रविवार, 31 मई 2020

प्रथमपूज्य के परमभक्त प्रदीप चौधरी प्रवासी परिवारों की सेवा मे भी प्रथम (श्रीसिद्धिविनायक भक्त मंडल की सर्वत्र सराहना)


 देवास(शाकिर अली दीप) शहर और बायपास से लगे बालगढ़ के श्रीसिद्धिविनायक भक्त मंडल द्वारा अपने क्षेत्रवासियों सहित बायपास से पैदल और दूसरे साधनो से अपने घर जा रहे लाखों प्रवासी मजदूरों को भोजन,पानी,दूध,दलिया और दवाइयां देकर ,सेवा का जो श्रीगणेश किया था वह अब पहले स्थान पर बताया जा रहा है । जिसके होठों पर प्रथम पूज्य श्रीसिद्धिविनायक की जयजयकार हो/ श्रद्धा ,धन्यवाद और आत्मविश्वास की शक्ति अपार हो/दिल मे दया , सद्भावना और प्यार हो/नर के रुप मे नारायण की सेवा ही जिसका आधार हो/ उसका हर कार्य सिद्ध ,सफल और प्रसिद्ध होता है इसका प्रमाण हैं संस्था सिद्धिविनायक के संयोजक प्रदीप चौधरी और उनके सहयोगी ।


 


कोरोना संक्रमण के कारण लॉकडाउन की शुरुआत से ही आसपास की बस्तियों मे राशन के पैकेट बांटने वाले श्री सिद्धिविनायक भक्त मंडल के सदस्यों ने, प्रदीप चौधरी के नेतृत्व मे बायपास से हजारों मील दूर अपने आशियाने पर जा रहे मेहनतकश मजदूरों,उनके बच्चों और महिलाओं की सेवा का सुनहरा इतिहास बनाकर देवास की शोहरत को देश के अनेक राज्यों तक विस्तारित किया है । देवास नगर निगम के सभापति रहे ,सरल और सहयोगी किसान स्वर्गीय रतनलाल चौधरी के लाल प्रदीप चौधरी ने अपने पार्षद कार्यकाल को मेयर इन कौंसिल सदस्य रहते हुए ,यादगार बनाया और विशाल कावड़ यात्रा के आयोजन की सफलता का कीर्तिमान बनाकर श्रद्धा का सुन्दर रुप भी दिखाया । रोजाना पन्द्रह क्विंटल आटे की , खास मसाले डालकर बनायी गईं , जायकेदार पूड़ी बंटवाने वाले चौधरी कहते हैं कि हमारा भोजन पेट भरने के साथ पोष्टिक भी है जो लम्बा सफर करने वाले मजदूरों को ताकत देता है और खराब भी नहीं होता । पांच सौ पैकेट का श्रीगणेश अब पन्द्रह हजार पैकेट का प्रवाह बन गया है ।



जिसे खाने वाले श्रीसिद्धिविनायक भक्त मंडल के लिए प्रार्थना कर रहे हैं कि मानवसेवियों की सेहत और सुरक्षा बनी रहे । भोजन बनाने वाले भीषण गर्मी की परवाह किये बगैर ,पचास पचास के समूह और दो शिफ्टों मे अपनी सेवाएं दे रहे हैं । इतनी ही संख्या मे सहयोगी, पैकिंग से लेकर भोजन बांटने मे भी शामिल हैं । बीस हजार से भी ज्यादा मजदूरों को चप्पल पहनाकर खुश होने वाले प्रदीप चौधरी यह सेवा व्यक्तिगत रुप से श्री सिद्धिविनायक की कृपा और आशिर्वाद मानकर कर रहे हैं । आपने कुछ और समाजसेवी संस्थाओं को भी आटा और तेल से सहयोग देकर उनका साहस बढ़ाया है । आपके साथ समर्पित साथियों का बड़ा समूह है जिसमे पूर्व पार्षद छोटू गुर्जर भी शामिल हैं । बेहतरीन भोजन के लिये बेहतरीन किराना,आटा और तीन दिन मे समाप्त होने वाला एक हजार लीटर तेल भी शामिल है जो सीधे कम्पनी से लाया जा रहा है । प्रदीप चौधरी ने लॉकडाउन से अब तक अस्सी लाख रुपये खर्च कर दिये हैं और मानव सेवा का यह पुण्य कार्य अब भी जारी है । आपका कहना है कि मुझे यह अवसर श्रीसिद्धिविनायक और महादेव की कृपा से मिला है और इसका कोई राजनीतिक मतलब न निकाला जाए क्योंकि हजारों प्रवासी मजदूर न मेरा चेहरा जानते हैं और न मै उन्हें जानता हूं । प्रदीप चौधरी वास्तव मे जनसेवा के चैम्पियन साबित हो रहे हैं ।


लॉक डाउन में सुविधाओं का मिलना ,और हमारी सामाजिक जवाबदेही- प्रोफेसर एस. इमादउद्दीन


बुरहानपुर-  (मेहलका अंसारी)वर्तमान में केंद्र सरकार के आदेश अनुसार चरणबद्ध तरीके से लॉक डाउन को खोला जा रहा है,ये ठीक उसी तरह है कि जब हमारा बच्चा पांव पांव चलना सीखता है ,उसके बाद हम उसको चलने के लिए छुट्टे हाथ छोड़ देते हैं,जिसमे वो ठीक से चल भी सकता है और कुछ गलती होने में गिर कर चोट भी लग सकती है। प्रोफेसर एस. इमाद उद्दीन ने अपने विचार प्रकट करते हुए कहा कि हम को ये समझना होगा की सरकार ने लॉक डाउन में कुछ छूट दी है,इसका मतलब कदापि ये नही है कि कोरोना महामारी से हमको छुटकारा मिल चुका है ,बल्कि हम को यूं समझना होगा कि आज तक हम सरकार द्वारा पुलिस प्रशासन के सुरक्षा कवच में थे ,वो अब धीरे धीरे समाप्त हो रहा है ,अब हमको अपनी सुरक्षा आप ही करनी है,ऐसे में हमारी जिम्मेदारी और बढ़ जाती है,हमको बाहर निकलने पर खुद को संक्रमण से बचना भी है,और अपने परिवार और समाज के प्रति अपने दायित्व को भी बखूबी निभाना होगा ,इसका सिर्फ यही उपाए है कि शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाली दवाओं का समय समय पर सेवन मास्क और आज कल चेहरे पर लगाने का फेस शील्ड हाथ के दस्ताने सिर में डिस्पोजेबल कैप,जेब मे सेनिटाइजर छोटी बोत्तल रख कर ही घर से निकले, मार्केट में जहाँ कही भी भीड़ भाड़ जमा हो उसका हिस्सा न बने व्यापारी भाई भी अपने साथ साथ अपने पर आश्रित अपने माँ बाप पत्नी बच्चे और भाई बहन की सुरक्षा का सोच कर अपने व्यापार स्थल पर सोशल डिस्टेनसिंग और सरकार द्वारा बनाये प्रोटोकॉल का पूर्णतः पालन करें क्यो की आपका परिवार तो घर मे सुरक्षित है,मगर कही ऐसा न हो कि आपकी लापरवाही आपके घर परिवार तक संक्रमण को पहुचा सकती है!डरने की आवश्यकता नही है,बस जब तक कोरोना संक्रमण का कोई वैक्सीन नही निकल जाती तब तक हमको इसके साथ ही जीवन बिताने का आदि बनना होगा ,अपने अपने परिवार को भी ये जानकारी देते हुए ज़्यादा से ज़्यादा घर मे रहने की समझाइश देते रहे,थोड़ी सा भी स्वस्थ खराब होने पर बिल्कुल लापरवाही न करे तुरंत अपना मेडिकल चेकअप करावें ताकि समय पर सही इलाज हो सके,कोरोना से बचाव ही इसका इलाज है ! *हारेगा कोरोना जितेगा इंडिया*


