शनिवार, 30 नवंबर 2019

सामाजिक संस्था बैतूलमाल  की नवीन कार्यकारिणी का हुआ गठन

सामाजिक संस्था बैतूलमाल  की नवीन कार्यकारिणी का हुआ गठन


बुरहानपुर। सामाजिक कार्यों में अपनी एक अलग पहचान रखने वाली शहर की समाजिक संस्था बैतूलमाल की नवीन कार्यकारिणी का गठन किया गया संस्था संयोजक मोहम्मद सादिक जहाज वाला ने बताया कि संस्था के धीमी गति से हो रहे  कार्यों को गति प्रदान करने के लिए इस बार शहर के ऊर्जावान युवाओं की टीम गठित की गई जिसमें सर्वसम्मति से रियाज फारूक खोकर को जिलाध्यक्ष एवं मोहम्मद राशिद  को जिला सचिव घोषित किया अन्य पदाधिकारियों में शेख शकील कुरेशी,अत्ताउल्लाह खान, शहजाद नूर, शरीफ शालीमार, मोहम्मद अनस जिला उपाध्यक्ष फरीद अंसारी सह सचिव शेख मुस्ताक कोषाध्यक्ष अब्दुल वसीम मीडिया प्रभारी बनाए गए।
संस्था संयोजन सादिक जहाज वाला आबु फहद जहाज वाला अधिवक्ता सोहेल हाशमी गुलाब मंसूरी हाजी अब्दुल रशीद रफीक गुल मोहम्मद मोहम्मद रशीद लालबाग ने नवीन कार्यकारिणी को बधाई प्रेषित कर शुभकामनाएं दी


पत्रकार क्रांति संघ ने अजाक थाने की राष्ट्रीय उपलब्धि पर प्रशासनिक अधिकारियों का किया सम्मान।                 

पत्रकार क्रांति संघ ने अजाक थाने की राष्ट्रीय उपलब्धि पर प्रशासनिक अधिकारियों का किया सम्मान। 


                    


 बुरहानपुर। पत्रकार क्रांति संघ ने अजाक थाने की राष्ट्रीय उपलब्धि पर एसपी अजय सिंह, एडिशनल एसपी महेंद्र तारणेकर, डीएसपी दीपा डुडवे, और थाना प्रभारी के.के. अग्रवाल का पुष्पगुच्छ  देकर सम्मान किया। बता दें कि केंद्रीय गृह मंत्रालय ने देश के सभी राज्यों के 100 थानों का गुप्त सर्वे कराया है प्रत्येक जिलों के चुनिंदा थाना क्षेत्रों में खरा उतरने के बाद केंद्रीय मंत्रालय ने देश के सर्वोच्च 3 थानों का चयन किया जिसमें बुरहानपुर अजाक थाना भी शामिल है जहा प्रभारी एसआई के,के अग्रवाल है। जिनकी काबिलियत और मेहनत के साथ अनुशासन के दम पर यह सम्मान मिलने जा वाला है इसी को लेकर सम्मान किया गया।



इस दौरान महेश मावले, सुनील अग्निहोत्री, उमेश जंगाले, निलेश महाजन, संजय दुबे, रितेश बविश्कर, मुस्ताक भोपाली, मोहम्मद अरमान, मोहम्मद वसीम, निलेश सोनी, अमर दीवाने, रमाकान्त मोरे, अनिल महाजन, विजय इंगले, संदीप दाहट, मुजफ्फर अली, सहित अन्य पदाधिकारी एवं सदस्य मौजूद थे।










पत्रकार क्रांति संघ की बैठक संपन्न, आगामी गतिविधियों को लेकर चर्चा की गई 

पत्रकार क्रांति संघ की बैठक संपन्न, आगामी गतिविधियों को लेकर चर्चा की गई


  बुरहानपुर। मंडी बाज़ार कार्यालय पर पत्रकार क्रांति संघ की बेठक संपन्न हुई जिसमे आगामी होने वाली गतिविधियों को लेकर विस्तारपूर्वक चर्चा की गई। बेठक मे सभी पदाधिकारी एवं सदस्यो ने अपने विचार रखे। तत्पश्चात संरक्षक महेश मावले ने कहा की पत्रकारो की समस्याओ को लेकर  सदेव गंभीर एवं तत्पर रहना है। जिला अध्यक्ष उमेश जंगाले ने कहा की पत्रकारो की प्रत्येक समस्या से शासन एवं प्रशासन को अवगत कराते रहेंगे। संजय दुबे एवं रितेश बाविस्कर सहित अन्य पदाधिकारियो ने भी अपने विचार एवं सुझाव रखे। इस दौरान महेश मावले, उमेश जंगाले, निलेश महाजन, संजय दुबे, रितेश बाविश्कर, मुस्ताक भोपाली, मोहम्मद अरमान, मोहम्मद वसीम, निलेश सोनी, अमर दीवाने, रमाकान्त मोरे, अनिल महाजन, विजय इंगले, संदीप दाहट, मुजफ्फर अली, सहित अन्य पदाधिकारी एवं सदस्य मौजूद थे।


जिले की प्रतिभाओं को सजाने एवं सवारने का काम किया अध्यापको ने- जलसंसाधन मंत्री श्री कराड़ा एमजी कान्वेंट विद्यालय की स्वर्ण जयंती समारोह में शामिल हुए मंत्री श्री कराड़ा

















  •  




























जिले की प्रतिभाओं को सजाने एवं सवारने का काम किया अध्यापको ने- जलसंसाधन मंत्री श्री कराड़ा
एमजी कान्वेंट विद्यालय की स्वर्ण जयंती समारोह में शामिल हुए मंत्री श्री कराड़ा
शाजापुर | 


 

 

 


   


 

   जिले की प्रतिभाओं को सजाने एवं सवारने का काम विद्यालय के अध्यापको ने किया है, आज एम.जी. कान्वेंट स्कूल के बच्चे प्रशासनिक एवं अन्य स्थानो पर पदस्थ होकर विद्यालय एवं जिले का नाम रोशन कर रहे है। यह बात प्रदेश के जलसंसाधन मंत्री श्री हुकुमसिंह कराड़ा ने आज स्थानीय महात्मा गांधी कान्वेंट विद्यालय की स्वर्ण जयंती समारोह के अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में कही। इस अवसर पर समारोह की अध्यक्षता उज्जैन धर्मप्रान्त के बिशप डॉ. सबास्टीयन वडक्के ने की। इस मौके पर विद्य़ालय प्रबंधक फादर अगस्टीन, विद्यालय प्राचार्य साइमन एम.सी. तथा उज्जैन डायोसिस से संबद्ध कान्वेन्ट स्कूलो से फादर एवं सिस्टर व एमजी कान्वेन्ट शाजापुर के पूर्व प्रबंधक, पूर्व प्राचार्य, पूर्व शिक्षक-शिक्षिकाएं तथा अभिभावकगण उपस्थित थे।
 

   जलसंसाधन मंत्री श्री हुकुमसिंह कराड़ा ने संबोधित करते हुए कहा कि जिले की प्रतिभाओं को सजाने एवं सवारने का काम विद्यालय के अध्यापको ने किया है, आज एमजी कान्वेंट के बच्चे प्रशासनिक एवं अन्य स्थापनो पर पदस्थ होकर विद्यालय एवं जिले का नाम रोशन कर रहे है। शाजापुर जिला इसी तरह ओर प्रगति की ओर अग्रसर हो इसके लिए सभी से कदम से कदम मिलाकर शिक्षा को महत्व देने की बात कही। उन्होंने कहा कि जिले की प्रतिभाओं को सजाने में एमजी कान्वेंट विद्यालय की महत्वपूर्ण भूमिका है।
     उज्जैन धर्मप्रान्त के बिशप डॉ. सबास्टीयन वडक्के ने भी कार्यक्रम को संबोधित किया। एमजी कान्वेंट विद्यालय की स्वर्ण जयंती समारोह के अवसर पर विभिन्न सांस्कृति कार्यक्रमों का आयोजन भी हुआ। सांस्कृतिक कार्यक्रमों में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के जीवन से जुड़ी कई महत्वपूर्ण घटनाओं पर आधारित कार्यक्रम मंच पर प्रस्तुत किए गए, जिसे 'महात्मा' नाम दिया गया। इसके अलावा प्रभ यीशु के महात्म को दर्शाते हुए कार्यक्रम 'दया सागर' का मंचन किया गया। कार्यक्रम में विद्यालय से संबद्ध संस्था नव-ज्योति विशेष विद्यालय के विशेष दिव्यांग बच्चों के द्वारा भी मंत्र-मुग्ध करने वाली प्रस्तुतियां पेश की गई।
     इस अवसर पर जिला पंचायत सदस्य श्री राजकुमार कराड़ा, मो. बड़ोदिया जनपद अध्यक्ष श्री अजब सिंह पंवार, विधायक प्रतिनिधि श्री आशुतोष शर्मा, श्री संजय सिंह कराड़ा, श्री सचिन पाटीदार, श्री देवकरण गुर्जर, श्री गोविन्द शर्मा भी मौजूद थे।








जिला स्तरीय शांति समिति की बैठक आयोजित

जिला स्तरीय शांति समिति की बैठक आयोजित
-
आगर-मालवा | 


 

 

 


     कलेक्टर श्री संजय कुमार की अध्यक्षता में शनिवार को  कलेक्ट्रेट सभा कक्ष में जिला स्तरीय शांति समिति की बैठक सम्पन्न हुई। बैठक में आगामी 06 दिसम्बर को आयोजित होने वाले कार्यक्रमों पर विशेष तौर से चर्चा की गई। बैठक में कलेक्टर द्वारा समिति के सदस्यों से सहयोग की अपेक्षा करते हुए, जिले में शांति व्यवस्था कायम रखने के लिये सक्रिय रहकर समिति के सदस्य आगे भी अपना सहयोग प्रदान करें।
        बैठक में कलेक्टर ने कहा कि जिले में धारा 144 के तहत् पूर्व में जारी प्रतिबंधात्मक आदेश यथावत् रहेंगे। आदेशों का उल्लंघन करने पर दोषी मानते हुए कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने कहा कि प्रतिबंधात्मक आदेशों का अलाउंसमेंट करवाया जाएगा। धार्मिक संगठनों के प्रतिनिधियों की बैठक आहुत कर उन्हें शांति कायम रखने की जिला प्रशासन की मंशा से अवगत कराया जाएगा।     कलेक्टरने नगर पालिका सीएमओं को शहरी क्षेत्र में साफ-सफाई निरंतर रखने तथा विद्युत विभाग के अधिकारी विद्युत व्यवस्था निर्बाध रखने हेतु निर्देश किया गया। बैठक को पुलिस अधीक्षक सविता सोहाने ने सम्बोधित किया।
         बैठक में अपर कलेक्टर श्री एनएस राजावत, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रदीप पटेल, थाना प्रभारी आगर श्री अजित तिवारी, शांति समिति के सदस्य सर्व श्री बंसत गुप्ता, नजीर अहमद, जफर मुल्तानी, लालजीराम मालवीय, बाबूलाल बीजापारी, शहरी काजी सुसनेर, शहर काजी कानड़ सहित अन्य मौजूद रहें।




बालिका वधु रही सीमा ने दी, बाल विवाह न करने की सीख "खुशियों कि दास्तां"

















  •  




























बालिका वधु रही सीमा ने दी, बाल विवाह न करने की सीख "खुशियों कि दास्तां"
-
आगर-मालवा |


 

 

 




    एक उन्नत और सफल समाज स्थापित करने के लिए यह बहुत जरूरी है कि वर्तमान और भविष्य में बाल विवाह का कोई स्थान नहीं होना चाहिए। बाल विवाह और उससे जुड़ी कुरीतियों को पूरी तरह समाज से खत्म करने के तरीकों के बारे में चिंतन करने के लिये जिला प्रशासन पुरी मुश्तेदी से लगा है और जिले के नागरिको को भी इस मुहिम मे जुडकर इस बुराई को समाज से दूर करने ़का आव्हान् कर रहा है। जिला प्रशासन द्वारा लाडो अभियान की तर्ज पर जिले मे ''बाबुल मोरा कच्ची कलियां ना तोड'' अभियान को जिले मे चलाया जा रहा है। जिसके तहत् जिले में एक भी बाल विवाह न होने देने हेतु प्रशासनिक अमले को भी सक्रिय किया गया है। जिले मे बाल विवाह की रोकथाम हेतु जिला स्तर पर व्यापक तैयारी कर ली गई।
   आज शनिवार को नगरपालिका टाऊनहॉल मे सघन इन्द्रधनुष मिशन कार्यशाला मे जिला कलेक्टर श्री संजय कुमार ने कार्यक्रम मे उपस्थित समस्त आशा कार्यकर्ता, आंगनवाडी कार्यकर्ता,सुपरवाईजर महिला बाल विकास एवं स्वास्थ्य कार्यकर्ता की बैठक में बाल विवाह के रोकथाम को लेकर चर्चा कर रहे थे। इसी बीच वहां उपस्थित बाल विवाहित सीमा राठौर अपने आपको बोलने से रोक नही पाई। उसने खड़े होकर अपने बाल विवाह का जिक्र करते हुए बताया कि मे भी एक ''बालिका वधु'' थी। मेरे भी माता-पिता ने मात्र 15 वर्ष की उम्र मे ही बाल विवाह कर दिया था।  बाल विवाह के कारण मेने कम उम्र मे एक अतिकुपोषित बच्ची को जन्म दिया। जिसका उपचार कराने के बाद भी मृत्यु हो गई थी। सीमा ने बताया की मुझे इस तरह बाल विवाह से जीवन मे कई परेशानियो का सामना करना पडा था। अपने बाल विवाह से सीख लेकर मैने उसी वक्त अपने बच्चों का बाल विवाह न करने की मन में ठानी। सीमा आगे कहती है कि आज मेरी एक बेटी 21वर्ष की उम्र होने के बाद भी उसके विवाह के बारे मे सोचा तक नही है। आंनवाडी कार्यकर्ता का कहना है कि बाल विवाह के कारण जो परेशानी एवं दिक्कतो का सामना मुझे करना पडा, वह मै अपने बच्चो को कभी भी नही करने दुंगी और अपने सामने किसी भी कम उम्र के बच्चो का बाल विवाह नही होने नहीं दुंगी। हम सब इस अभियान को सफल बनाने मे अपना पुर्ण सहयोग प्रदान कर जिले मे बाल विवाह नही होने







