिर के जरिये सूचना मिली कि एक व्यक्ति 315 बोर का कट्टा व जिन्दा कारतूस लिये किसी वारदात की फिराख में बैठा है उक्त अपराध पर से थाना मेहगांव में अपराध क्रमांक 399/2020 धारा 25,27 आर्म्स एक्ट के तहत प्रकरण पंजीबद्ध किया गया। 


आरोपी घुआराम सिंह पुत्र रघुवर सिंह गुर्जर उम्र 48 साल निवासी भौडेरी थाना महाराज पुरा जिला ग्वालियर को गिरफ्तार कर न्यायालय मेहगांव के समक्ष पेश किया गया। जहाँ से आरोपी को जेल भेजा

हत्या कारित करने की नियत से मारपीट करने वाले आरोपी को दिया गया 05 वर्ष का कठोर कारावास



जिला एवं सत्र न्याायाधीश श्रीमान् राजेश कुमार गुप्ता  साहब, जिला झाबुआ द्वारा को प्राणघातक हमला करने वाले आरोपी को 5 वर्ष का कठोर कारावास व 500 रुपये का अर्थदण्डा की सजा सुनाई।

मीडिया प्रभारी सूश्री सूरज वैरागी, जिला झाबुआ ने बताया कि दिनांक 03.03.2018 को सुबह 09:30 बजे ग्राम नवापाड़ा रोटला फरियादिया शौच करने गई थी, तो अभियुक्त. झितरा वहां आया और वहां फरियादिया को बुरी नियत से पकड़कर झूमा झटकी करने लगा तो फरियादिया चिल्ला ई और वहां से भागी तो फरियादिया के परिवार के वाला, दूला, मानसिंह और कैलाश आये और झितरा को बोले कि तु ऐसा क्योंक कर रहा है तो झितरा हाथ में लट्ठ लिए हुए था, उसी लट्ठ से वाला को जान से खत्म  करने की नियत से सिर में मारा इतने में झितरा के लड़के राजेश व कांजू दौड़कर आये व दूला और कैलाश के साथ मारपीट की गई थी। फरियादिया ने थाना कालीदेवी में आरोपीगणों के विरुद्ध रिपोर्ट लिखवाई पुलिस थाना कालीदेवी अनुसंधान पूर्ण कर आरोपीगण के विरुद्ध धारा 354, 323, 307/34 भादवि के तहत अभियोग पत्र न्यायालय में पेश किया गया।  


विचारण के दौरान माननीय जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्री राजेश कुमार गुप्ता साहब, झाबुआ की न्याायालय ने अभियुक्त झितरा को धारा 307 भादवि में दोषी पाते हुए 5 वर्ष का कठोर कारावास तथा 500 रुपये के अर्थदण्डत से दण्डित किया गया। 

प्रकरण जघन्य  एवं सनसनीखेज चिन्हित होने से शासन की ओर से संचालन उप-संचालक (अभियोजन) श्री के.एस. मुवेल द्वारा किया गया। 

सुश्री सूरज वैरागी(सहायक जिला अभियोजन अधिकारी)


मारपीट एवं हत्या के बाद फरार आरोपी का जमानत आवेदन निरस्त कर भेजा जेल

भिण्ड। न्यायालय विशेष न्यायाधीश (एस.सी.एस.टी.) जिला भिण्ड के न्यायालय में मारपीट एवं हत्या के बाद फरार आरोपी नीरज वर्मा द्वारा जमानत के लिये...