लोकल को वोकल करने सांसद ने किया उद्यमियों को संबोधित। सांसद ने अपने संसदीय क्षेत्र के 300 से अधिक उद्यमियों को किया संबोधित


 बुरहानपुर-(मेहलका अंसारी) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 'आत्मनिर्भर भारत' अभियान और 'लोकल के लिए वोकल' को बल प्रदान करते हुए मध्य प्रदेश खंडवा के सांसद श्री नंदकुमार सिंह चौहान ने 1 जून को शाम 5:00 बजे अपने संसदीय क्षेत्र के उद्यमियों तथा व्यापारियों से वेबिनार के माध्यम से बातचीत की। इस दौरान उद्यमियों एवं व्यापारियों से अपनी समस्याओं को रखा तथा इसमें रोज़गार की संभावनाएं और क्या-क्या हो सकती हैं, इस पर भी अपना सुझाव रखा। इस दौरान माननीय सांसद जी ने खंडवा में होने वाले लोकल उत्पाद चाहे वह केला हो, दूध उत्पादन हो ,मिर्ची का उत्पादन हो इन तमाम चीजों के बारे में बहुत विस्तार से बताया। उन्होंने बताया कि किस तरह से नमो मंत्र फाउंडेशन नमो ग्राम मार्केट कंसेप्ट के तहत उत्पादक से लेकर उपभोक्ता के बीच में एक पुल का काम करेंगे । उन्होंने खंडवा के सभी युवा उद्यमों से अपील की कि आप आत्मनिर्भर भारत जो कि मोदी जी का एक सपना है और वोकल फॉर लोकल के लिए अपनी ऊर्जा और नई तकनीकों को सामने लाएं उसके लिए मैं आपका पूर्ण रूप से मदद करूंगा ।उन्होंने यह भी बताया कि यदि हम लोकल स्तर पर उत्पादन करेंगे तो किस तरह से रोजगार सृजन होगा । सांसद जी ने व्यापारियों का जवाब देते हुए कहा कि हम यदि इस उद्योग में ध्यान दें तो हम रोजगार सृजन कर सकते हैं। हम अपने मजबूत इच्छाशक्ति की वजह से केवल खंडवा को ही आत्मनिर्भर नहीं बनाएंगे बल्कि देश को आत्मनिर्भर बनाएंगे । आवश्यकता आविष्कार की जननी है और कोरोना के इस संकट काल को अवसर में हम किस तरह बदलकर खंडवा को एक मजबूत आर्थिक स्थिति में रख सकते हैं, पर बल दिया। माननीय सांसद जी ने यह बताया कि खंडवा में चाहे कॉटन हो ,चाहे मिर्ची हो ,चाहे केला हो, चाहे फिश हो, चाहे मेडिसिनल प्लांट हो हर चीज की बहुत अपार संभावनाएं हैं और मुझे विश्वास है कि नमो ग्राम मार्केट कंसेप्ट निश्चित तौर पर लोगों में लोकल के लिए वोकल बनाने का एक काम करेगा। सांसद जी ने आयुष मंत्रालय द्वारा गोमूत्र से रोग दूर करने की जो रिसर्च चल रही है इस पर भी अपने विचारों को रखा और कहा कि हम भी इस क्षेत्र में काम कर सकते हैं ।उन्होंने बताया कि हम चाइना को जरूर हराएंगे यदि हम सब एक साथ मिलकर इस वोकल फॉर लोकल को मजबूत करने की कोशिश करेंगे । इस दौरान खंडवा के बहुत सारे उद्यमी जैसे कि आकाश आहूजा जी , महेश सिंह चौहान जी, सफल चौधरी जी, शुभम चौकसी जी,रसिका चौकसी जी,कौशल पटेल जी,गौरव सिंह गौर जी,मनोज भंडारी जी,एवं अन्य कई व्यापारियों ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया और माननीय सांसद जी का आभार प्रकट किया कि आप अपने ही क्षेत्र के उद्यमों को इस तरह से ऊर्जा भरने का काम कर रहे हैं। बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बीते 22 मई को आत्मनिर्भर भारत अभियान और अपने लोकल उत्पादों के लिए वोकल बनने की अपील की थी। उन्होंने देश के कामगारों को रोज़गार मिल सके, इसके लिए डिमांड और सप्लाई का एक चेन बनाने की भी अपील की थी। इन्हीं विचारधारा से प्रेरित होकर खंडवा के सांसद नमो मंत्र (गूगल मीट ) के जरिए संवाद स्थापित किया। इस दौरान सांसद ने उद्यमी या व्यापारी क्षेत्र में जो भी लोकल उत्पादों पर आधारित कार्य कर रहे हैं, उसे और बेहतर कैसे बाज़ार मिल सके, इसकी संभावनाओं पर बातचीत किया । इस मौके पर सांसद ने कहा कि हमारा मकसद है कि हम और हमारे संसदीय क्षेत्र की जनता भी अपने लोकल का वैश्विक महत्व समझें, उनमें समय दें और इसमें अपने बेहतर रोज़गार को सृजित करें। उन्होंने कहा कि अपने संसदीय क्षेत्र की जनता के इस काम में मैं हर कदम पर अपने संसदीय क्षेत्र की जनता के साथ खड़ा हूं। आपको बता दें कि नमो ग्राम मार्केट की नीतियों के तहत हर ज़िले में इसके अध्यक्ष माननीय सांसद ही होते हैं। खंडवा के सांसद श्री नंदकुमार सिंह चौहान जी के निर्देश पर नमो मंत्र फाउंडेशन के सहयोग से खंडवा संसदीय क्षेत्र के 10 ऐसे लोकल उत्पाद पर शॉर्ट वीडियो फिल्म बनाई जा रही है जिसका अपना वैश्विक महत्व हो जिसका अपना मार्केट हो, और जिसमें उस जिले के अधिकांश कार्य-बल लगे हों, या और अधिक लगाए जा सकते हों। ऐसे शॉर्ट वीडियोज बनाकर उसे प्रमोट किया जाएगा, ताकि ग्रामीण-स्तर पर न केवल एक प्रतिस्पर्द्धी बाज़ार दिया जाए, बल्कि उत्पादों की खपत को सुनिश्चित करने के लिए स्थानीय स्तर से अंतरराष्ट्रीय स्तर तक एक चेन विकसित करने का प्रयास किया जा सके। सांसद ने बताया कि हम अपने 10 लोकल उत्पादों के वैश्विक महत्व को बताने के लिए उनपर वीडियो बनाने के बाद अपने संसदीय क्षेत्र में और नई दिल्ली में राष्ट्रीय स्तर पर प्रदर्शनी का आयोजन करेंगे। कहा कि इसकी खपत सुनिश्चित हो सके, इसके लिए कॉरपोरेट हाउसेस, कंपनियां, मार्केट एसोसिएशंस आदि को जोड़ेंगे, वहीं लोकल उत्पादों को सरकारी संस्थाओं से भी मदद मिले, इसके लिए संबंधित मंत्रालयों, सरकारी विभाग, सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों आदि को पत्र भेजकर सहयोग हेतु आग्रह भी करेंगे। सांसद ने प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान जी के कार्यों की भी सराहना करते हुए कहा कि हमारे मुख्यमंत्री मध्य प्रदेश में रोज़गार सृजन और बिजनेस को बढ़ावा देने के लिए प्रतिबद्ध रहे हैं।