खेल से व्यक्ति में सकारात्मक ऊर्जा उत्पन्न होती है - मंत्री श्री पटवारी मंत्री श्री पटवारी ने राज्य स्तरीय अन्तर विश्वविद्यालयी हॉकी प्रतियोगिकता का किया शुभारंभ

















  •  




























खेल से व्यक्ति में सकारात्मक ऊर्जा उत्पन्न होती है - मंत्री श्री पटवारी
मंत्री श्री पटवारी ने राज्य स्तरीय अन्तर विश्वविद्यालयी हॉकी प्रतियोगिकता का किया शुभारंभ
मन्दसौर | 


 

 

 


   

  

  मंदसौर एस्ट्रोटर्फ हॉकी मैदान में आयोजित हो रहे राज्य स्तरीय अन्तर विश्वविद्यालयी पुरुष एवं महिला हॉकी प्रतियोगिकता का शुभारंभ खेल एवं युवा कल्याण, उच्च शिक्षा विभाग, मध्यप्रदेश शासन के मंत्री श्री जीतू पटवारी द्वारा किया गया। राज्य स्तरीय अन्तर विश्वविधालयी पुरुष एवं महिला हॉकी प्रतियोगिकता में विजय के पश्चात विद्यार्थी राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिता में भाग लेंगे। इस अवसर पर मंत्री से पटवारी द्वारा कहा गया कि खेल से व्यक्ति के अंदर सकारात्मक ऊर्जा उत्पन्न होती हैं। नकारात्मक कभी नहीं। जो व्यक्ति सकारात्मक ऊर्जा से जुड़ा होता है वही खेल में शामिल होता है। ऐसे खिलाड़ी जो खेल के क्षेत्र में राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रदेश व देश का नाम रोशन करते हैं, उन्हें नौकरियों में 5% आरक्षण दिया जाएगा। इस तरह की पहल मध्यप्रदेश सरकार ने शुरू की है। उन्हें जीवन की सुरक्षा की गारंटी प्रदान की जाएगी। ग्रामीण क्षेत्र की प्रतिभाओं को अधिक से अधिक अवसर मिले एवं छुपी हुई प्रतिभा सामने निकल कर आये। इसके लिए खेल विभाग द्वारा भी विशेष प्रयास किए जा रहे हैं। कलेक्टर को निर्देश देते हुए कहा कि हॉकी स्पोर्ट्स में और क्या विस्तार हो सकता है इसके लिए प्रपोजल बनाकर भेजें। राष्ट्रीय स्तर के खेलो की प्रतियोगिता में मध्यप्रदेश देश मे प्रथम स्थान पर आए इसके लिए प्रयास किए जा रहे हैं।
    इस दौरान खेल एवं युवा कल्याण, उच्च शिक्षा विभाग, मध्यप्रदेश शासन के मंत्री श्री जीतू पटवारी, सुवासरा विधायक श्री हरदीपसिंह डंग, मन्दसौर विधायक श्री यशपाल सिंह सिसौदिया, नगर पालिका अध्यक्ष श्री मोहम्मद हनीफ शेख, कालापीपल विधायक श्री कुणाल चौधरी, नागदा विधायक श्री दिलीप गुर्जर, आलोट विधायक श्री मनीष चावला, राजीव गांधी शासकीय स्नातकोत्तर महाविधालय मंदसौर की "जन भागीदारी समिती" के अध्यक्ष श्री राजेश रघुवंशी, पूर्व विधायक श्री नवकृष्ण पाटिल, श्री प्रकाश रातड़िया, श्री परशुराम सिसोदिया, श्री श्यामलाल जोकचन्द, जिला व जनपद सदस्य, मण्डल अध्यक्ष, सभी जनप्रतिनिधि कलेक्टर श्री मनोज पुष्प, पुलिस अधीक्षक श्री हितेश चौधरी, सीईओ जिला पंचायत श्री ऋषभ गुप्ता ,एडिशनल एसपी श्री मनकामना प्रसाद, जिलाधिकारी, खिलाड़ी, विद्यार्थी, कर्मचारी, पत्रकार मौजूद थे।  







मंत्री श्री पटवारी ने खादी ग्रामोद्योग प्रदर्शनी का किया शुभारम्भ

मंत्री श्री पटवारी ने खादी ग्रामोद्योग प्रदर्शनी का किया शुभारम्भ
-
मन्दसौर | 


 

 

 


   


    खेल एवं युवा कल्याण, उच्च शिक्षा विभाग, मध्यप्रदेश शासन के मंत्री श्री जीतू पटवारी द्वारा राष्ट्रपिता महात्मा गाँधीजी की 150 वी जयन्ति वर्ष के उपलक्ष्य पर कम्बल केन्द्र नई आबादी मन्दसौर में खादी ग्रामोद्योग प्रदर्शनी का किया शुभारम्भ किया गया। यह प्रदर्शनी 30 नवम्बर से 8 दिसम्बर तक आयोजित की जाएगी। प्रदर्शनी का समय दोपहर 12.30 से रात्रि 8.30 तक रहेगा। उन्होंने कहा कि प्रदर्शनी में सभी प्रकार के खादी वस्त्रों पर कुल 30 प्रतिशत की छुट दी गई है एवं विध्या वैली उत्पादों पर 20 प्रतिशत छुट दी गई है। जिसका लाभ सभी को उठाना चाहिए तथा खादी उद्योग को और आगे बढ़ाना चाहिए। इस दौरान खेल एवं युवा कल्याण, उच्च शिक्षा विभाग, मध्यप्रदेश शासन के मंत्री श्री जीतू पटवारी, सुवासरा विधायक श्री हरदीपसिंह डंग, नगर पालिका अध्यक्ष श्री मोहम्मद हनीफ शेख, कालापीपल विधायक श्री कुणाल चौधरी, नागदा विधायक श्री दिलीप गुर्जर, आलोट विधायक श्री मनीष चावला, राजीव गांधी शासकीय स्नातकोत्तर महाविधालय मंदसौर की "जन भागीदारी समिती" के अध्यक्ष श्री राजेश रघुवंशी, पूर्व विधायक श्री नवकृष्ण पाटिल, श्री प्रकाश रातड़िया, जिला व जनपद सदस्य, मण्डल अध्यक्ष, सभी जनप्रतिनिधि कलेक्टर श्री मनोज पुष्प, पुलिस अधीक्षक श्री हितेश चौधरी, सीईओ जिला पंचायत श्री ऋषभ गुप्ता ,एडिशनल एसपी श्री मनकामना प्रसाद, जिलाधिकारी, पत्रकार मौजूद थे।





57 वें पशुपतिनाथ मेले में खेल मंत्री श्री पटवारी द्वारा कुश्ती प्रतियोगिता का शुभारंभ किया गया

















  •  




























57 वें पशुपतिनाथ मेले में खेल मंत्री श्री पटवारी द्वारा कुश्ती प्रतियोगिता का शुभारंभ किया गया
-
मन्दसौर |


 

 

 


   

    57 वे पशुपति नाथ मेले के दौरान आयोजित होने वाली कुश्ती प्रतियोगिता का शुभारंभ खेल एवं युवा कल्याण, उच्च शिक्षा विभाग, मध्यप्रदेश शासन के मंत्री श्री जीतू पटवारी द्वारा किया गया। इस दौरान कुश्ती में शामिल होने वाले पहलवानों को सम्मानित भी किया गया।
   प्रतियोगिता के दौरान खेल एवं युवा कल्याण, उच्च शिक्षा विभाग, मध्यप्रदेश शासन के मंत्री श्री जीतू पटवारी, सुवासरा विधायक श्री हरदीपसिंह डंग, नगर पालिका अध्यक्ष श्री मोहम्मद हनीफ शेख, कालापीपल विधायक श्री कुणाल चौधरी, नागदा विधायक श्री दिलीप गुर्जर, आलोट विधायक श्री मनीष चावला, राजीव गांधी शासकीय स्नातकोत्तर महाविधालय मंदसौर की "जन भागीदारी समिती" के अध्यक्ष श्री राजेश रघुवंशी, पूर्व विधायक श्री नवकृष्ण पाटिल, श्री प्रकाश रातड़िया, जिला व जनपद सदस्य, मण्डल अध्यक्ष, सभी जनप्रतिनिधि कलेक्टर श्री मनोज पुष्प, पुलिस अधीक्षक श्री हितेश चौधरी, सीईओ जिला पंचायत श्री ऋषभ गुप्ता ,एडिशनल एसपी श्री मनकामना प्रसाद, जिलाधिकारी, पत्रकार मौजूद थे।    







वनाधिकार के निरस्त प्रकरणों का तेजी से निराकरण सुनिश्चित कराऍः- कमिश्नर वनाधिकार अधिनियम के नियमों की जानकारी अधिकारियों को नही होने पर कमिश्नर ने व्यक्त की नाराजगी

















  •  




























वनाधिकार के निरस्त प्रकरणों का तेजी से निराकरण सुनिश्चित कराऍः- कमिश्नर
वनाधिकार अधिनियम के नियमों की जानकारी अधिकारियों को नही होने पर कमिश्नर ने व्यक्त की नाराजगी
शहडोल | 
 



 

  कमिश्नर शहडोल संभाग श्री आर.बी. प्रजापति ने वनाधिकार अधिनियम के अर्तगत किसानेां से प्राप्त निरस्त दावों का पुनः परीक्षण कर ऐसे, सभी प्रकरणों को तेजी से निराकरण करने के निर्देश शहडोल संभाग के सभी अनुविभागीय राजस्व अधिकारियों, सहायक आयुक्त आदिवासी विकास, अनुविभागीय वन अधिकारियों और जनपद पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों केा दिए। कमिश्नर ने अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि वनवासियों को वनाधिकार पटटों का वितरण शासन का प्राथमिकता वाला कार्य है इस कार्य में किसी प्रकार भी की उदासीनता और गतिरोध होने पर संबंधित विभागीय अधिकारियों की जवाबदेही तय की जाएगी तथा उनके विरूद्ध सख्त कार्यवाही की जायेगी । कमिश्नर ने शहडोल संभाग के सभी अनुविभागीय राजस्व अधिकारियों अनुविभागीय वन अधिकारियों, जनपदों के मुख्य कार्यपालन अधिकारियो, को निर्देश दिए कि निरस्त दावों का पुनःपरीक्षण कर ऑनलाईन अपलोड़ करने का कार्य संबंधित विभाग के सभी अधिकारियों की संयुक्त जबावदेही है। कमिश्नर ने कहा कि शहडोल संभाग के आगामी 7 दिवसों में कार्य पूर्ण हो जाना चाहिए। कमिश्नर ने निर्देश दिए कि अधिकारी ग्रामीण क्षेत्रों में जाकर वनाधिकार पत्रों के निरस्त प्रकरणों का परीक्षण करें, उनका सत्यापन करे तथा परीक्षण कर प्रकरणों को ऑनलाईन अपलोड़ करना भी सुनिश्चित करे। कमिश्नर ने निर्देश दिए कि सभी अधिकारियों को वनाधिकार अधिनियम के नियमों की समुचित जानकारी होनी चाहिए।  इसके लिए सभी अधिकारी वनाधिकार अधिनियम के नियमों का गहन अध्ययन भी करें। बैठक में बताया गया कि शहडोल संभाग में वनाधिकार अधिनियम के अर्न्तगत लगभग 28 हजार अमान्य दावें है। जिसमें 14 हजार दावे उमरिया जिले से संबंधित है। बैठक में आदिमजाति कल्याण विभाग द्वारा संचालित मदद योजना की प्रगति की समीक्षा करते हुए कमिश्नर ने कहा कि मदद योजना






नशामुक्ति व भिक्षावृत्ति रोकने संबंधित विभाग मिलकर करें प्रभावी कार्यवाही-कलेक्टर

नशामुक्ति व भिक्षावृत्ति रोकने संबंधित विभाग मिलकर करें प्रभावी कार्यवाही-कलेक्टर
बाल संरक्षण समिति की बैठक में महिला एवं बालको के संरक्षण एवं उत्थान हेतु लिए गए कई निर्णय
शहडोल |


 