बुरहानपुर जिले में मास्क/फेसकवर ना करने पर 379 व्यक्तियों पर की गई वसूली कार्यवाही- वसूले 37हजार 9 सौ रुपये

बुरहानपुर-(मेहलका अंसारी) कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री प्रवीण सिंह द्वारा जारी निर्देशों के परिपालन में आज जिले में बिना मास्क/बिना फेसकवर घूमते हुए व्यक्तियों पर चालानी कार्यवाही नियुक्त सक्षम अधिकारियों द्वारा की गई एवं प्रति व्यक्ति 100/- अर्थदण्ड से दण्डित किया गया। मास्क का उपयोग नहीं करने वाले 379 व्यक्तियों पर 37 हजार 900/-रूपये का अर्थदण्ड लगाकर आवश्यक कार्यवाही की गई। जिला प्रशासन द्वारा यह कदम कोरोना वायरस संक्रमण के फैलाव व बचाव के लिए शासन से प्राप्त निर्देशानुसार किया जा रहा है। जिला कलेक्टर श्री प्रवीण सिंह ने जिलेवासियों से अपील की है कि अनावश्यक घर से बाहर ना निकले एवं आवश्यक काम से बाहर निकलते समय मास्क/फेसकवर पहनकर ही निकले। घर में रहे, सुरक्षित रहे, स्वस्थ रहे।


बुरहानपुर जिले में पूर्व में लाॅक डाऊन में जारी होम डिलेवरी के लिए अनुमति धारकों की अवधि 8 जून तक बढ़ाई

बुरहानपुर - ( मेहलका अंसारी)कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री प्रवीण सिंह ने बुरहानपुर शहर नगर पालिका निगम सीमा क्षेत्र एवं ग्राम जैनाबाद, मोहम्मदपुरा व एमागिर्द के सीमा क्षेत्र में लॉकडाउन आगामी आदेश तक लगाया है। इन क्षेत्रों में अतिआवश्यक सेवाओं की आपूर्ति हेतु पास (अनमति) धारकों द्वारा की जा रही है। पास (अनुमति) की वैधता 31 मई, 2020 को समाप्त होने से उक्त पास अनुमति की अवधि दिनांक 8 जून, 2020 तक बढ़ाई जाती है। अतः बुरहानपुर शहर की नगर पालिका निगम सीमा क्षेत्र एवं ग्राम जैनाबाद, मोहम्मदपुरा व एमागिर्द की सीमा क्षेत्रों के आमजनों की अत्यावश्यक सेवाओं की आपूर्ति पूर्ववत होम डिलेवरी के माध्यम से पास धारकों द्वारा जारी रहेंगी। दुकानदार दुकान खोलकर विक्रय नहीं करेगें। दुकान का आधा शटर खोलकर होमडिलेवरी के माध्यम से आपूर्ति की जायेगी


बुरहानपुर जिले में बिना अनुमति के फल एवं सब्जी विक्रय करने पर 3 लोगों के विरूद्ध हुई एफआईआर दर्ज

बुरहानपुर -(मेहलका अंसारी) कोविड-19 संक्रमण की रोकथाम हेतु जिला कलेक्टर श्री प्रवीण सिंह द्वारा प्रतिबंधात्मक आदेश के अंतर्गत बुरहानपुर शहर में लॉकडाउन आदेश का उल्लघंन करने पर गणपति नाका थाना प्रभारी द्वारा आवश्यक कार्यवाही की गई है। प्राप्त जानकारी अनुसार हमीदपुरा निवासी सैय्यद सईद पिता सैय्यद अहमद, सिलमपुरा निवासी आबीद खान पिता अय्युब खान, किला लाईन निवासी हैदर पिता सबदर और राजपुरा निवासी शोऐेब पिता युसुफ द्वारा रिलायंस पेट्रोल पंप के पास हमीदपुरा में कुछ लोग भीड़ लगाकर फल व सब्जी विक्रय कर रहे है। उक्त व्यक्तियों द्वारा इस कृत्य से आम नागरिकों में कोरोना वायरस संक्रमण फैलना संभाव्य हो गया था जो कि आरोपियों के इस कृत्य पर अपराध धारा 188, 269, 270 भादवि तथा 51 ख आपदा प्रबंधन एक्ट के पाया जाने से अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया है। सभी दुकानदारो और व्यापारियों अनुरोध है कि आदेश का पालन करे एवं इस महामारी की रोकथाम हेतु शासन, प्रशासन के आदेश का पालन कर स्वयं भी सुरक्षित रहें तथा दूसरों को भी सुरखित रखें, देशहित एवं जनहित में सहयोग करें। पालन नही करने पर संबंधित के विरूद्ध वैधानिक कार्यवाही की जावेगी।


मध्यप्रदेश में बिजली उपभोक्ताओं के बिजली बिल के संम्बन्ध में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने की यह घोषणाएं


भोपाल। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि लॉकडाउन के कारण पिछले 2 माह से हमारे व्यापारी भाइयों के व्यवसाय और उद्योगों में कार्य बंद थे। एक तरफ आय के स्त्रोत कम हो गए,किन्तु दूसरी ओर फिक्स खर्चे तो यथावत रहे। इनमें जनमानस में सबसे अधिक चिंता बिजली के फिक्स चार्जेस को लेकर थी। इस बड़ी कठिनाई को कम करने के लिए सरकार ने बड़ा कदम उठाया है। सरकार ने निर्णय लिया है कि अब सभी गैर-घरेलू,गैर-औद्योगिकी , निम्न दाव एवं उच्च दाव औद्योगिक उपभोक्ताओं जैसे - दुकानें, शोरूम, अस्पताल , रेस्टोरेंट, मैरिज गार्डन, पार्लर, एमएसएमई और बड़े उद्योग आदि के माह अप्रैल से जून, 2020 तक के बिजली बिलों के फ़िक्स चार्जेस की वसूली स्थगित कर दी गई है। यह राशि अक्टूबर 2020 मार्च 2021 के मध्य 06 समान किश्तों में बिना ब्याज के जमा की जा सकेगी। इससे लगभग 12 लाख छोटे उद्यमियों दुकानदारों छोटे व्यवसायियों की लगभग 700 करोड़ रुपये की राशि आगामी महीनों में ली जाएगी। संबल के हितग्राही तथा ऐसे घरेलू उपभोक्ता जिनके बिजली के बिल अप्रैल में 100 रूपये या उससे कम आये थे तथा मई, जून, जुलाई में भी 100 रूपये से कम आयेंगे उन्हें मई, जून, जुलाई की राशि के स्थान पर सिर्फ 50 रूपये महीने का भुगतान करना होगा। इससे लगभग 63 लाख हितग्राहियों को 100 करोड़ रूपये का लाभ होगा। ऐसे घरेलू उपभोक्ता, जिनके बिजली के बिल माह अप्रैल में 100 रूपये से कम आए थे किन्तु मई, जून और जुलाई माह में 100 रुपये से अधिक परंतु 400 रुपये से कम आए हैं या आएंगे, तो उन्हें मई, जून और जुलाई माह के बिल की राशि के स्थान पर सिर्फ 100 रुपये प्रतिमाह का भुगतान करना होगा। इससे लगभग 28 लाख हितग्राहियों को 150 करोड़ रुपये का लाभ मिलेगा। ऐसे घरेलू उपभोक्ता, जिनके बिजली के बिल माह अप्रैल में 100 रूपये से अधिक परन्तु 400 रूपये से कम आए थे किन्तु मई,जून और जुलाई माह में रूपये 400 से ज्यादा आये हैं या आएंगे, तो उन्हें मई, जून और जुलाई माह के बिल की राशि की आधी राशि का ही भुगतान करना होगा। शेष बिल की राशि की जांच के उपरांत निर्णय लिया जा सकेगा। इससे लगभग 8 लाख हितग्राहियों को बिल की राशि का आधा भुगतान ही करना होगा। हितग्राहियों को लगभग 200 करोड का लाभ होगा। घरेलू उपभोक्ताओं को एप के माध्यम से स्वयं की रीडिंग भेजने की सुविधा प्रदान की गई है। उपभोक्ताओं द्वारा अप्रैल और मई माह के बिलों का भुगतान नियत तिथि तक करने पर उन्हें 1 प्रतिशत अतिरिक्त प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। यह राशि घरेलू तथा निम्न दाब उपभोक्ताओं के लिए रूपये 10,000/- अधिकतम एवं उच्च दाब उपभोक्ताओं के लिए अधिकतम 1 लाख रूपये होगी। सभी 3 फेस उपभोक्ताओं को लॉकडाउन की अवधि में आवेदन देने के 7 दिन बाद से संविदा मॉंग (कांट्रेक्ट डिमांड) में कमी की सुविधा दी गयी थी। यह सुविधा लॉकडाउन समाप्त होने के 15 दिन बाद तक की अवधि के लिए लागू रहेगी।