    जिला पंचायत अध्यक्ष श्री नरेन्द्र सिंह मरावी एवं कलेक्टर श्री ललित दाहिमा की उपस्थिति में जिला बाल संरक्षण समिति की बैठक कलेक्टर कार्यालय के सभागार में सम्पन्न हुई। बैठक में पिछली बैठक के पालन प्रतिवेदन पर चर्चा गई। बैठक में महिलाओं एवं बालको के संरक्षण व उत्थान हेतु विभिन्न बिंदुओं पर विस्तार से चर्चा गई तथा उनके उत्थान हेतु अनेक निर्णय लिए गए। इस मौके पर मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री पार्थ जायसवाल, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री प्रवीण शूरिया, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ0 राजेश पाण्डेय, जिला कार्यक्रम अधिकारी मनोज ललोरकर, सहायक संचालक महिला बाल विकास श्री अखिलेश मिश्रा, प्रभारी उप संचालक सामाजिक न्याय श्री संतोष चौधरी, जिला श्रम पदाधिकारी श्रीमती संध्या सिंह, अधीक्षिका बलिका संप्रेक्षण गृह सुश्री शिवानी मौर्य सहित बाल कल्याण समिति के सदस्य, किशोर न्याय बोर्ड के सदस्य, शिवालय शिशु गृह आदि संस्थाओं के सदस्य उपस्थित थे।
        बैठक में पिछली बैठक के पालन प्रतिवेदन पर चर्चा की गई। बताया गया कि पिछली बैठक में सम्प्रेक्षण गृह में सी.सी. टी.व्ही. लगाने, सम्प्रेषण गृह में शिक्षारत बालिकाओं की पढ़ाई बाधित न हो, इसके लिए एक शिक्षक की वैकल्पिक व्यवस्था, नवीन बाल गृह संस्था बनाने का प्रस्ताव, गार्ड रूम, शौचालय, बाउड्रीबाल की उचाई बढ़ाने, भवन मरम्मत हेतु प्रस्ताव भेजा गया है। जिसकी स्वीकृति आने पर शीघ्र कार्य प्रारंभ कराया जायेगा। बैठक में सीड्ब्ल्यूसी के सदस्यों ने सुझाव दिया कि जिले में छोटे बच्चो द्वारा भिक्षावृत्ति एवं नशे के सेवन की अधिकता पाई जा रही है। जिसे रोकने हेतु समुचित कार्यवाही की जानी चाहिए। इस पर कलेक्टर श्री दाहिमा ने महिला बाल विकास, स्वास्थ्य विभाग, श्रम विभाग, पंचायत एवं सामाजिक न्याय विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया कि वे मुख्य कार्यपालन अधिकारी की देख-रेख में इन कुरीतियों को रोकने मिलकर सामूहिक प्रभावी कार्यवाही करना सुनिश्चित करें।
    बैठक में समिति के सदस्यों ने बलात्कार पीडि़त प्रसूता को मदद दिलाने तथा उसके पुर्नउत्थान संबंधी किए जाने वाले कार्य की मॉग की गई। जिस पर कलेक्टर ने आदिम जाति कल्याण विभाग से संकटापन्न मद के तहत 10 हजार रूपये की राशि दिलाने के निर्देश के साथ अन्य आवश्यक मदद शीघ्र दिलाने का अश्वासन दिया। कलेक्टर ने सदस्यों की मॉग पर ग्रामीण क्षेत्रों में महिलाओं एवं बच्चों के उत्थान एवं विकास हेतु जन जागरूकता लाने के भी निर्देश देते हुए हास्टर केयर एवं स्पॉसरशिप योजना से पात्र हितग्राहियों को लाभान्वित कराने एवं उक्त योजनाओं में शासन से प्राप्त वजट का पूरा-पूरा उपयोग करने के निर्देश महिला एवं बाल विकास अधिकारी को दिए। कलेक्टर ने कहा है कि बच्चो एवं महिलाओं के हितो की कोई भी योजना छूटे नही उनका भरपूर उपयोग कर पात्र बच्चों एवं महिलाओं को उनके हितलाभों से लाभान्वित कराना सुनिश्चित करें। कलेक्टर ने कहा है कि इन योजनाओं को पायलट प्रोजेक्ट के रूप में एक ब्लॉक में प्रारंभ कर लागू कराऍ तथा फिर अन्य ब्लॉको में भी उसे क्रियान्वित कराना सुनिश्चित करें। बैठक में जिला बाल संरक्षण इकाई, जिला संरक्षण समिति, विशेष किशोर पुलिस इकाई, चाईल्ड हेल्पलाइन, सम्प्रेषण गृह तथा किशोर न्याय बोर्ड, बाल कल्याण समिति स्पॉसरशिप योजना आदि की विस्तार से जानकारी ली गई एवं उनके कार्यो की समीक्षा की गई।
        बैठक में बताया गया कि जिले में संचालित बालिका सम्प्रेक्षण गृह में शहडोल, रीवा, सागर एवं जबलपुर संभाग के 21 जिलो के विधि विबादित बालिकाओं को प्रवेश दिया जाता है। संस्था में 6 वर्ष से 18 वर्ष तक की उम्र के बालिकाओं की जॉच लंबित होने तक सम्प्रेक्षण गृह में रखा जाता है। जहॉ उनके शिक्षण, प्रशिक्षण, स्वास्थ्य की सुविधा प्रदान की जाती है। इसी प्रकार जिले में महिला बाल विकास मंत्रालय भारत सरकार के अंतर्गत सीएआरए (केन्द्रीय दत्तक ग्रहण अभिकरण) के द्वारा सतगुरू मिशन द्वारा संचालित विशेष दत्तक गृहण एंजेसी को सितम्बर 2012 से मान्यता प्रदान की गई है। जिसमें देखरेख एवं संरक्षण की आवश्यता वाले 0 से 6 वर्ष तक के बालको चाईल्ड़ लाइन, सामाजिक संस्था द्वारा बाल कल्याण समिति को 24 घण्टे के भीतर प्रस्तुत किया जाता है। बाल कल्याण समिति के द्वारा लीगल फ्री करने उपरांत बच्चे दत्तक गृहण करने हेतु उपलब्ध होते है। अभी तक शिशु गृह में 56 बच्चो को प्रवेशित किया गया है।



नगर पालिका परिषद शहडोल के अध्यक्ष के विरूद्ध अविश्वास प्रस्ताव के संबंध में वस्तुस्थिति

















  •  




























नगर पालिका परिषद शहडोल के अध्यक्ष के विरूद्ध अविश्वास प्रस्ताव के संबंध में वस्तुस्थिति
-
शहडोल | 


 

    कलेक्टर एवं विहित प्राधिकृत अधिकारी जिला शहडोल श्री ललित दाहिमा द्वारा मुख्य नगर पालिका अधिकारी जिला शहडोल मध्यप्रदेश को पत्र जारी करते हुए सूचित किया गया है कि नगर पालिका शहडोल के अध्यक्ष के विरूद्व पूर्व में दिनांक 25 अक्टूबर 2019 को नगरपालिका की धारा 47 (1) के अंतर्गत अविश्वास प्रस्ताव प्रस्तुत किया गया था। शासन के राजपत्र की सूचना दिनांक 09 अक्टूबर 2019 द्वारा नगरपालिका अधिनियम 1961 की धारा 47 को विलोपन करने के कारण उक्त अविश्वास प्रस्ताव मानने योग्य नही था, जिस पर माननीय हाईकोर्ट द्वारा निर्णय प्रदाय किया जा चुका है। पुनः नगरपालिका परिषद शहडोल के पार्षद गणों द्वारा हस्ताक्षरित प्रस्ताव के द्वारा नगरपालिका अध्यक्ष के विरूद्व अविश्वास प्रस्ताव की सूचना दिनांक 20 नवम्बर 2019 को नगरपालिका अधिनियम 1961 की धारा 43(क) में पुनः दी गई है। जो प्रथम दृश्दया स्वीकार हेतु प्रतीत होती है। चूंकि वर्तमान में प्रभावशील धारा 43 श्कश् अन्तर्गत प्रथम बार सूचना दी है। अतः इस पर किसी प्रकार का विधिक प्रश्न उत्पन्न नही होता है, तदानुसासर नगरपालिका अध्यक्ष एवं संबंधित पार्षदांे को संदर्भित पत्र के संबंध मे सूचित करने का कष्ट करें।






पंचायतों के निर्वाचन क्षेत्रों के आरक्षण स्थगित

















  •  




























पंचायतों के निर्वाचन क्षेत्रों के आरक्षण स्थगित
-
 


 

 भोपाल-   अपर मुख्य सचिव मध्यप्रदेश शासन पंचायत एंव ग्रामीण विकास के हवाले से  प्रतत जानकारी के अनुसार त्रिस्तरीय पंचायत आम चुनाव 2019-20 पंचों, सरपंचांे, जनपद पंचायत के निर्वाचन क्षेत्र एवं अध्यक्ष तथा जिला पंचायत निर्वाचन क्षेत्र के आरक्षण हेतु जारी कार्यक्रम (समयसारणी) आगामी आदेश तक स्थागित कर दिया गया है।






महिलाओं एवं बालकों के संरक्षण के हितार्थ विभिन्न योजनाओं के फ्लैक्स, बैनर एवं पोस्टर लगाए जाने के कलेक्टर ने दिए निर्देश

महिलाओं एवं बालकों के संरक्षण के हितार्थ विभिन्न योजनाओं के फ्लैक्स, बैनर एवं पोस्टर लगाए जाने के कलेक्टर ने दिए निर्देश
-
शहडोल | 


 

     कलेक्टर श्री ललित दाहिमा ने बाल संरक्षण समिति की बैठक में सदस्यों द्वारा यह बात संज्ञान में लाये जाने पर कि  महिलाओं एवं बालको के कल्याण के लिए संचालित विभिन्न विभागों द्वारा योजनाओं से संबंधित जानकारियां प्रचारित-प्रसारित नही की जाती है। तत्संबंध में कलेक्टर ने उन विभागीय अधिकारियों जिनके विभाग द्वारा महिला एवं बालकों के कल्याण की योजनाएं  संचालित की जाती है। वे उससे संबंधित योजनाओं की विस्तृत जानकारी सार्वजानिक स्थलों बस स्टैंड, रेल्वे स्टेशन, कलेक्ट्रेट परिसर सहित अन्य दृष्टतम स्थानों में आवश्यक रूप से फ्लैस्क एंव बैनर लगाकर उन जानकारियों से अवगत कराने के निर्देश दिए है।



अंश कुमार एवं सुर्य कुमार सोनी को कलेक्टर ने दिलाई स्पॉन्सर योजना का लाभ

अंश कुमार एवं सुर्य कुमार सोनी को कलेक्टर ने दिलाई स्पॉन्सर योजना का लाभ
-
शहडोल | 


 

    कलेक्टर श्री ललित दाहिमा के विशेश प्रयास से एवं जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सहयोग से शहडोल जिले के बालक सुर्य कुमार सोनी उम्र 14 वर्ष, कुमार सोनी उम्र 8 वर्ष माता श्रीमती सावित्री सोनी पिता स्वर्गीय श्री उमेश सोनी को समेकित बाल संरक्षण योजना के तहत स्पॉन्सरशिप योजना का लाभ दिलाया गया है।
       जिला बाल संरक्षण अधिकारी एवं जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास ने जानकारी दी है कि कलेक्टर के संज्ञान में उक्त प्रकरण आने पर उनके द्वारा विशेष प्रयास कर प्रकरण जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के माध्यम से महिला एवं बाल विकास विभाग को अग्रेशित किया गया। जिसमें विभाग द्वारा चाइल्ड लाइन के सहयोग से बच्चों को बालश्रम से मुक्त कराते हुए बाल कल्याण समिति के माध्यम से जिला बाल संरक्षण इकाई को प्रस्तुत किया गया योजना के प्रावधान अंतर्गत दोनों बालकों को उनके पालन पोषण शिक्षा एवं उनके देखरेख हेतु प्रति बालक प्रतिमाह 2 हजार रूपयें अल्पकालिक स्थाई तौर पर दिया जा रहा है। उक्त राशि माह नवंबर 2019 से माता-पिता एवं पालक के खाते में प्रतिमाह स्थानांतरित की जा रही है।



वनाधिकार के निरस्त प्रकरणों का तेजी से निराकरण सुनिश्चित कराऍः- कमिश्नर वनाधिकार अधिनियम के नियमों की जानकारी अधिकारियों को नही होने पर कमिश्नर ने व्यक्त की नाराजगी

वनाधिकार के निरस्त प्रकरणों का तेजी से निराकरण सुनिश्चित कराऍः- कमिश्नर
वनाधिकार अधिनियम के नियमों की जानकारी अधिकारियों को नही होने पर कमिश्नर ने व्यक्त की नाराजगी
शहडोल | 


 

  कमिश्नर शहडोल संभाग श्री आर.बी. प्रजापति ने वनाधिकार अधिनियम के अर्तगत किसानेां से प्राप्त निरस्त दावों का पुनः परीक्षण कर ऐसे, सभी प्रकरणों को तेजी से निराकरण करने के निर्देश शहडोल संभाग के सभी अनुविभागीय राजस्व अधिकारियों, सहायक आयुक्त आदिवासी विकास, अनुविभागीय वन अधिकारियों और जनपद पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों केा दिए। कमिश्नर ने अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि वनवासियों को वनाधिकार पटटों का वितरण शासन का प्राथमिकता वाला कार्य है इस कार्य में किसी प्रकार भी की उदासीनता और गतिरोध होने पर संबंधित विभागीय अधिकारियों की जवाबदेही तय की जाएगी तथा उनके विरूद्ध सख्त कार्यवाही की जायेगी । कमिश्नर ने शहडोल संभाग के सभी अनुविभागीय राजस्व अधिकारियों अनुविभागीय वन अधिकारियों, जनपदों के मुख्य कार्यपालन अधिकारियो, को निर्देश दिए कि निरस्त दावों का पुनःपरीक्षण कर ऑनलाईन अपलोड़ करने का कार्य संबंधित विभाग के सभी अधिकारियों की संयुक्त जबावदेही है। कमिश्नर ने कहा कि शहडोल संभाग के आगामी 7 दिवसों में कार्य पूर्ण हो जाना चाहिए। कमिश्नर ने निर्देश दिए कि अधिकारी ग्रामीण क्षेत्रों में जाकर वनाधिकार पत्रों के निरस्त प्रकरणों का परीक्षण करें, उनका सत्यापन करे तथा परीक्षण कर प्रकरणों को ऑनलाईन अपलोड़ करना भी सुनिश्चित करे। कमिश्नर ने निर्देश दिए कि सभी अधिकारियों को वनाधिकार अधिनियम के नियमों की समुचित जानकारी होनी चाहिए।  इसके लिए सभी अधिकारी वनाधिकार अधिनियम के नियमों का गहन अध्ययन भी करें। बैठक में बताया गया कि शहडोल संभाग में वनाधिकार अधिनियम के अर्न्तगत लगभग 28 हजार अमान्य दावें है। जिसमें 14 हजार दावे उमरिया जिले से संबंधित है। बैठक में आदिमजाति कल्याण विभाग द्वारा संचालित मदद योजना की प्रगति की समीक्षा करते हुए कमिश्नर ने कहा कि मदद योजना के क्रियान्यन के शहडोल संभाग के जिन विकासखण्डों में उक्त योजना संचालित है उन विकासखण्ड़ों के गॉवों में मुखिया का चयन हो जाना चाहिए तथा कैंडर आदि की कार्यवाही समय पर हो जाना चाहिए। समीक्षा के दौरान कमिश्नर ने जनपद पंचायत पुष्पराजगढ़ और बुढ़ार में  मदद योजना के क्रियान्यन हेतु मुखिया का चयन तेजी से करने के निर्देश अधिकारियों को दिए। बैठक में सहायक आयुक्त आदिवासी विकास श्री आर.के. श्रोती, सहायक आयुक्त आदिवासी विकास श्री आनन्द राय, सहायक आयुक्त आदिवासी विकास अनुपूर श्री डीएस राव, अनुविभागीय राजस्व अधिकारी जैतपुर श्री धर्मेन्द्र मिश्रा, अनुविभागीय राजस्व जयसिंहनगर श्री सतीश राय, अनुविभागीय अधिकारी वन श्री मान सिंह मरावी, जनपद पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारी, वन परिक्षेत्र अधिकारी भी उपस्थित रहें।



दिसम्बर में सभी अवकाश दिनों में बिजली बिल भुगतान केन्द्र खुलेंगे

दिसम्बर में सभी अवकाश दिनों में बिजली बिल भुगतान केन्द्र खुलेंगे
-
सागर | 


 

 

 


    मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के कार्य-क्षेत्र के अंतर्गत 3 दिसम्बर (स्थानीय अवकाश), 14 दिसम्बर (द्वितीय शनिवार) और सभी रविवार एवं 25 दिसम्बर (क्रिसमस) को बिल भुगतान केन्द्र सामान्य कार्य दिवसों की तरह कार्य करते रहेंगे। भोपाल शहर वृत्त के अंतर्गत चारों शहर संभाग यथा पश्चिम, पूर्व, दक्षिण तथा उत्तर संभाग के अंतर्गत सभी जोनल कार्यालय और दानिश नगर, मिसरोद, मण्डीदीप में बिल भुगतान केन्द्र उक्त छुट्टी के दिन भी सामान्य कार्य दिवस की तरह खुले रहेंगे।
    बिजली उपभोक्ताओं से अपील की गई है कि वे राजधानी के जोनल आफिस में राउंड दि क्लॉक चेक से बिल भुगतान और भोपाल शहर में अरेरा कालोनी, एम.पी. नगर, टी.टी. नगर, वल्लभ नगर, गोविंदपुरा, शक्तिनगर, विद्यानगर, रॉयल मार्केट, राज होम्स, शाहपुरा, रचना नगर, बस स्टैण्ड, कोटरा, बैरागढ़, चॉंदबढ़, करौंद, शिवाजी नगर, सुल्तानिया, छोला एवं जहॉंगीराबाद पर लगी ए.टी.पी. मशीन में भी बिल भुगतान कर सकते हैं। कंपनी ने यह भी निर्देश दिए हैं कि कंपनी कार्यक्षेत्र के सभी 16 जिलों में बिजली वितरण केन्द्र/बिल भुगतान केन्द्र अवकाश के दिनों में खुले रखने के संबंध में सभी मैदानी महाप्रबंधकों को निर्देशित किया गया है।




कलेक्टर की अध्यक्षता में हुई रोगी कल्याण समिति की बैठक -

कलेक्टर की अध्यक्षता में हुई रोगी कल्याण समिति की बैठक
-
छतरपुर | 


 

 

 


   

     कलेक्टर मोहित बुंदस की अध्यक्षता में शनिवार, 30 नवम्बर को कलेक्टर कार्यालय के सभागार में रोगी कल्याण समिति की कार्यकारणी सभा की बैठक आयोजित की गई। बैठक में जिला अस्पताल की व्यवस्थाओं में सुधार एवं अन्य विषयों पर निर्णय लिए गए।
बैठक में सिविल सर्जन डा. आर.एस. त्रिपाठी ने बताया कि नवीन अस्पताल भवन में आई.सी.यू., बर्नवार्ड एवं एन.आर.सी. में मरीजों को हॉस्पिटल एक्वायर्ड इंफेक्शन से बचाने हेतु एल्यूमीनियम पार्टिशन किए जाएंगे। उन्होंने हॉस्पिटल में साफ-सफाई बनाए रखने के लिए फ्लोर क्लीनिंग मशीन का प्रस्ताव समिति के सामने रखा, जिसको कलेक्टर द्वारा स्वीकृति प्रदान की गई। साथ ही कलेक्टर ने निर्देशित किया कि वाटर कूलर एवं अन्य आवश्यक मैन्टेनेंस और रखरखाव का व्यय सीएसआर फंड से किया जा सकता है।
बैठक में सघन मिशन इन्द्रधनुष 2.0 अभियान की समीक्षा भी की गई। कलेक्टर ने निर्देशित किया कि मिशन के प्रति ज्यादा से ज्यादा लोगों को जागरूक किया जाए। अभियान के बेहतर क्रियान्वयन के लिए कोई भी सेशन आंगनबाड़ी में न कराया जाए तथा हर सेशन का नियमित फीडबेक लिया जाए।

कायाकल्प योजना की हुई समीक्षा

    जिला चिकित्सालय के डा. अरूण देव शर्मा ने समिति के सदस्यों को कायाकल्प योजना के प्रावधानों के बारे में बताया। कायाकल्प योजना में जिले का धीमा प्रदर्शन देखकर कलेक्टर ने बैठक में उपस्थित सदस्यों से कहा कि कायाकल्प का कार्य जिस गति से होना चाहिए था, उस गति से नहीं हो रहा है। इसलिए जरूरी है के समिति के सदस्य अपने स्तर पर बेहतर निर्णय लेना शुरू करें ताकि काम में विलंब न हो।
    यातायात संकुलन और चिकित्सालय के आसपास सफाई रखने की दृष्टि से कलेक्टर ने निर्देशित किया कि जिला अस्पताल का पुराना गेट बंद करके मुख्य द्वार से आना जाना शुरू करें।
कलेक्टर ने बताया कि रोगी कल्याण समिति स्वास्थ्य सेवाओं का एक महत्वपूर्ण अंग है। इससे मरीजों के लिए बेहतर चिकित्सा सुविधाओं का सृजन किया जा सकता है।  
    बैठक में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, सिविल सर्जन, मुख्य नगर पालिका अधिकारी, महिला बाल विकास अधिकारी सहित समिति के अन्य सदस्य मौजूद थे।




जिले में हुआ जेण्डर संवेदीकरण कार्यशाला का आयोजन

















  •  




























जिले में हुआ जेण्डर संवेदीकरण कार्यशाला का आयोजन
 
छतरपुर | 


 

 

 


   

        महिला एंव बाल विकास विभाग के तत्वाधान में महिला एवं बाल विकास अधिकारी संजय कुमार जैन के निर्देशन में शासकीय महारानी लक्ष्मी बाई हायर सेकंडरी स्कूल छतरपुर में बेटी बचाओ बेटी, पढाओ योजनांतर्गत सम्मान, सुरक्षा, स्वरक्षा संवाद थीम पर जेण्डर संवेदीकारण कार्यशाला का आयोजन किया गया ।
        कार्यक्रम में महिला एवं बाल विकास विभाग से प्राची सिंह चंदेल, प्रषासक वन स्टॉप सेन्टर, प्रदीप रिछारिया, एवं मनोज साहू उपस्थित रहे साथ ही विद्यालय से प्राचार्य सरिता अग्रवाल एवं अन्य स्टॉफ उपस्थित रहा। कार्यक्रम के प्रथम सत्र में बेटी बचाओं, बेटी पढाओ योजनांतर्गत सम्मान, सुरक्षा, स्वरक्षा संवाद कार्यक्रम अंतर्गत जेण्डर संवेदीकरण पर चर्चा की गई। कार्यक्रम में छात्राओं को बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना के उद्देष्य के बारे में विस्तार से बताया गया एवं जिले में शिशु लिंगानुपात संबंधी आंकडो के बारे में बताया गया।
        छात्राओं को बताया गया कि समाज में कुछ ऐसी घटनाएं घटी है कि लोगों की मानसिकता पुरूष प्रधान, पितृ सत्तातमक हो गई है। इस मानसिकता को परिवर्तन करने की आवश्यकता है। केवल कानून या दण्डात्मक कार्यवाही करने से अपराधों को रोका नहीं जा सकता है। इसके लिए लोगों में मानसिकता परिवर्तन लाने की आवश्यकता है। उपस्थित छात्राओं ने विभिन्न प्रकार के प्रश्न पूछे,, जिनका उत्तर प्राची सिंह द्वारा दिया गया।  
         छात्राओं को गुड टच एवं बैड टच के बारे में भी बताया गया। छात्राओं को समझाया गया कि अन्याय, अत्याचार और अनाचार का विरोध करना सीखना होगा। विद्यालय की छात्राओं से आव्हान किया कि यहां से संकल्प लेकर जाये कि, वे स्वयं न अत्याचार सहेंगी और न ही आने वाली पीढी को सहने देंगी। कार्यक्रम में लाडो अभियान अंतर्गत बाल विवाह क्या है, बाल विवाह के दुष्परिणाम एवं बाल विवाह की सूचना प्राप्त होने पर क्या कार्यवाही की जा सकती है के बारे में बताया गया। कार्यक्रम के द्वितीय सत्र में  लैंगिक अपराधों से बालकों के संरक्षण अधिनियम 2012 पर विस्तार से चर्चा की गई। छात्राओं को कैरियर से संबंधित जानकारी भी प्रदाय की गयी। तथा बाल हिंसा यौन उत्पीडन के संबंध में भी विस्तार से बताया गया। कार्यक्रम में नवमी, दसवीं, ग्यारवीं, एवं बारहवीं विभिन्न संकाय की लगभग 400 छात्राएं उपस्थित रहीं।  







एग्री व्यापार एप से सही कीमत मिलेगी किसानों को

एग्री व्यापार एप से सही कीमत मिलेगी किसानों को
-
छतरपुर | 


 

 

 


   

      किसानों को फसल की सही कीमत दिलाने के लिये विपणन संघ द्वारा एग्री व्यापार एप लांच किया गया है। किसानों के लिए ऐसी व्यवस्था का क्रियान्वयन किया जा रहा है जिससे किसान अपनी गुणवत्ता उपज की जानकारी देकर उनकी सही कीमत प्राप्त कर सकें। जिससे ई-पेमेन्ट के माध्यम से उपज को विक्रय कर उसकी सही राशि कृषकों को दी जाएगी। कृषक अपनी उपज को देश के किसी भी स्थान से एग्री व्यापार के माध्यम से विक्रय कर सकेंगे।
      एग्री व्यापार एप में कोई भी सहकारी समिति का सदस्य कृषक भाई अपना पंजीयन करा सकते है। इसके लिए एप में रजिस्ट्रेशन पेज पर अपना नाम, पता समिति सदस्य पंजीयन क्रमांक फसल एवं फसल प्रदाय का विवरण भरना होगा। संबंधित समिति द्वारा ऑनलाइन नीलामी के लिए जानकारी प्रेषित की जाएगी। इसके बाद व्यवसाई एवं अन्य खरीददार देश में कहीं से भी बोली लगा सकते है। उपज में नीलामी की राशि एसएमएस के माध्यम से किसानों के मोबाइल पर भेजी जाएगी। किसान की सहमति उपरांत ही उपज का विक्रय किया जाएगा।




दस्तक अभियान का द्वितीय चरण 17 दिसम्बर से 18 जनवरी तक -

दस्तक अभियान का द्वितीय चरण 17 दिसम्बर से 18 जनवरी तक
-
छतरपुर | 


 

 

 


   

      शासन के निर्देशानुसार दस्तक अभियान का द्वतीय चरण 17 दिसम्बर 2019 से प्रारंभ होकर 18 जनवरी 2020 तक जिले में संचालित किया जायेगा। सर्वे कार्य में शहरी क्षेत्रों पर विशेष ध्यान रखा जाएगा। साथ ही शिक्षा एवं महिला बाल विकास विभाग द्वारा बच्चों की सूची प्राप्त की जाकर सर्वे सूची से मिलान किया जाएगा। शहरी क्षेत्रों में दस्तक अभियान के लिए मुख्य नगर पालिका अधिकारियों से आवश्यक सहयोग लिए जाने के निर्देश दिए गए हैं।
    दस्तक अभियान के दौरान 9 माह से 5 वर्ष तक के बच्चों को दी जाने वाली विटामिन ए के सेवन से बच्चों के शरीर का संक्रमण और बीमारी से बचाव, वृद्धि एवं विकास में सहायक तथा आखों को स्वस्थ और क्रियाशील बनाये रखने में सहायक होता है।