बुरहानपुर जिला कलेक्टर श्री प्रवीण सिंह ने जिलेवासियों को दिया संदेश...... आज से पूरे बुरहानपुर शहर में हटा कर्फ्यू , सार्वजनिक स्थान पर 5 से अधिक लोगो का इकठ्ठा होना हुआ प्रतिबंधित बाज़ार खोलने के लिए शीघ्र ही बन रही है व्यवस्था, आगामी आदेश तक बाज़ार बन्द रहेंगे। बात करते समय मास्क जरूर पहने


बुरहानपुर - जिला कलेक्टर एवं दंडाधिकारी श्री प्रवीण सिंह ने समस्त शहरवासियों को संदेश में कहा है कि पूरे शहर में कर्फ्यू हटा लिया गया है। लॉक डाउन लगा हुआ है, जारी रहेगा। किसी भी सार्वजनिक स्थान पर 5 से अधिक लोगो का इकठ्ठा होना प्रतिबंधित किया गया है। जिला प्रशासन अपनी पूरी टीम के साथ कड़ी मेहनत के साथ  एवं आप सभी के सहयोग से कोरोना को हराने में तत्पर है। प्रशासन द्वारा लोगों तक आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति हेतु समय-समय पर पास जारी किए गए हैं ताकि सभी को होम डिलीवरी के माध्यम से आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति की जा सकते हैं ।परंतु कई  बार जिला प्रशासन द्वारा  लॉक डाउन का पालन कराने के लिए सख्ती बरती गई है ।       कल 1 जून 2020 है, और हम शहरवासियों की मांग पर उन्हें  कुछ रियायतें देना चाहते हैं लेकिन यह रियायतें, कितने समय तक व्यवस्थित रहेगी यह जनता के हाथों में हैं। शहर की जनता जितना सोशल डिस्टेंस का पालन करेगी ,घर से अनावश्यक नहीं निकलेगी ,घर से निकलते समय मास्क लगाकर निकलेगी। भीड इकट्ठा नहीं करेगी, तो जिला प्रशासन को जनता को यह रियायत देने में कोई आपत्ति नहीं है।         बुरहानपुर शहर पहले की तरह मेहकता  रहेगा । दी गई रियायतों का दुरुपयोग नहीं किया जाए। काम हो तो ही घर से बाहर निकले, यदि कोई काम नहीं है तो घर पर ही रहे क्योंकि यह स्पष्ट है कि कोरोना वायरस स्वयं चल कर आपके घर नही आता है, आप खुद  सामाजिक दूरी को दरकिनार करते हुए जब बिना मास्क लगाए बाहर निकलते है तो कोरोना वायरस को अपने घर पर लाते है। मैं पुनः सभी नगरवासियों से अपील करता हूं कि बात करते समय मास्क जरूर पहने , क्योंकि बिना मास्क  के एक दूसरे से  बात करने पर ही कोरोना वायरस एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति पर फैलता है इसलिए छोटी छोटी बातें हैं इन्हें अपने जीवन की आदतों में डालें तभी बुरहानपुर शहर कोरोना से लड़ने में सक्षम हो पाएगा। आप सभी के सहयोग की अपेक्षा करता हूं। बाज़ार खोलने के लिए अभी हम लोग शीघ्र ही व्यवस्था बना रहे है। आगामी आदेश तक बाज़ार बन्द रहेंगे। चरणबद्ध तरीक़े से धीरे धीरे सारी व्यवस्था खोली जाएगी। संयम बनाये रखे प्रशासन का सहयोग करे।


जिले के लिए सुखद खबर, घर की ओर वापसी का सिलसिला जारी* *जिला अस्पताल एवं आयुर्वेदिक अस्पताल से आज 35 कोरोना संक्रमित मरीजों को स्वस्थ होने पर किया गया डिस्चार्ज*


बुरहानपुर- (मेहलक़ा अंसारी) जिला प्रशासन के बेहतर प्रयासों एवम् प्रबंधन तथा जिले की स्वास्थ्य टीम द्वारा दी जा रही बेहतर स्वास्थ्य सेवाओं एवं अथक प्रयासों के फलस्वरुप कोरोना संक्रमित मरीज शीघ्र स्वस्थ होकर अपने घर लौट रहे हैं। जिला कलेक्टर श्री प्रवीण सिंह ने बताया कि आज 35 कोरोना संक्रमित मरीजों को ठीक होने पर डिस्चार्ज कर दिया गया । उन्होंने बताया कि उक्त मरीजो को 07 दिनों के लिए होम क्वारेंटाइन किया जाएगा। जिले में अब एक सुकून भरी खबर यह है कि, एक्टिव कोरोना मरीजों की संख्या 53 है जो शीध्र ही स्वस्थ होकर अपने घर की और वापसी करेंगे। निश्चित तौर पर आप सभी के सहयोग से बहुत शीघ्र ही बुरहानपुर शहर कोरोना मुक्त कहलाएगा ,बुरहानपुर फिर मुस्कुराएगा। इस इस अवसर पर सीएमएचओ डॉ एम पी गर्ग , सिविल सर्जन डॉ. शकील अहमद खान ,डॉक्टर प्रतीक नवलखे,डॉक्टर पाटिल,डॉ.थवानी सहित समस्त स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी कर्मचारीगण उपस्थित रहे ,सभी ने स्वस्थ हुए व्यक्तियों को सम्मान के साथ विदा किया। *हमें घर सा माहौल यहाँ मिला* स्वस्थ होकर घर लौट रहे लोगों ने बताया कि जब हम इलाज के लिए यहां सेंटर पर आए तो हम यह सोच रहे थे कि कैसी सुविधाएं होंगी सब ठीक हो पाएगा की नहीं परंतु यहां आकर जब सुविधाएं देखी तो हमें बिल्कुल यह याद नहीं कि हम घर पर रहे या फिर घर के बाहर। हमें यहाँ जो सुविधाएं दी गई हैं उसे हम भूल नहीं सकते हमें घर सा माहौल मिला कभी यह ना लगा कि हम घर से बाहर किसी अन्यत्र स्थान पर रह रहे हैं । यहां छोटे से कर्मचारी से लेकर बड़े अधिकारी तक सभी ने बेहतर एवं अपने स्तर से उच्चतम सेवाएं दी हैं, हमारा ख्याल रखा है ।डिस्चार्ज हुए मरीजों ने कहा कि हमें घर से ज्यादा अच्छा माहौल यहां पर मिला है हम किये समस्त प्रयासों के लिए सभी को सहृदय धन्यवाद करते हैं सभी ने कोरोना हारेगा, बुरहानपुर जीतेगा के नारे के साथ भारत माता की जय जयकार कर जिला प्रशासन का आभार व्यक्त किया।