डिजिटल जाति प्रमाण पत्र जारी किए जाने के संबंध में निर्देश

डिजिटल जाति प्रमाण पत्र जारी किए जाने के संबंध में निर्देश
-
छतरपुर | 


 

 

 


   

      सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग एवं विमुक्त, घुमक्कड़, अर्द्ध घुमक्कड़ जाति के व्यक्तियों को डिजिटल जाति प्रमाण पत्र जारी किए जाने के संबंध में सभी संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं।
   अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग एवं विमुक्त, घुमक्कड़, अर्द्ध घुमक्कड़ जाति के ऐसे व्यक्ति जिनको पूर्व में मेनुअल जाति प्रमाण पत्र जारी किए गए हैं, उन्हें लोक सेवा गारंटी अधिनियम के तहत अधिसूचित सेवा में डिजिटल प्रमाण पत्र प्राप्त करने के लिए मेनुअल मूल जाति प्रमाण पत्र संलग्न करने की आवश्यकता नहीं है। आवेदक मूल जाति प्रमाण पत्र की जगह, मूल जाति प्रमाण पत्र की स्व-प्रमाणित छायाप्रति संलग्न कर सकते हैं।




संभाग स्तरीय दिव्यांग क्रिकेट प्रतियोगिता 2 दिसंबर को -

संभाग स्तरीय दिव्यांग क्रिकेट प्रतियोगिता 2 दिसंबर को
-
रीवा | 


 

 

 


   


     दिव्यांगों को हर क्षेत्र में आगे बढ़ने का अवसर देने के लिए विश्व विकलांग दिवस पर 3 दिसंबर को विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किये जा रहे हैं। रीवा में 2 दिसंबर को संभाग स्तरीय दिव्यांग क्रिकेट प्रतियोगिता आयोजित की जा रही है। इस संबंध में रीवा संभाग के कमिश्नर डॉ. अशोक कुमार भार्गव ने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिये हैं। क्रिकेट प्रतियोगिता 2 दिसंबर को सुबह 10 बजे से विश्व विद्यालय स्टेडियम रीवा में आयोजित होगी। इसकी विजेता टीम को 3 दिसंबर विश्व विकलांग दिवस पर कृष्णा राजकपूर आडिटोरियम में आयोजित संभाग स्तरीय समारोह में पुरस्कृत किया जायेगा। सभी संबंधित अधिकारी खेल प्रतियोगिता के लिए दिये गये निर्देशों के अनुसार आवश्यक प्रबंध करें।





गांधी दर्शन यात्रा पहुंची मझिगवां तथा गोरगांव -

गांधी दर्शन यात्रा पहुंची मझिगवां तथा गोरगांव
-
रीवा | 


 

 

 


   

    महात्मा गांधी के 150वें जन्मदिवस से जुड़े कार्यक्रम आयोजित किये जा रहे हैं। इस क्रम में मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ की मंशा के अनुसार रीवा जिले में 25 नवम्बर से गांधी दर्शन यात्रा आयोजित की जा रही है। यह यात्रा 30 नवम्बर को गोरगांव तथा मझिगवां पहुंची। इसमें शामिल प्रचार वाहनों द्वारा एलसीडी के माध्यम से गांधी जी के जीवन पर आधारित लघु फिल्में दिखाई गई। यात्रा में शामिल कला दलों द्वारा नुक्कड़ नाटक के माध्यम से स्कूलों तथा छात्रावास में गांधी जी के विचारों एवं कार्यों का प्रचार प्रसार किया गया। इन कार्यक्रमों का बड़ी संख्या में आमजनों ने लाभ उठाया।




संयुक्त सलाहकार समिति की बैठक 19 दिसंबर को

















  •  




























संयुक्त सलाहकार समिति की बैठक 19 दिसंबर को
 
रीवा | 


 

 

 


   

    जिला स्तरीय संयुक्त सलाहकार समिति की बैठक 19 दिसंबर को आयोजित की गई है। बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में प्रात: 11 बजे आरंभ होगी। बैठक की अध्यक्षता कलेक्टर ओमप्रकाश श्रीवास्तव करेंगे। बैठक में अधिकारियों तथा कर्मचारियों से संबंधित बिन्दुओं पर विभागों द्वारा की गई कार्यवाही की समीक्षा की जायेगी। अपर कलेक्टर श्रीमती इला तिवारी ने सभी कार्यालय प्रमुखों को गत बैठक के निर्णयों का पालन प्रतिवेदन 16 दिसंबर तक कलेक्ट्रेट कार्यालय में उपलब्ध कराने के निर्देश दिये हैं। उन्होंने सभी मान्यता प्राप्त कर्मचारी संगठनों के प्रतिनिधियों एवं संबंधित अधिकारियों से बैठक में उपस्थित रहने का अनुरोध किया है।







अनुसूचित जाति वर्ग के युवाओं को प्रशिक्षण का अवसर

















  •  




























अनुसूचित जाति वर्ग के युवाओं को प्रशिक्षण का अवसर
-
रीवा | 


 

 

 


   


    जिला अंत्यावसायी सहकारी समिति द्वारा अनुसूचित जाति वर्ग के युवक-युवतियों को कौशल उन्नयन प्रशिक्षण का अवसर दिया जा रहा है। इसके तहत रिटेल सेल्स एसोसिएट, हाउस कीपर, सिलाई मशीन चलाने तथा घरेलू कामकाज का प्रशिक्षण दिया जायेगा। इस संबंध में कार्यपालन अधिकारी जिला अंत्यावसायी समिति एम.पी. पाठक ने बताया कि प्रशिक्षण में शामिल होने के लिए आयु 18 से 35 वर्ष होना आवश्यक है। प्रशिक्षण के आवेदन पत्र के साथ सक्षम अधिकारी द्वारा जारी जाति प्रमाण पत्र, निवास प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र तथा शैक्षणिक योग्यता प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना आवश्यक है। प्रशिक्षण के लिए न्यूनतम योग्यता 8वीं कक्षा पास निर्धारित की गई है। शिक्षित बेरोजगार तथा शालात्यागी युवाओं को प्राथमिकता दी जायेगी। इसके लिए पात्र आवेदक 3 दिसंबर तक कलेक्ट्रेट कार्यालय रीवा के कमरा नंबर-3 जिला अंत्यावसायी सहकारी समिति कार्यालय में आवेदन कर सकते हैं।








आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग का प्रमाण पत्र तत्काल जारी करें - कलेक्टर















 


























आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग का प्रमाण पत्र तत्काल जारी करें - कलेक्टर
 
रीवा | 


 

 

 


   


     कलेक्टर ओमप्रकाश श्रीवास्तव ने सभी तहसीलदारों को आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग का प्रमाण पत्र पात्रतानुसार तत्काल जारी करने के निर्देश दिये हैं। उन्होंने कहा है कि हाल ही में मध्यप्रदेश लोक सेवा आयोग द्वारा प्रारंभिक चयन परीक्षा का विज्ञापन प्रकाशित किया गया है। इसमें पात्र आवेदक अपने आवेदन पत्र दाखिल कर रहे हैं। आर्थिक रूप से कमजोर आय वर्ग के भी उम्मीदवार परीक्षा में शामिल होने के लिए आवेदन पत्र दर्ज कर रहे हैं। इन्हें आर्थिक रूप से कमजोर आय वर्ग का प्रमाण पत्र आवेदन करने पर तत्काल जारी करें। इसमें विलंब करने से उम्मीदवार प्रतियोगी परीक्षा में शामिल होने से वंचित हो सकता है। आपके द्वारा समय पर जारी किया गया प्रमाण पत्र किसी प्रतिभाशाली उम्मीदवार को आगे बढ़ने का अवसर दे सकता है।
    कलेक्टर ने कहा है कि सभी एसडीएम आर्थिक रूप से कमजोर आय वर्ग का प्रमाण पत्र जारी करने की नियमित समीक्षा करें। यदि किसी तहसील में तहसीलदार पदस्थ नहीं है तो आसपास की तहसील के तहसीलदार की ड्यूटी इस कार्य के लिए लगायें। इस संबंध में किसी भी तरह की शिकायत मिलने पर कड़ी कार्यवाही की जायेगी।








शहर की यातायात व्यवस्था को दुरूस्थ करने हेतु निर्णय लिए गए सडक सुरक्षा समिति की बैठक संपन्न

















  •  




























शहर की यातायात व्यवस्था को दुरूस्थ करने हेतु निर्णय लिए गए
सडक सुरक्षा समिति की बैठक संपन्न
सतना | 


 

    सासंद श्री गणेश सिंह की अध्यक्षता में शनिवार को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में सडक सुरक्षा समिति की बैठक संपन्न हुई। बैठक में शहर की यातायात व्यवस्था, पार्किंग व्यवस्था, सडकों के चौडीकरण, वाहन चालकों के प्रशिक्षण एवं नेत्र परीक्षण के संबंध में चर्चा की गई। बैठक में विधायक अमरपाटन सर्वश्री रामखेलावन पटेल, महापौर श्रीमती ममता पाण्डेय, जिला पंचायत सदस्य उमेश प्रताप सिंह, कलेक्टर डॉ0 सतेन्द्र सिंह, पुलिस अधीक्षक रियाज इकबाल, आयुक्त नगर निगम अमनवीर सिंह बैस, आरटीओ संजय श्रीवास्तव, यातायात प्रभारी हिमाली सोनी, अनुविभागीय अधिकारी पी0एस0 त्रिपाठी, सुश्री संस्कृति शर्मा, श्रीमती साधना परस्ते सहित यातायात समिति के पदाधिकारीगण उपस्थित थे।
    बैठक में कहा गया कि शहर में आटो रिक्शा की बढती संख्या के मद्देनजर ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्र के लिए अलग-अलग परमिट जारी किए जाएं तथा इन पर सतत निगरानी रखी जाए। हाईवे पर बडे वाहनों को खडा नहीं होने दिया जाए, बडे वाहनों को खडा करने के लिए अलग से पार्किंग स्थल तय किया जाए। वाहन चालकों द्वारा नियमों का पालन नहीं करने पर सख्त कार्यवाही करने, मण्डी जाने वाले वाहनों के लिए अलग से रूट/सडके भी बनाए जाने के निर्देश बैठक मंे दिए गए। बैठक में शहर की सडकों की मरम्मत कराने, मुख्य सडकों पर अनावश्यक वाहन नहीं खडा होने देने के संबंध में भी चर्चा कर आवश्यक निर्णय लिए गए।
    कलेक्टर ने आटो चालक संघ के अध्यक्ष से कहा कि वे गाइडलाइन के अनुसार शहर की यातायात व्यवस्था बनाने एवं शहर को स्मार्ट सिटी बनाने के लिए आटो चालकों को समझाईस दें, कि वे यातायात नियमों का पालन करें और वर्दी पहनकर आटो चलाएं तथा निर्धारित स्थान पर ही आटो को खडा करें। पुलिस अधीक्षक श्री इकबाल ने बताया कि वाहनों को निर्धारित स्थल पर ही खडा करें। वाहन चालकों द्वारा यातायात का नियमों का पालन नहीं किये जाने पर उनके विरूद्ध दण्डात्मक कार्यवाही की जाएगी। वाहन चालक नशे में वाहन नहीं चलाएं। यदि ऐसा करते वाहन चालक पाए गए तो उनके विरूद्ध कार्यवाही की जाएगी। यातायात प्रभारी ने बताया कि बस स्टैण्ड में बस प्रवेश होने एवं बाहर जाने का अलग-अलग मार्ग तय कर वन-वे मार्ग बनाया जाए। बैठक में नगर निगम आयुक्त एवं आरटीओ ने भी शहर की यातायात व्यवस्था को दुरूस्थ करने हेतु सुझाव दिए।






मीडिया संवेदीकरण कार्यशाला संपन्न

मीडिया संवेदीकरण कार्यशाला संपन्न
-
सतना | 


 

    सघन मिशन इन्द्रधनुष 0.2 कार्यक्रम के अंतर्गत शनिवार को जिला चिकित्सालय के एसएनसीयू के सभाकक्ष में मीडिया कार्यशाला संपन्न हुई। कार्यशाला में टीकाकरण अधिकारी डॉ0 सतेन्द्र सिंह ने बताया कि मिशन इन्द्रधनुष का प्रथम चरण जिले में 2 दिसम्बर से 12 दिसम्बर तक चलेगा। अभियान के तहत टीकाकरण से छूटे हुए बच्चोें को टीके लगाए जाएंगे। टीकाकरण में महिला बाल विकास एवं स्वास्थ्य विभाग की टीम संयुक्त रूप से कार्य करेंगी। उन्होंने बताया कि बच्चों को 11 प्रकार के टीके लगाए जाते हैं। इन टीकों के लग जाने से बच्चों को कई प्रकार की बीमारियों से बचाया जा सकता है। टीकाकरण अधिकारी ने मीडिया कर्मियों से कार्यक्रम का व्यापक प्रचार प्रसार करने एवं सहभागिता निभाने का आग्रह किया।
    जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला बाल विकास श्री सौरभ सिंह ने बताया कि बच्चों का मानसिक विकास 2 वर्ष की आयु तक तीव्र गति से होता है। इस आयु के बच्चों को स्वस्थ्य रखने हेतु पोषण आहार एवं समय-समय पर लगने वाले टीके लगवाएं जाए जिससे बच्चे स्वस्थ्य रहे। उन्होंने बताया कि अभियान को सफल बनाने में मीडिया कर्मियों की अहम भूमिका रहती है। अभियान में मीडिया कर्मियों का सहयोग आपेक्षित है। क्योंकि प्रचार-प्रसार से लोगों में जन-जागृति आती है। इस मौके पर सिविल सर्जन डॉ एस0बी0 सिंह, श्री अरूणेश तिवारी सहित विभागीय अधिकारी एवं मीडिया कर्मी उपस्थित थे।



ग्रामीण महिलाओं का ‘‘ब्यूटी पार्लर’’ प्रशिक्षण संपन्न

















  •  




























ग्रामीण महिलाओं का ''ब्यूटी पार्लर'' प्रशिक्षण संपन्न
-
सतना | 


 

    इलाहाबाद बैंक ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान में जिले के ग्रामों की 33 महिलाओं का 30 दिवसीय ब्यूटी पार्लर प्रशिक्षण शनिवार को संपन्न हुआ। इस मौके पर मुख्य अतिथि सर्वश्री जनार्दन दत्त तिवारी, क्षेत्रीय प्रबंधक तथा मध्यांचल ग्रामीण बैंक के अधिकारी उपस्थित थे। प्रशिक्षण कार्यक्रम में अतिथियों द्वारा महिलाओं को स्वरोजगार की दिशा में अपना उज्जवल भविष्य बनाने हेतु मार्गदर्शित किया गया। साथ ही महिलाओं को ईमानदारी और मेहनत के साथ इस दिशा में आगे बढने हेतु प्रेरित किया गया। कार्यक्रम में महिलाओं को जीवन में आगे बढने एवं उनकी बदलती हुई स्थिति के बारे में बताया गया। प्रशिक्षण में कहा गया कि यदि किसी प्रशिक्षणार्थी को व्यवसाय आरंभ करने में पूंजी की कमी आए तो वे मध्यांचल ग्रामीण बैंक की किसी भी शाखा से ऋण राशि प्राप्त कर सकती हैं। कार्यक्रम में संस्थान के निदेशक श्री गोपाल कुमार द्वारा प्रशिक्षणार्थियांे की लगन एवं निष्ठा की सराहना की गई। कार्यक्रम के अंत में सभी प्रतिभागियों को अतिथियों द्वारा प्रमाण-पत्र वितरित किए गए।






एफएक्यू गुणवत्ता के धान उपार्जन के लिये निर्धारित तिथि में वृद्धि

एफएक्यू गुणवत्ता के धान उपार्जन के लिये निर्धारित तिथि में वृद्धि
-
बैतूल | 


 

    राज्य शासन ने खरीफ विपणन मौसम वर्ष 2019-20 में एफएक्यू गुणवत्ता का धान उपार्जित करने के उद्देश्य से उपार्जन प्रारंभ करने की तारीख को 25 नवम्बर से बढ़ाकर 2 दिसम्बर, 2019 कर दिया है। खाद्य-नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण विभाग द्वारा जारी आदेश के अनुसार प्रदेश में निरंतर वर्षा होने से धान में नमी का अंश भारत सरकार द्वारा निर्धारित एफएक्यू की सीमा से अधिक हो गया था। इस कारण उपार्जन शुरू करने की तारीख बढ़ाई गई है।



दो अधिकारियों को कारण बताओ नोटिस जारी

















  •  




























दो अधिकारियों को कारण बताओ नोटिस जारी
-
बैतूल | 


 

   कलेक्टर श्री तेजस्वी एस. नायक ने मुलताई तहसीलदार श्री सुधीर जैन को फसल नुकसानी के सर्वेक्षण के संंबंध में निर्देशों का पालन नहीं करने एवं नायब तहसीलदार सुश्री याचिका परतेती को प्रभातपट्टन तहसील कार्यालय में उपस्थित रहकर कार्य नहीं करने के संबंध में कारण बताओ नोटिस जारी किया है।






जिला स्तरीय कहानी उत्सव 02 दिसंबर को

















  •  




























जिला स्तरीय कहानी उत्सव 02 दिसंबर को
-
बैतूल | 


 

जिला परियोजना समन्वयक जिला शिक्षा केन्द्र श्री आईडी बोडख़े से प्राप्त जानकारी के अनुसार जिला स्तरीय कहानी उत्सव प्रतियोगिता 02 दिसंबर को शासकीय महारानी लक्ष्मीबाई कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में प्रात: 11 बजे से आयोजित की जाएगी। विकासखण्ड स्तर पर चयनित प्रतिभागी जिला स्तरीय कहानी उत्सव में भाग लेंगे। प्रतिभागी अपने साथ लिखित में कहानी लेकर आएंगे एवं आयोजन स्थल पर जमा करेंगे।






पीएचई मंत्री श्री सुखदेव पांसे ने दो सडक़ों का भूमिपूजन किया -

पीएचई मंत्री श्री सुखदेव पांसे ने दो सडक़ों का भूमिपूजन किया
-
बैतूल | 


 

    प्रदेश के लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री श्री सुखदेव पांसे ने शनिवार 30 नवंबर को विकासखण्ड प्रभातपट्टन के ग्राम मालेगांव में मध्यप्रदेश ग्रामीण संपर्कता योजना के तहत 70.67 लाख से निर्मित होने वाली गौनापुर से मालेगांव तक 2.475 किमी लंबी सडक़ एवं 40.77 लाख की लागत से निर्मित होने वाली विकटघाट से गौनापुर तक 1.175 किमी लंबी सडक़ का भूमिपूजन किया। 



उपार्जन कार्य में किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं- कलेक्टर श्री सक्सेना















 


























उपार्जन कार्य में किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं- कलेक्टर श्री सक्सेना
 
नरसिंहपुर | 


 

    कलेक्टर श्री दीपक सक्सेना ने धान उपार्जन के संबंध में कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित बैठक में कहा सभी समितियां उपार्जन संबंधी व्यवस्थाएं सुदृढ़ कर लें। दो दिसम्बर से धान खरीदी की जायेगी। अधिकारियों के दल समितियों का निरीक्षण करेंगी। इस अवसर पर अपर कलेक्टर श्री मनोज कुमार ठाकुर, जिला पंचायत सीईओ श्री केके भार्गव, डिप्टी कलेक्टर श्री डीएस तोमर सहित सभी एसडीएम, जिला आपूर्ति अधिकारी, नागरिक आपूर्ति निगम और संबंधित विभाग के अधिकारी मौजूद थे।
         बैठक में श्री सक्सेना ने कहा कि नोडल अधिकारी उनके क्षेत्रों के उपार्जन केन्द्रों का सतत भ्रमण करेंगे एवं उपार्जन व्यवस्था, तथा उपार्जित स्कंध की गुणवत्ता की निगरानी करेंगे। यह कार्य उपार्जन सम्पन्न होने तक निरंतर जारी रहेगा। किसी भी प्रकार की लापरवाही नहीं बरती जाये, इसका भी विशेष ध्यान रखा जाये। अन्यथा कठोर अनुशासनात्मक कार्रवाई की जायेगी। संदिग्ध गतिविधियों की जानकारी अपने वरिष्ठ अधिकारियों के संज्ञान में तत्काल लायें। साथ ही किसानों से चर्चा करते रहें।
         उपार्जन केन्द्रों पर भौतिक एवं अन्य सुविधाएं, उपार्जित मात्रा की सही प्रविष्टि एवं गुणवत्ता, नियंत्रात्मक कार्यवाही व क्रियान्वयन उपायुक्त सहकारिता एवं महाप्रबंधक जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित नरसिंहपुर द्वारा सुनिश्चित की जाये। उपार्जन केन्द्र पर मानव संसाधन, इलेक्ट्रानिक उपकरण, बिजली, जनसुविधाएं, डाटा एंट्री ऑपरेटर, सर्वेयर, तुलाई, परिवहन, पर्याप्त बारदाने उपलब्ध हो आदि व्यवस्थाएं सुनिश्चित करें। इसके अलावा सर्वेयर केन्द्रों पर उपलब्ध रहें, उनका प्रशिक्षण हो






मातृ वंदना योजना संबंधी बैठक दो दिसम्बर को

















  •  




























मातृ वंदना योजना संबंधी बैठक दो दिसम्बर को
-
नरसिंहपुर | 


 

     जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास नरसिंहपुर ने बताया कि प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना अंतर्गत 2 दिसम्बर से 8 दिसम्बर के मध्य "मातृ वंदना सप्ताह" का आयोजन किया जाना है। जिस हेतु कलेक्टर श्री दीपक सक्सेना की अध्यक्षता में 2 दिसम्बर को टीएल बैंक उपरांत नरसिंह भवन कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में बैठक आयोजित की जा रही है।






अतिक्रमण के प्रकरण में हो अधिकतम वसूली

















  •  




























अतिक्रमण के प्रकरण में हो अधिकतम वसूली
 
नरसिंहपुर | 


 

    कलेक्टर श्री दीपक सक्सेना की अध्यक्षता में राजस्व अधिकारियों, जनपद पंचायत सीईओ की संयुक्त बैठक आयोजित की गई। इसमें अपर कलेक्टर श्री मनोज कुमार ठाकुर, जिला पंचायत सीईओ श्री केके भार्गव, डिप्टी कलेक्टर श्री डीएस तोमर सहित सभी एसडीएम मौजूद थे।
         कलेक्टर श्री सक्सेना ने कहा कि शासकीय भूमि पर अतिक्रमण के प्रकरणों में अधिकतम वसूली सुनिश्चित की जाये। तहसीलदार अपनी रिपोर्ट में इसका विशेष रूप से उल्लेख करें। साथ ही रिपोर्ट में अतिक्रामक को इंगित करते हुए उल्लेख करें कि सात दिवस के भीतर अतिक्रमण हटाया जाये। जिन प्रकरणों में कम राशि अधिरोपित की गई है, उसकी पुन: समीक्षा करना सुनिश्चित करें। पटवारी अपने हल्का मुख्यालय पर मौजूद रहें, इसके भी विशेष निर्देश बैठक में उन्होंने दिये। प्रतिमाह की 24 तारीख को पटवारी डेली डायरी प्रस्तुत करेंगे। डेली डायरी प्रस्तुत नहीं करने पर समानूपातिक वेतन कटोती की जायेगी। अच्छा कार्य करने वाले पटवारी को कलेक्टर श्री सक्सेना की तरफ से सम्मानित भी किया जायेगा।
         बैठक में उन्होंने सभी जनपद पंचायत सीईओ को निर्देश देते हुए कहा कि सचिव अपने पंचायत मुख्यालय में रहेंगे। मास्टर रोल का वाचन किया जायेगा और निराश्रित पेंशन का वैरीफिकेशन भी किया जायेगा। सचिव अपने पंचायत मुख्यालय पर अगर नहीं रहते हैं, तो वेतन कटोती करने के निर्देश सभी जनपद पंचायत सीईओ को दिये।






सफल उद्यमी की कहानी "खुशियों की दास्तां"

सफल उद्यमी की कहानी "खुशियों की दास्तां"
-
नरसिंहपुर | 


 

    मजदूरी करने वाली श्रीमती माया बाई चौधरी ने कभी सोचा नहीं था कि उनकी स्वयं की मनिहारी एवं किराना दुकान होगी। जनपद पंचायत चीचली की ग्राम कनवास में रहने वाली श्रीमती माया बाई चौधरी अपनी आर्थिक स्थिति मजदूर करने का निरंतर ख्याल करती थी, किंतु कुछ सकारात्मक पहल नहीं हो पा रही थी। आजीविका मिशन की जानकारी उन्हें मिली और वैभव लक्ष्मी नामक स्वसहायता समूह से जुड़ी। इससे प्राप्त ऋण से उन्होंने घर पर ही छोटी सी किराने की दुकान खोली। धीरे- धीरे व्यापार बड़ता गया और उन्होंने इसे मनिहारी की दुकान में तब्दील कर लिया। उनकी बेटी ने आरसेटी के माध्यम से ड्रेस डिजायनिंग का प्रशिक्षण प्राप्त कर सिलाई का कार्य सीखा। इसके पश्चात आजीविका मिशन के माध्यम से उन्हें मुख्यमंत्री आर्थिक कल्याण योजनांतर्गत 50 हजार रूपये का ऋण बैंक से प्राप्त किया, जिससे उन्होंने सिलाई मशीन एवं दुकान के लिए कुछ कपड़ों की खरीददारी की। घर में ही संचालित दुकान में सिलाई का कार्य प्रारंभ किया। वे बताती हैं कि उनका सिलाई का कार्य अच्छा चल रहा है और लगभग 8 से 9 हजार रूपये की आय प्राप्त हो रही है। उनका बेटा आमगांव में मनिहारी की बड़ी दुकान भी संचालित कर रहा है। वे और उनका परिवार आजीविका मिशन का धन्यवाद कर रहा है।



उड़द, मूंग की राशि भुगतान की मिली स्वीकृति

उड़द, मूंग की राशि भुगतान की मिली स्वीकृति
-
नरसिंहपुर | 


 