नेपानगर व शाहपुर क्षेत्र की सीमा में लॉकडाउन संबंधी आदेश जारी*

बुरहानपुर(मेहलका अंसारी) कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री प्रवीण सिंह ने दण्ड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 144 में निहित शक्तियों का प्रयोग करते हुए बुरहानपुर जिले की संपूर्ण ग्रामीण सीमा क्षेत्र (ग्राम एमागिर्द, मोहम्मदपुरा एवं जैनाबाद क्षेत्र छोड़कर) नगर पालिका परिषद् नेपानगर व नगर पंचायत शाहपुर क्षेत्र की सीमा में लॉकडाउन आदेश का सख्ती से पालन करने हेतु दिनांक 31 मई 2020 तक पारित किया गया हैं। इस दौरान जारी दिशा-निर्देशों के अनुसार दुकानें/प्रतिष्ठानों को चालू रखने की छूट दी गई हैं। गृह मंत्रालय भारत सरकार नई दिल्ली द्वारा राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने आपदा प्रबंधन अधिनियम, 2005 की धारा 6 (2) (झ) के अंतर्गत शक्तियों का प्रयोग करते हुए कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री प्रवीण सिंह ने कंटेनमेंट जोनो में लॉकडाउन को दिनांक 30/06/2020 तक बढ़ाने और निषिद्ध गतिविधियों को कंटेनमेंट जोनों से बाहर चरणबद्ध तरीके से फिर से शुरू करने के आदेश दिये है। उन्होंने लॉकडाउन की अवधि 30/06/2020 तक बढ़ाई है। रात्रि 9 बजे से प्रातः 5 बजे तक संपूर्ण ग्रामीण क्षेत्र में कर्फ्यू रहेगा तथा चिन्हिंत मेडिकल स्टोर्स दुकान/पेट्रोल पंप 24 घंटे चालू रहेंगे। यदि कोई व्यक्ति उपर्युक्त आदेश का उल्लंघन करता पाया जाता है, तो उसके विरूद्ध भारतीय दण्ड संहिता के प्रावधानों के तहत अभियोजन की कार्यवाही की जावेगी। ये आदेश तत्काल प्रभाव से प्रभावशील रहेगा एवं इस आदेश का उल्लघंन धारा 188 की भारतीय दण्ड विधान अंतर्गत दण्डनीय अपराध की श्रेणी में शामिल किया जायेगा।


कलेक्टर ने किया लॉकडाउन संबंधी आदेश जारी

* बुरहानपुर(मेहलका अंसारी) बुरहानपुर जिले में धारा 144 प्रभावशील है। गृह मंत्रालय, भारत सरकार, नई दिल्ली द्वारा राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने आपदा प्रबंधन अधिनियम, 2005 की धारा 6 (2) (झ) के अंतर्गत, अपनी शक्तियों का प्रयोग करते हुए अधोहस्तापक्षरी को कंटेनमेंट जोनों में लॉकडाउन को दिनांक 30/06/2020 तक बढाने और निषिद्ध गतिविधियों को कंटेनमेंट जोनों से बाहर चरणबद्ध तरीके से फिर से शुरू करने का आदेश जारी करने के निर्देश दिये गये है। इस संबंध में कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री प्रवीण सिंह ने राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने आपदा प्रबंधन अधिनियम एवं दण्ड प्रक्रिया संहिता, 1973 की धारा 144 में निहित शक्तियों का प्रयोग करते हुए,‘’बुरहानपुर शहर की नगर पालिक निगम सीमा क्षेत्र व ग्राम, जैनाबाद, मोहम्मदपुरा, एमागिर्द की ग्रामीण सीमा क्षेत्र में लॉक डाउन आदेश का सख्ती से पालन करने हेतु‘’ आवश्यक निर्देश दिये है। उन्होेंने जारी आदेश में कहा है कि उक्त सीमाक्षेत्र में स्थित सडकों पर, सार्वजनिक मार्गाे अथवा अन्य किसी भी स्थल पर पांच से अधिक व्यक्तियों के एकत्रित होने, खडे होने पर तत्काल प्रभाव से पूर्णतः प्रतिबंधित किया जाता है। सभी इस सीमा में निवासरत रहवासियों का बिना किसी युक्तियुक्त कारण के अपने घर से निकलना प्रतिबंधित किया जाता है, ताकि सोशल डिस्टेंसिंग सुनिश्चित की जा सकें। युक्तियुक्त कारण से अपने घर से निकलने वालों के लिये फेस मास्क/ फेस कवर पहनना अनिवार्य किया जाता है। *इस अवधि में निम्नलिखित गतिविधियां प्रतिबंधित रहेंगी:-* 1. सार्वजनिक परिवहन के लिए बसें। 2. सभी शैक्षणिक, प्रशिक्षण, कोचिंग संस्थान आदि बंद रहेंगे। 3. सभी औद्योगिक और व्यवसायिक गतिविधियां। (इस कार्यालय से अनुमति प्राप्त को छोडकर) 4. टैक्सी, ऑटो रिक्शा और टैक्सी एग्रीग्रेटर्स की सेवाएं। 5. सभी सिनेमा हॉल, शॉपिंग मॉल, जीम, खेल परिसर, स्विमिंग पूल, मनोरजंन पार्क, थिएटर, बॉर, ऑडिटोरियम, असेंबली हॉल और इसी तरह के अन्य स्थान बंद रहेगें। 6. सभी सामाजिक/ राजनीतिक/ खेल/ मनोरजंन/ शैक्षणिक/ सांस्कृतिक/ धार्मिक समारोह एवं अन्य एकत्रीकरण। 7. आगामी आदेश तक सभी धार्मिक स्थलों/पूजा स्थलों का आमजन के लिए बंद किया जाएगा। धार्मिक मण्डली/एकत्रीकरण पूर्ण रूप से प्रतिबंधित है। 8. हाट बाजार पूर्णतया प्रतिबंधित रहेंगे। 9. रात्रि 09.00 बजे से प्रातः 5.00 बजे तक संपूर्ण क्षेत्र में कपर्यू लगा रहेगा। 10. बना मास्क/फेस कवर के घूमना प्रतिबंधित रहेगा। 11. यदि किसी के द्वारा उल्लघंन किया जाता है तो सक्षम प्राधिकारी द्वारा जुर्माना लगाकर दण्डित किया जायेगा तथा आपदा प्रबंधन अधिनियम, 2005 की धाराओं में अपराध पंजीबद्ध कर कार्यवाही की जावेंगी। 12. 65 वर्ष से अधिक उम्र के लोग, मल्टीेपल डिसआर्डर वाले व्यक्ति, गर्भवती महिलाएं तथा 10 वर्ष से कम उम्र के बच्चों को घर पर ही रहना होगा। 13. सार्वजनिक स्थानों पर शराब पीना, पान, तम्बाकू, गुटखा खाना प्रतिबंधित होगा। 14. दुकानों में दो गज की दूरी रखना अनिवार्य होगी तथा एक समय में दुकान में 5 से अधिक लोग नहीं रह सकेंगे। 15. सभी कार्य स्थलों के प्रवेश द्वार एवं प्रस्थान द्वार पर थर्मल स्क्रीनिंग, हैण्डवाश और सेनेटाईजर की व्यवस्था, पूरे कार्य स्थल पर नियमित सेनेटाईजेशन तथा लंच ब्रेक आदि में फिजिकल डिस्टेंसिंग अनिवार्य होगी। 16. विवाह में अधिकतम 20 लोग शामिल हो सकेंगे। विवाह की अनुमति संबंधित अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व) एवं उपखंड मजिस्ट्रेट, से लेनी होंगी। 5 से अधिक व्यक्तियों को एक साथ घूमना/रहना प्रतिबंधित रहेगा। 17. बाजार या बाजार क्षेत्रों के संचालन के लिये पृथक से आदेश जारी किये जायेगें। *हॉटस्पॉटस और कंटेनमेंट जोन में दिशा-निर्देशों का संचालन* 1. हॉटस्पॉटस यानी कोविड-19 के वृहद प्रकोप वाले क्षेत्र या कोविड-19 के महत्वपूर्ण प्रसार वाले कलस्टर, स्वास्थ्य और परिवार कल्यााण मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा जारी निर्देशों के अनुसार निर्धारित किए जाएंगे। इन हॉटस्पॉाटस में दिशा-निर्देशों के अनुसार जिला प्रशासन द्वारा कंटेनमेंट जोन का सीमांकन किया जाएगा। 2. कंटेनमेंट जोन में, इन दिशा-निर्देशों के तहत अनुमत गतिविधियों की अनुमति नहीं होगी। आवश्याक सुविधाओं (चिकित्साक आपात स्थिति, कानून व्यवस्था से संबंधित कर्तव्यों सहित) और शासकीय कार्याे की निरंतरता को छोडकर, इन क्षेत्रों से आबादी का कोई अनियंत्रित मूवमेंट (आना-जाना) न हो, यह सुनिश्चित करने के लिए कंटेनमेंट जोन के क्षेत्र की सीमाओं में सख्त नियंत्रण होगा। इस संबंध में समय-समय पर जारी निर्देशों को स्थानीय जिला अधिकारियों/विकासखंड अधिकारियों द्वारा सख्ती, से लागू किया जाएगा। *लॉक डाउन दिशा निर्देश का सख्त प्रवर्तन*:- 1. सभी अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व), सभी अनुविभागीय अधिकारी (पुलिस) तथा सेक्टर मजिस्ट्रेट तथा कोविड-19 की डयूटी पर लगाये गए समस्त अधिकारी/कर्मचारी आईपीसी 1860 तथा आपदा प्रबंधन अधिनियम, 2005 के तहत जारी इन दिशा-निर्देशों को किसी भी तरीके से कमजोर नहीं होने देंगे और इन्हें सख्तीे से लागू करवायेगें। 2. सभी अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व) अपने-अपने क्षेत्राधिकार में आवश्यकता के अनुसार इन दिशा-निर्देशों की तुलना में कडे़ उपाय कर सकते है। *दण्ड के प्रावधान*:- कोई भी व्यक्ति जो इन लॉकडाउन उपायों का उल्लघंन कर रहा है, उस पर आपदा प्रबंधन अधिनियम, 2005 की धारा 51 से 60 के प्रावधानों के तहत कानूनी कार्यवाही के अलावा, आईपीसी की धारा 188 और अन्य कानूनी प्रावधान लागू होते हैं, जिसके तहत कार्यवाही की जाएगी। उपरोक्त आदेश दिनांक 31/05/2020 की रात्रि 12.00 बजे से आगामी आदेश तक प्रभावशील होगा।