     विधानसभा अध्यक्ष श्री नर्मदा प्रसाद प्रजापति के विशेष प्रयासों से नरसिंहपुर जिले में अपग्रेड उड़द एवं मूंग की राशि 10 करोड़ रूपये तक की मध्यप्रदेश स्टेट सिविल सप्लाईज द्वारा भुगतान करने की स्वीकृति प्रदान की गई है।
         श्री बीके चंदेल उप सचिव, मध्यप्रदेश शासन, खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण विभाग द्वारा बताया गया कि खरीफ विपणन वर्ष 2018- 19 में प्राईस सपोर्ट स्कीम अंतर्गत समर्थन मूल्य पर नरसिंहपुर जिले में उपार्जित उड़द एवं मूंग के अपग्रेडेशन उपरांत एफएक्यू उड़द- मूंग की राशि का भुगतान किसानों को किये जाने के संबंध में सहमति/ अनुमोदन चाहा गया था।
         उक्त आधार पर विधानसभा अध्यक्ष श्री प्रजापति के निर्देशन में अपग्रेड की गई उड़द 1699.01 मे. टन एवं मूंग 51.00 मे. टन की राशि लगभग 10 करोड़ रूपये किसानों को भुगतान की कार्यवाही पर प्रमुख सचिव, खाद्य की प्रमुख सचिव, किसान कल्याण एवं कृषि विकास विभाग से चर्चा की और आगामी केबिनेट में मध्यप्रदेश स्टेट सिविल सप्लाईज कार्पोरेशन के इस प्राप्त प्रस्ताव को सम्मिलित करने की बात कही।



प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन पेंशन योजना की शिविर लगाकर दी गई जानकारी

प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन पेंशन योजना की शिविर लगाकर दी गई जानकारी
-
बालाघाट | 


 

 

 


   


     कलेक्टर श्री दीपक आर्य के निर्देश पर आज 30 नवंबर को श्रम विभाग द्वारा नगर पालिका परिषद कार्यालय बालाघाट एवं गुजरी चौक बालाघाट में शिविर लगाकर श्रमिकों को प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना की जानकारी दी गई और उनसे कहा गया कि वे इस योजना में पंजीयन कराकर इसका अधिक से अधिक लाभ उठायें।  
     नगरपालिका परिषद बालाघाट में प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन पेंशन योजना के प्रचार-प्रसार के लिए श्रम पदाधिकारी श्री पी.एल.पिछोड़े एवं श्रम निरीक्षक राकेश ठाकरे द्वारा नगरपालिका परिसर (कालीपुतली चौक) तथा पुराना राम मंदिर (लेबर चौक) में योजना अन्तर्गत लगभग 300-400 श्रमिकों की उपस्थिति में जानकारी दी गई। जिसमें बताया गया कि ऐसे श्रमिक जिनकी आयु 18 से 40 वर्ष हो एवं जिनकी मासिक आय 15 हजार से अधिक न हो तथा ईपीएफ/ एनपीएस/ईएसआईसी तथा आयकर दाता के अधीन न आते हो, वे पात्रता रखते है। जिसमें श्रमिको को रूपये 55 से 200 रुपये प्रतिमाह श्रमिको को कामन सर्विस सेन्टर में जाकर आवश्यक दस्तावेज बैंक पास बुक की छायाप्रति (बचत/जनधन खाते के दस्तावेज), आधार कार्ड एवं पासपोर्ट साईज फोटो के साथ अपना पंजीयन कर सकते है। इस दौरान नगरपालिका बालाघाट से श्री भुपेन्द्र लोहिया योजना शाखा प्रभारी, श्री प्रहलाद रानाड़े सुपरवाईजर, श्री साधुराम चमकेल स्वास्थ्य शाखा के प्रभारी भी उपस्थित थे।





कृषि विज्ञान केंद्र, द्वारा कोस्ते में लगाया गया पशु स्वास्थ्य चिकित्सा शिविर 350 पशुओं का किया गया उपचार

















  •  




























कृषि विज्ञान केंद्र, द्वारा कोस्ते में लगाया गया पशु स्वास्थ्य चिकित्सा शिविर
350 पशुओं का किया गया उपचार
बालाघाट | 


 

 

 


   


     राणा हनुमान सिंह कृषि विज्ञान केंद्र बड़गांव, बालाघाट द्वारा दिनांक 30 नवंबर 2019 को ग्राम कोस्ते में निकरा परियोजना के तहत पशु स्वास्थ्य चिकित्सा शिविर का आयोजन किया गया। कृषि विज्ञान केंद्र लगातार कृषि एवं कृषि से संबंधित अन्य व्यवसायों जैसे पशुपालन आदि में लगातार किसानों को अपनी सेवाएं प्रदान करता रहा है। इसी कड़ी में ग्राम कोस्ते में पशु चिकित्सा शिविर का आयोजन किया गया।
     कार्यक्रम में गांव के समस्त किसानों के पशुओं का टीकाकरण एवं स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं का निराकरण किया गया। कृषि विज्ञान केन्द्र की ओर से पशुओं की भूख बढ़ाने एवं दुध का उत्पादन बढ़ाने के विषय पर जानकारी और उसमें आने वाली समस्याओं के समाधान की जानकारी कृषकों को प्रदान की गई। साथ ही शिविर में आये सभी कृषकों के पशुओं की बारीकी से जॉच करते हुए पशुओं में लगने वाले जुएं एवं पेट की क्रमि के निराकरण के लिए आवश्यक दवाओं का वितरण भी किया गया। कार्यक्रम में पशुओं में आने वाली अन्य बीमारियां जैसे- खुरपका, मुंहपका, गलघोटू, जहरी बुखार आदि के लक्षणों को पहचानने उनकी रोकथाम एवं उनके प्राथमिक उपचार के विषय में कृषकों को विस्तार पूर्वक जानकारी प्रदान की गई।
     कार्यक्रम में आये कृषकों को पशुओं की भूख बढ़ाने एवं उनमें होने वाली पोषण तत्वों की कमी को दूर करने के लिए सप्लीमेंट्री फीड और मिनरल मिक्सचर ब्रिक्स के विक्रय भी प्रदान किये गये। इसके साथ-साथ कार्यक्रम में आये किसानों को कृषि विज्ञान केन्द्र, बड़गांव, बालाघाट के वरिष्ठ वैज्ञानिक एवं प्रमुख  डॉ. आर.एल. राऊत के द्वारा पशुओं की देख-रेख एवं उनके प्रबंधन से संबंधित आवश्यक जानकारी भी दी गई साथ ही समय-समय पर पशुओं में आने वाली समस्याओं एवं बीमारियों को पहचानने व उनकी रोकथाम के विषय में भी डॉ. राऊत द्वारा विस्तार पूर्वक जानकारी प्रदान की गई। डॉ. राऊत द्वारा पशुओं को खिलाने के लिए हरे चारे जैसे बरसीम, नेपियर घास, मक्खन ग्रास आदि के विषय में उनके पोषक तत्वों और उनके उत्पादन की विस्तृत जानकारी भी प्रदान की गई।
     कार्यक्रम के दौरान कृषि महाविद्यालय, बालाघाट से डॉ. अनिल गिरी भी उपस्थित रहें। डॉ. गिरी ने कृषकों के पशुओं की समस्याओं का बारीकी से अध्ययन करते हुए उनकी जांच कर कृषकों को आवश्यक दवाईयां वितरीत की साथ ही पशुओं की भूख बढ़ाने व उनमें होने वाले पोषक तत्वों की कमी को दूर करने के लिए सप्लीमेंट्री सीड भी प्रदान किया। कार्यक्रम में कृषि विज्ञान केन्द्र के वरिष्ठ अनुसंधान अध्येता श्री हेमंत राहंगडाले द्वारा किसानों को हरे चारे से 'हे' तथा 'साइलेज' तैयार करने की विधि के विषय में जानकारी प्रदान की गई।
     कार्यक्रम में केन्द्र के मौसम वैज्ञानिक डॉ. धर्मेन्द्र अगासे ने भी बदलते मौसम के कारण पशुओं पर पड़ने वाले प्रतिकूल प्रभावों एवं उनकी रोकथाम के विषय में कृषकों को जानकारी प्रदान की। उक्त कार्यक्रम के दौरान गांव के सरपंच श्री मंगल खरे एवं केन्द्र के वैज्ञानिक डॉ. एस.के. जाटव, एग्रोमेट आर्ब्जवर जितेन्द्र नगपुरे एवं कृषि महाविद्यालय, बालाघाट से आये रावे के समस्त छात्र उपस्थित रहें। आयोजित शिविर में गांव के लगभग 350 से अधिक पशुओं की जांच की गई इसके अतिरिक्त दुग्ध उत्पादन में कृषकों को दूध का उत्पादन बढ़ाने के लिए भी सप्लीमेंट्री फीड कृषि विज्ञान केन्द्र द्वारा प्रदान किया गया।








गौ-रक्षा और गौ-संरक्षण के कार्यों में सहभागी बनने ऑनलाइन पोर्टल पर नागरिक कर सकेंगे दान, धारा 80जी का मिलेगा लाभ

गौ-रक्षा और गौ-संरक्षण के कार्यों में सहभागी बनने ऑनलाइन पोर्टल पर नागरिक कर सकेंगे दान, धारा 80जी का मिलेगा लाभ
-
बालाघाट | 


 

 

 


   


     राज्य शासन ने गौ-रक्षा और गौ-संरक्षण के कार्य में आम नागरिकों से सहयोग प्राप्त करने के लिए ऑनलाइन पोर्टल की शुरूआत की है। इस पवित्र कार्य में सहभागिता निभाने के इच्छुक नागरिक एवं संगठन इस ऑनलाइन पोर्टल www.gopalanboard.mp.gov.in के जरिये पंजीकृत गौशालाओं को दान कर सकते हैं।
     उप संचालक पशु चिकित्सा डॉ. विनोद वाजपेयी ने इस संबंध में बताया कि गौ-रक्षा एवं उनके पालन-पोषण में सहभागी बनने के इच्छुक गौ प्रेमी नागरिक एवं संस्थाओं को इस ऑनलाइन पोर्टल्‍ पर सहयोग राशि देने पर आयकर की धारा 80-जी का लाभ भी मिलेगा। उन्होंने बताया कि ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से प्राप्त हुई दान की राशि मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ की मंशा के अनुसार गौशालाओं हेतु चारा, भूसा, शेड, गौशाला में बोरवेल, बायोगैस संयंत्र, चारागाह विकास के कार्यों पर व्यय की जायेगी। इस ऑनलाइन पोर्टल का शुभारंभ करीब डेढ़ माह पहले मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ द्वारा भोपाल में किया गया था।  





केन्द्रीय विद्यालय मलाजखंड में मनाया गया वार्षिक खेलकूद दिवस

केन्द्रीय विद्यालय मलाजखंड में मनाया गया वार्षिक खेलकूद दिवस
-
बालाघाट 


 

 

 


   


     केन्द्रीय विद्यालय मलान्जखंड में 29 नवंबर को 9 वाँ वार्षिक खेलकूद दिवस मनाया गया।  इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि श्री  गुरुप्रसाद  उप प्रभागीय न्यायाधीश बैहर एवं श्री राधेश्याम सोलंकी उप प्रभागीय पुलिस अधिकारी बैहर ने उपस्तिथि दी। अतिथियों के स्वागत और मशाल प्रज्वलित कर कार्यक्रम का श्रीगणेश हुआ।  इस अवसर पर चारों सदनों के बच्चों ने मार्च पास्ट का प्रदर्शन कर अतिथियों को सलामी दी। इस अवसर पर विद्यालय के बच्चों ने समूह नृत्य की रंगारंग प्रस्तुति,योगाभ्यास,व्यायाम प्रदर्शन के माध्यम से  बच्चों और उपस्थितअभिभावकों का मन मोह लिया।
      खेलकूद दिवस के अवसर पर प्राथमिक कक्षों के बच्चों के लिए चाकलेट दौड़और बोरी दौड़ का आयोजन किया गया। माध्यमिक विभाग के बच्चों ने लम्बी कूद, ऊँची कूद,100 मीटर, 200 मीटर और 400 मीटर रेले रेस का आयोजन किया गया। शिक्षकों के लिए दौड़ और कुर्सी दौड़ का आयोजन किया गया। सभी विजेता को मैडल और प्रमाण पत्र प्रदान किए गये। अपने उद्बोधन में मुख्य अतिथि ने कहा कि खेलकूद  हमारे जीवन में आवश्यक है और स्वस्थ जीवन  के लिए  खेलना और व्यायाम अति आवश्यक है। बिना खेल के जीवन में उन्नति नहीं हो सकती। विद्यालय प्राचार्य  श्री अमित दाहियाने अपने स्वागत भाषण के दौरान अतिथियों का स्वागत और बच्चों के कुशल भविष्य की कामना करते हुए खेलकूद और व्यायाम का महत्व बताया। इस अवसर पर विद्यालय के सभी शिक्षकों ने अपना –अपना  योगदान दिया।  मिष्ठान वितरण  के बाद कार्यक्रम का समापन हुआ।





पंधाना क्षेत्र के आंगनवाड़ी कार्यकर्ता व सहायिकाओं की अनंतिम सूची जारी दावे आपत्ति 6 दिसम्बर तक प्रस्तुत कर सकते हैं

पंधाना क्षेत्र के आंगनवाड़ी कार्यकर्ता व सहायिकाओं की अनंतिम सूची जारी
दावे आपत्ति 6 दिसम्बर तक प्रस्तुत कर सकते हैं
खण्डवा | 


 

 

 
      परियोजना क्षेत्र पंधाना में शुक्रवार को आंगनवाड़ी कार्यकर्ता के कुल 11 पद, सहायिका के 7 पद तथा मिनी कार्यकर्ता के 4 पदों की पूर्ति के लिए गत दिनों आवेदन आमंत्रित किए गए थे, जिनके आधार पर खण्ड स्तरीय चयन समिति की बैठक लिये गये निर्णय अनुसार पात्र चयनित अभ्यर्थियों की अनंतिम सूची तैयार की गई है। परियोजना अधिकारी एकीकृत बाल विकास परियोजना पंधाना ने बताया कि खण्ड स्तरीय चयन समिति द्वारा अनंतिम सूची तैयार की गई है। इस सूची के संबंध में किसी को दावे आपत्ति प्रस्तुत करना हो तो वह अपनी आपत्ति 6 दिसम्बर तक सायं 5 बजे तक प्रस्तुत कर सकते है। अनंतिम सूची की छायाप्रति कार्यालय के सूचना बोर्ड पर चस्पा कर दी गई है




प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना का जिला स्तरीय सम्मेलन सम्पन्न असंगठित श्रमिकों को बांटे गए पंजीयन कार्ड

 
खण्डवा | 


 

 

 


   

    प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना में पंजीकृत असंगठित श्रमिकों के साथ ही कॉमन सर्विस सेंटर का एक दिवसीय सम्मेलन शनिवार को गौरीकुंज सभागृह खंडवा में आयोजित किया गया। इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि जिला पंचायत मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री रोशन सिंह उपस्थित थे। इस अवसर जिला श्रम अधिकारी श्री ए.एस. अलावा, श्री उदय कुमार खोत शाखा प्रबंधक भारतीय जीवन बीमा निगम खंडवा, सीएससी डिस्टिक मैनेजर श्री सुरजीत राय मौजूद थे। इस अवसर पर मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री सिंह ने सम्मेलन में पंजीकृत श्रमिकों से योजना की जानकारी प्राप्त कर उन्हें कार्ड भी प्रदान किये गये। जिन श्रमिकों को ये कार्ड वितरित किए गए है, उनमें खालवा के पंकज प्रजापति, कमलेश बलाही शामिल है।
    इस अवसर पर जिला पंचायत मुख्य कार्यपालन श्री सिंह ने कि भारत सरकार की असंगठित श्रमिकों के भविष्य को लेकर बहुत ही महत्वपूर्ण योजना है, इस योजना का अधिक से अधिक प्रचार प्रचार किया जाए। साथ ही खंडवा जिले के सभी असंगठित श्रमिकों का इस योजना में पंजीयन किया जाए। उन्होंने कहा कि अगले 7 दिनों में जिले की सभी जनपद पंचायतों में इसी तरह के कार्यक्रम आयोजित कर असंगठित श्रमिकों का पंजीयन किया जाये तथा श्रमिकों को पंजीयन कार्ड वितरित किए जायें। उन्होंने जिला श्रम अधिकारी को निर्देश दिए कि सभी जनपद पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों से चर्चा कर विकासखण्ड स्तरीय कार्यक्रम आयोजित करें तथा ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार गारंटी योजना के तहत पंजीबद्ध श्रमिकों को भी इस योजना में शामिल करें। उन्होंने नगरीय निकायों व जनपद पंचायतों के माध्यम से सभी ग्रामीण व शहरी क्षेत्र में प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना का प्रचार प्रसार कराने के निर्देश भी दिए।
    जिला श्रम अधिकारी श्री अलावा ने बताया कि प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना अन्तर्गत असंगठित श्रमिकों को अपनी आयु अनुसार प्रीमियम देना होगी। इस योजना में 18 वर्ष के श्रमिकों को प्रतिमाह 55 रुपये, 19 वर्ष के श्रमिकों को 58,  20 वर्ष के श्रमिकों को 61, 21 वर्ष के श्रमिकों को 64, 22 वर्ष के श्रमिकों को 68, 23 वर्ष के श्रमिकों को 72,  24 वर्ष के श्रमिकों को 76,  25 वर्ष के श्रमिकों को 80, 26 वर्ष के श्रमिकों को 85, 27 वर्ष के श्रमिकों को 90,  28 वर्ष के श्रमिकों को 95, 29 वर्ष के श्रमिकों को 100, 30 वर्ष के श्रमिकों को 105,  31 वर्ष के श्रमिकों को 110, 32 वर्ष के  श्रमिकों  को 120,  33 वर्ष के श्रमिकों को 130, 34 वर्ष के श्रमिकों को 140,  35 वर्ष के श्रमिकों को 150, 36 वर्ष के श्रमिकों को 160, 37 वर्ष के श्रमिकों को 170, 38 वर्ष के श्रमिकों को 180, 39 वर्ष के




पूरक पोषण आहार के परिवहन के लिए दरें आमंत्रित -

पूरक पोषण आहार के परिवहन के लिए दरें आमंत्रित
-
खण्डवा 


 

 

 


   

    खण्डवा जिले में संचालित 3 बाल विकास परियोजनाओं के कार्यालय गोदाम से खालवा, बलड़ी व खण्डवा शहरी क्षेत्र में संचालित आंगनवाड़ी केन्द्रों तक पूरक पोषण आहार के परिवहन के लिए दरें आमंत्रित की है। प्रभारी जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला बाल विकास श्रीमती हेमलता सोलंकी ने बताया कि 100 रूपये प्रति क्विंटल प्रति आंगनवाड़ी केन्द्र प्रतिमाह की सीमा में खालवा, बलड़ी व खण्डवा शहरी परियोजनाओं के लिए पोषण आहार परिवहनकर्ताओ या वाहन मालिकों से निविदा प्रकाशन के 7 दिवस की समय सीमा में परिवहन दरें आमंत्रित की है। उन्होंने बताया कि इच्छुक टेक होम राशन परिवहनकर्ता अधिक जानकारी जिला कार्यक्रम अधिकारी एकीकृत बाल विकास सेवा सिविल लाइन खण्डवा से कार्यालयीन समय में कार्य दिवसों में प्राप्त कर सकता है। श्रीमती सोलंकी ने बताया कि खालवा में 338 आंगनवाड़ी केन्द्र तथा 13 मिनी आंगनवाड़ी केन्द्र है। इसी प्रकार बलड़ी में 64 आंगनवाड़ी केन्द्र तथा 3 मिनी आंगनवाड़ी केन्द्र, जबकि खण्डवा शहरी में 172 आंगनवाड़ी केन्द्र संचालित है।




आदिवासी की जमीन गैर आदिवासी को बेचने पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा जिलों के कलेक्टर भी नहीं दे सकेंगे अनुमति

आदिवासी की जमीन गैर आदिवासी को बेचने पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा
जिलों के कलेक्टर भी नहीं दे सकेंगे अनुमति
 


 

 

 


   


 भोपाल-   अनुसूचित क्षेत्रों में आदिवासियों की जमीन गैर आदिवासियों को बेचने की अनुमति देने संबंधी जो भ्रम और अफवाह फैलायी जा रही है, वह सरासर गलत है। राज्य शासन ने ऐसा कोई निर्णय नहीं लिया है। मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने कहा है कि प्रदेश में आज भी आदिवासी की जमीन गैर आदिवासी को बेचने पर पूर्ण प्रतिबंध है। आदिवासियों के सभी हितों का संरक्षण करने के लिए सरकार कटिबद्ध है। मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने कहा कि यह भ्रम फैलाया जा रहा है कि मध्यप्रदेश सरकार ने अनुसूचित क्षेत्रों में आदिवासियों की जमीन गैर आदिवासियों को बेचने की अनुमति दे दी है। यह अफवाह निहित स्वार्थी तत्वों द्वारा फैलायी जा रही है, जो न केवल असत्य है बल्कि आधारहीन भी है। मध्यप्रदेश में आदिवासियों की जमीन किसी गैर आदिवासी को बेचने की अनुमति नहीं हैं और न ही इस प्रावधान में कोई बदलाव किया गया है।
    प्रदेश के अनुसूचित आदिवासी क्षेत्रों में भू-राजस्व की संहिता की धारा 165 के अनुसार किसी आदिवासी की जमीन किसी गैर आदिवासी को बेचने पर पूर्ण प्रतिबंध है और जिले के कलेक्टर भी इसकी अनुमति नहीं दे सकते। मध्यप्रदेश सरकार आदिवासियों के समस्त हितों का संरक्षण करने के लिए कटिबद्ध है और ऐसा कोई कदम कभी नहीं उठायेगी, जो प्रदेश के आदिवासियों के हित में न हो। मुख्यमंत्री ने कहा कि मध्यप्रदेश सरकार ने जो सामान्य सा बदलाव किया है और जिसको लेकर भ्रम और अफवाह फैलायी जा रही है वह सिर्फ यह है कि अनुसूचित क्षेत्रों में गैर आदिवासी द्वारा गैर आदिवासी की जमीन खरीदने के बाद डायवर्सन के लिए जो समय-सीमा थी, उसे समाप्त किया गया है।





स्पीकर बॉक्स निर्माण का धंधा शुरू किया तो, महेश के परिवार हुआ खुशहाल "खुशियों की दास्तां"

स्पीकर बॉक्स निर्माण का धंधा शुरू किया तो, महेश के परिवार हुआ खुशहाल "खुशियों की दास्तां"
-
खण्डवा |


 

 

 


   

   

प्रदेश सरकार द्वारा संचालित मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना की मदद से प्रदेश के हजारों बेरोजगार युवा आत्मनिर्भर हो चुके है। इन्हीं में से एक है खण्डवा निवासी महेश नागनपुरी, जिन्होंने कि स्पीकर बॉक्स निर्माण का व्यवसाय इस योजना में मिली 9 लाख रू. की मदद से शुरू किया है। महेश बताते है कि पढ़ाई पूरी करने के बाद उसका सपना था कि अपना खुद का व्यवसाय प्रारंभ करें, लेकिन आर्थिक स्थिति बहुत अच्छी नही थी, इसलिए खुद का धंधा शुरू नही कर पा रहा था। वह किसी अन्य के यहां नौकरी करना नही चाहता था, इसलिए वह एक दिन दोस्तों की सलाह पर वह जिला उद्योग केन्द्र गया और वहां स्वरोजगार योजनाओं के संबंध में पूछताछ की तो उसे मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना की जानकारी मिली, जिसके आधार पर उसने अपने मनपसंद व्यवसाय स्पीकर बॉक्स निर्माण के लिए आवेदन कर दिया।
     कुछ ही दिनों में महेश का प्रकरण मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना के तहत स्वीकृत हो गया, जिसके आधार पर नर्मदा झाबुआ ग्रामीण बैंक ने उसे 9 लाख रू. का ऋण दे दिया। इस राशि से महेश ने धंधा शुरू किया, जो धीरे धीरे चल निकला। अब महेश बैंक का ऋण नियमित रूप से चुका रहा है, इसके बावजूद भी हर महीने 35 से 40 हजार रूपये की मासिक आय उसे नियमित रूप से हो जाती है, जिससे परिवार का पालन पोषण बेहतर ढंग से वह कर पा रहा है। महेश और उसका परिवार अब बहुत खुश




स्कूलों में स्वास्थ्य जागरूकता कार्यक्रम सम्पन्न

स्कूलों में स्वास्थ्य जागरूकता कार्यक्रम सम्पन्न
 
खण्डवा | 


 

 

 


   


     कन्या महाविद्यालय और सेंट पायस स्कूल खंडवा में शनिवार को निरोगी काया अभियान के तहत् तम्बाकू नोडल अधिकारी डॉ. जीएस छाबड़ा द्वारा विद्यार्थियों को तम्बाकू एंव तम्बाकू से बने पदार्थ के सेवन करने से होने वाले दुष्परिणमों की जानकारी दी गई। उन्होंने बताया कि तम्बाकू निकोटिन खाने से व्यक्ति को नशे का आदि बना देता है। तम्बाकू सेवन से शरीर के हर अंग को कैसर से खतरा होता है तथा पुरूषों में नपुंसकता व शुक्राणुओं की कमी होती है। डॉ. छाबड़ा ने बताया कि तम्बाकू खाने व सिगरेट पीने की आदत छोडने के लिए टोल फ्री नं. 1800112356 प्रातः 8 बजे से रात्री 8 बजे तक सम्पर्क कर जानकारी प्राप्त कर सकते है।  सार्वजनिक स्थान जैसे शासकीय, अर्धशासकीय कार्यालयो, शालाओ, अस्पतालो, मनोरंजन केन्द्र, सभागृह, न्यायालय परिसर, पुस्तकालय, लोक परिवहन रेल्वे स्टेशन रेस्टोरेंट, प्रतिक्षालय व अन्य कार्य स्थल मे धूम्रपान करना एवं सेवन करना प्रतिबंधित है तथा ऐसे स्थानों पर ध्रूमपान करते पाये जाने पर रू. 200 का जुर्माना हो किया जाता है। तम्बाकू से होने वाले दुष्परिणामों पर केन्द्रित चित्रकला, निबंध और भाषण प्रतियोगिता का भी आयोजन भी स्कूलों में किया गया। इस प्रतियोगिता में प्रथम, द्वितीय तृतीय साथ ही प्राप्त करने वाले बच्चों को शील्ड व प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया।





कुपोषित बच्चों को खिलाया पोष्टिक आहार, बताया महत्व

बुरहानपुर। शहर के आलमगंज सेक्टर के अंतर्गत सिंधीपुरा आंगनवाड़ी केंद्र 4 पर बाल भोज कराया गया। कार्यकर्ता मंजू सिंह ठाकुर ने बताया गुरुवार को...