कलेक्टर बुरहानपुर ने टेक्सटाईल्स और पॉवरलूम ईकाई संचालन की निर्धारित शर्तो पर अनुमति प्रदान की

* बुरहानपुर(मेहलका अंसारी) बुरहानपुर शहर में कोरोना संक्रमण के पॉजिटीव केस बढ़ने के कारण दण्ड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 144 में निहित शक्तियों का प्रयोग करते हुए नगर पालिका निगम बुरहानपुर, ग्रामीण क्षेत्र ग्राम पंचायत एमागिर्द, मोहम्मदपुरा, जैनाबाद क्षेत्र की सीमा में कर्फ्यू लगाया तथा लॉकडाउन ग्रामीण क्षेत्र व नगरीय निकाय शाहपुर/नेपानगर में लगाया गया है। भारत सरकार नई दिल्ली के परिपत्र एवं राज्य शासन द्वारा जारी निर्देशों के परिप्रेक्ष्य में लागू लॉकडाउन अवधि में बुरहानपुर जिले में कलेक्टर एवं जिला मजिस्टेªट श्री प्रवीण सिंह ने पॉवरलूम ईकाईयों/टेक्सटाईल्स का संचालन करने हेतु छूट/अनुमति निर्धारित शर्तो पर दी है। संचालन की निम्नानुसार शर्ते है- 1. यह अनुमति/छूट कंटेनमेंट एरिया के क्षेत्र से बाहर को ही लागू होगी। 2. कार्यालय में 30 प्रतिशत स्टॉफ/श्रमिक से ज्यादा उपस्थिति न होते हुए संचालन की अनुमति होगी। 3. कंटेनमेंट जोन के अंतर्गत आने वाले स्टॉफ को कार्यालय में जाने की अनुमति नहीं होगी। 4. समस्त स्टॉफ को आरोग्य सेतु एप उपयोग करना अनिवार्य होगा। 5. समस्त स्टॉफ को मास्क/फेस कवर पहनना अनिवार्य होगा साथ सेनेटाईजर का उपयोग एवं सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना अनिवार्य होगा। 6. ईकाई में कार्य करने वाले समस्त स्टॉफ/श्रमिक के रूकने, खाने-पीने की व्यवस्था जहां तक संभव हो ईकाई परिसर में ईकाई स्वामी द्वारा की जायेगी। 7. ईकाई में कार्यरत कर्मचारियों/श्रमिकों की चिकित्सा जांच करना आवश्यक होगा। 8. ईकाई में कार्यरत कर्मचारी/श्रमिकों का कार्य करने के दौरान आकस्मिक स्वास्थ्य खराब होता है तो तत्काल नजदीकी स्वास्थ्य केन्द्रों में ले जाकर स्वास्थ्य परीक्षण की समस्त जवाबदारी ईकाई के स्वामी की होगी। 9. स्थानीय स्तर पर उपलब्ध श्रमिकों की ईकाई में नियोजित करने में प्राथमिकता देना होगा। 10. ईकाई में सैनिटाईजर का उपयोग करना अनिवार्य रहेगा तथा श्रमिकों को हाथ धोने के लिये साबुन की व्यवस्था करना अनिवार्य होगा। 11. ईकाई में 50 वर्ष से अधिक उम्र के कर्मचारी/श्रमिकों का आना प्रतिबंधित रहेगा। 12. घरों के अंदर संचालित होने वाले पॉवरलूम का संचालन घर के अंदर रहकर ही किया जायेगा, घर के बाहर अनावश्यक भीड़ ना लगाई जाये। 13. ईकाई के पास ईकाई परिसर में स्टॉफ/श्रमिकों के टेम्प्रेचर स्क्रीनिंग उपकरण से प्रतिदिन जांच किया जाना आवश्यक होगा एवं एम.एच.ए. की गाईडलाईन के निर्देशों का पालन करना अनिवार्य होगा। कलेक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट श्री प्रवीण सिंह ने निर्देशित किया है कि यदि कोई व्यक्ति उपर्युक्त आदेश का उल्लघंन करता पाया जाता है तो उसके विरूद्ध भारतीय दण्ड संहिता के प्रावधानों के तहत अभियोजन की कार्यवाही की जायेगी। ये आदेश तत्काल प्रभाव से प्रभावशील रहेगा एवं इस आदेश का उल्लघंन धारा 188 की भारतीय दण्ड विधान अंतर्गत दण्डनीय अपराध की श्रेणी में आयेगा।


कलेक्टर बुरहानपुर ने दी औद्योगिक इकाइयों के संचालन की अनुमति

* बुरहानपुर(मेहलका अंसारी) जिला बुरहानपुर में औद्योगिक संचालन में स्थित औद्योगिक इकाईयों को टेक्टसाईल्स प्रोसेसर्स ऐसोसिएशन द्वारा कार्य प्रारंभ करने की अनुमति चाही गई है। कोरोना वायरस संक्रमण महामारी की लॉकडाउन अवधि में भारत सरकार गृह मंत्रालय के परिपत्र संदर्भ में कलेक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट श्री प्रवीण सिंह द्वारा निम्नांकित शर्तो के अध्याधीन प्राप्त सूची अनुसार इकाई प्रारंभ करने अनमुति प्रदान की गई है:- 1. ईकाई को अधिकतम 30 प्रतिशत स्टॉफ/श्रमिक के साथ करना सुनिश्चित करेंगे। 2. ईकाई में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराया जाना अनिवार्य होगा। 3. सभी कर्मचारी/श्रमिक मास्क लगायेगें तथा आवश्यक सुरक्षा उपाय सुनिश्चित करेंगे। 4. ईकाई में कार्य करने वाले समस्त स्टॉफ/श्रमिक के रूकने, खाने, पीने की व्यवस्था जहां तक संभव हो ईकाई परिसर में ईकाई स्वामी द्वारा की जायेगी। 5. ईकाई में कार्यरत् कर्मचारियों/श्रमिकों की चिकित्सा जांच कराना आवश्यक होगा। 6. ईकाई में कार्यरत कर्मचारी/श्रमिकों का कार्य करने के दौरान आकस्मिक स्वास्थ्य खराब होता है तो तत्काल नजदीकी स्वास्थ्य केन्द्रों में ले जाकर स्वास्थ्य परीक्षण की समस्त जवाबदारी ईकाई के स्वामी की होगी। 7. इकाई में कंटेनमेंट एरिया से इकाई स्वामी/स्टॉफ/श्रमिका का आवागमन पूर्णतः प्रतिबंधित रहेगा। 8. स्थानीय स्तर पर उपलब्ध श्रमिकों की ईकाई में नियोजित करने में प्राथमिकता देना होगा। 9. ईकाई में सैनिटाईजर का उपयोग करना अनिवार्य रहेगा तथा श्रमिकों को हाथ धोने के लिये साबुन की व्यवस्था करना अनिवार्य होगा। 10. ईकाई में 50 वर्ष से अधिक उम्र के कर्मचारी/श्रमिकों का आना प्रतिबंधित रहेगा। 11. ईकाई की गठित दल द्वारा सुरक्षा संबंधी जांच समय-समय पर की जायेगी। 12. ईकाई के पास ईकाई परिसर में स्टॉफ/श्रमिकों के टेम्प्रेचर स्क्रीनिंग उपकरण से प्रतिदिन जांच किया जाना आवश्यक होगा एवं एम.एच.ए.की गाईडलाईन के निर्देशों का पालन करना अनिवार्य होगा। कलेक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट श्री प्रवीण सिंह ने निर्देशित किया है कि उपरोक्त शर्तो का उल्लघंन करने पर यह अनुमति स्वतः निरस्त मानी जायेगी एवं वैद्यानिक कार्यवाही की जायेगी।


समाजसेविका पाण्डेय ने दिलाई जागरूकता की शपथ...


 हरदा । विश्व तंबाकू दिवस चलाया गया जागरुकता अभियान के तहत् लाडो अभियान के ब्रांड एंबेसडर श्रीमती गीता पांडे ने रेलवे की आईडी में मास्क वितरित कर विश्व तंबाकू दिवस की दिलाई शपथ है इस मौके पर समाजसेविका गीता पांडे ने तंबाकू और धूम्रपान से होने दुष्प्रभाव के बारे में बताया तथा कहा कि यह हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत ही हानिकारक है तंबाकू एवं धूम्रपान निरंतर लोगो की जाने जाती हे हम सब को तंबाखू ओर भी यूवा अन्य नशीले पदार्थों का सेवन नहीं करना चाहिए हमें अपने स्वास्थ्य का विशेष ध्यान देना चाहिए विशेषकर के युवाओं को हम सब को स्वस्थ रहना है तो तंबाकू और नशीले पदार्थों का सेवन करने से लोगों को बचाए । श्रीमती गीता पांडे ने सभी रेल परिवार के युवाओं को शपथ दिलाई साथ में चल रही कोरोना माहामरी से बचने से घर से निकलते मुहं पर मास्क पहनकर जायो... घर 20 मिनिट हाथ धो आपनी सुरक्षा सुरक्षा ही एक मात्र सोशल डिसटेनट बनाये रखो... एक दूसरे से दूरी बनाये रखो... चाहे ऑफीस जायो जाहे दूकान जायो आपने ध्यान रखो... परिवार ध्यान रखो पड़ोसी का भी ध्यान रखो... हरदा से मुईन अख्तर खान


तम्बाकू निषेध दिवस पर दिलाई शपथ

 


हरदा । अंतर्राष्ट्रीय तम्बाकू एवं धूम्रपान निषेध दिवस पर जिला चिकित्सालय हरदा में एक संगोष्ठी की गई जिसमें तम्बाकू एवं धूम्रपान उत्पाद से होने वाले दुष्परिणामों से आवगत् कराया गया। ताकि तम्बाकू एवं गुटका, बीडी, सिगरेट के सेवन की बढती हुई प्रवृत्ति से युवाओं एवं जन सामान्य को कैसर, टी.वी. हृदयघात की बीमारियों से बचाया जा सके तथा तम्बाकू एवं धूम्रपान के सेवन की रोकथाम हेतु जनजाग्रति का वातावरण का निर्माण हो सके। इस हेतु विभाग द्वारा सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों को शपथ दिलवाई गई की आज से वे किसी भी प्रकार के तम्बाकू उत्पाद का सेवन नही करेगें और दूसरों को भी तम्बाकू उत्पाद के सेवन न करने की सलाह देगें व तम्बाकू उत्पाद से होने वाली जघन्य बीमारियों के लिये आमजन को जागरूक करेगें। सपथ के समय मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. किषोर कुमार, जिला स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. कमलेष गौंड, जिला मलेरिया अधिकारी श्रीमति राधा चैहान, जिला आईडीएसपी एपिडिमियोलाजिस्ट डाॅ. शुभांगी पडांग्रे जिला मीडिया अधिकारी श्री आई तिग्गा, जिला आई.ई.सी. सलाहकार के.के. राजोरिया, डीपीएचएनओ सुश्री शक्ति मेढे व


कोरोना योध्दा संदीप मोरे ने कोरोना से जीती जंग, सकुशल घर लौटने पर मां ने आरती उतारकर मिठाई खिलाकर किया स्वागत, वार्डवासियों तथा पडोसियों ने किया तालियों से अभिनन्दन


बुरहानपुर- आयुर्वेदिक चिकित्सालय में अपनी सेवाएं देने वाले संदीप मोरे किसी कोरोना पॉजिटिव मरीज़ के संपर्क में आने से उनकी रिपोर्ट भी जब पॉजिटिव आई तो उन्होंने तत्काल स्वयं कोविड सेंटर जाकर अपने आप को अस्पताल में भर्ती करवाया। जहां उनका सतत चिकित्सकों की निगरानी में इलाज हुआ और आज स्वस्थ होकर वह अपने परिवार में लौटे। उनके घर लौटने की खुशी में परिवार में माँ ने आरती एवं तिलक लगाकर उनका स्वागत किया। परिवारजनों विनोद मोरे, सचिन मोरे तथा मीना विनोद मोरे के संदीप को अपने बीच पाकर आंखो से आँसु छलक उठे।



साथ ही महेश मावले, दिलीप लायगे, हरचंद सिरतुरे, सुनिल निकम, अनिल निकम, मूलचंद साँवले,अशोक भाई, ब्रजेश निले, कमलेश निले, दिपेश लायगे, राहुल लायगे, महेंद्र लायगे, नितीन गवई, हरीश गवई, अनित्य मावले सहित वार्ड वासियों और पड़ोसियों ने तालियों की गड़गड़ाहट से उनका अभिनंदन किया



संदीप मोरे ने बताया कि कोविड सेंटर में उन्हें किसी प्रकार की कोई परेशानी नहीं हुई वहां पर एकदम घर का माहौल था तथा 24 घंटे स्वास्थ्य कर्मचारी सेवा में लगे रहे थे इससे हमें संबल मिला ।उन्होंने जिला प्रशासन का बहुत आभार व्यक्त किया तथा लोगों से भी कोरोना वायरस से ना डरने की सलाह दी तथा निवेदन किया कि किसी भी प्रकार के लक्षण दिखने पर तुरंत स्वास्थ्य विभाग में जाकर इसकी जांच कराएं ।हमें कोरोना से बिल्कुल भी नहीं डरना है बल्कि उसका सामना करना है।


बुरहानपुर जिले की प्रायवेट स्कूल एशोसिएशन ने शाला फीस मुद्दे पर शासन ने पुनर्विचार करने का किया आग्रह टीचिंग औऱ नॉन टीचिंग स्टॉप ,बस के साथ अन्य खर्चों का कैसे करेंगे भुगतान

बुरहानपुर- विगत कई दिनों से स्कूल फीस माफी को लेकर सोशल मीडिया पर पोस्ट आ रही हैं । जिले की अधिकांश प्रायवेट स्कूल तो 10 माह शैक्षणिक दिवस के अनुसार फीस लेती है। और लॉक डाउन गर्मियों की छुट्टियों में हुआ है।जिसकी फीस अधिकांश स्कूल नही लेती है। कई स्कूलो की परीक्षा मार्च में ही समाप्त हो गई है और वहा तक ही फीस भी लेते हैं। कई स्कूलों ने विद्यार्थियों को अपनी सेवा तो दे दी है लेकिन अभी भी फीस बकाया है। ऐसी स्थिति में स्कूल अपने टीचिंग औऱ नॉन टीचिंग स्टॉप ,बस के साथ अन्य खर्चों का कैसे भुगतान करेगे।थोड़ा इसपर भी विचार करे। कई स्कूल तो कम फीस में शैक्षणिक सेवा का ही कार्य कर रहे है।ऐसी स्कूलों के बारे में भी विचार आवश्यक है।


कोरोना संक्रमण के चलते स्कूल फीस माफ करने का निर्णय...... सरकार भी करें अनुशरण .....देश की आर्थिक स्थिति खराब...


 बुरहानपुर । देशभर में जारी लॉकडाउन के बीच मध्य प्रदेश के बुरहानपुर जिले में संचालित एक अशासकीय स्कूल में अध्ययनरत बच्चों की फीस माफ करने का निर्णय लिया है प्राप्त जानकारी अनुसार मध्यप्रदेश के बुरहानपुर जिले में मध्य प्रदेश मदरसा बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष एवं अल हबीबी स्कूल मदरसे के अध्यक्ष प्रोफेसर सेय्यद इमादुद्दीन ने घोषणा करते हुए अल हबीबी इंग्लिश स्कूल तथा गर्ल्स हाई सेकेंडरी स्कूल की सभी पढ़ाई में अध्यनरत बच्चों की फीस नहीं लेने का निर्णय लिया है जानकारी देते हुए अल हबीबी स्कूल समिति अध्यक्ष प्रोफेसर सैय्यद इमादुद्दीन ने बताया कि कोरोना संक्रमण के चलते देश भर में जारी डाउन के दौरान आमजन की आर्थिक स्थिति बिगड़ गई है जिसके चलते संस्था ने निर्णय लिया है कि बच्चों से पढ़ाई का शुल्क नहीं दिया जाए स्कूल फीस माफ करने की घोषणा से क्षेत्र में खुशी की लहर दौड़ पड़ी । बुरहानपुर जिले के जिम्मेदार अधिकारियों सही आमजन ने उपरोक्त निर्णय की सराहना की है साथ ही विश्व मानवाधिकार परिषद मध्यप्रदेश ने मध्यप्रदेश सरकार सहित देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मांग की है कि उपरोक्त निर्णय का अनुशरण किया जाये । हरदा से मुईन अख्तर खान


शनिवार, 30 मई 2020

जिला कांग्रेस कमेटी बुरहानपुर के अध्यक्ष अजय सिंह ने कलेक्टर बुरहानपुर ज्ञापन प्रेषित कर बीड़ी बनाने का कार्य प्रारम्भ कराने का निवेदन किया*


बुरहानपुर (मेहलका अंसारी) जिला कांग्रेस कमेटी बुरहानपुर के अध्यक्ष अजय सिंह रघुवंशी ने बीड़ी मजदूरों की समस्याओं को लेकर कलेक्टर बुरहानपुर को एक ज्ञापन प्रेषित करते हुए उसकी प्रतिलिपि मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री एवं नगर के समस्त पत्रकारों को प्रेषित की है। अजय सिंह रघुवंशी ने बताया कि कई माह से जिले में चल रहे लॉक डाउन और कर्फ्यू के कारण जहां आम जनता की हालत खराब हो गई,इसी में बीड़ी मजदूरों की हालत भी बद से बदतर होती जा रही है।अब जबकि धीरे धीरे हालात काबू में होते जा रहा है,शराब दुकानों सहित कई प्रकार की छूट भी दी जा रही है तो जिले के बीड़ी मजदूरों को भी बीड़ी बनाने की अनुमति प्रदान करे। चूंकि बीड़ी व्यवसाय में किसी प्रकार का सोशल डिस्टेंटिंग का उल्लंघन नही होता है। प्रत्येक व्यक्ति अपने घर मे बैठ कर बीड़ी बनाता है।दूसरी तरफ अजय सिंह रघुवंशी रघुवंशी ने मुख्य सचिव महोदय ने अपने आदेश क्र.40-2020-DM 1(A)2020 को तेंदूपत्ता बिक्री आदि के संबंध में आदेश दिए गए है। जिला कांग्रेस कमेटी बुरहानपुर के अध्यक्ष अजय सिंह रघुवंशी ने कलेक्टर बुरहानपुर से बीड़ी मजदूरों को बीड़ी बनाने की अनुमति प्रदान करने का निवेद


गृह निर्माण कार्य से जुड़े ठेकेदार एवं मजदूरों को छूट देने हेतु लोहार मंडी के पूर्व पार्षद एवं कांग्रेेस मंडलम अध्यक्ष ने कलेक्टर बुरहानपुर से लगाई गुहार*


बुरहानपुर(मेहलका अंसारी) लोहार मंडी बुरहानपुर के पूर्व पार्षद एवं कांग्रेस मंडलम अध्यक्ष फ़हीम हाशमी ने बताया कि जिले में दो माह से ज्यादा समय से लाॅकडाउन और कर्फ्यू होने के कारण गृह निर्माण से जुड़े मजदूरों को आजीविका चलाने मे बहुत कठिनाईयो का सामना कर रहे है। बुरहानपूर जिले मे इस कार्य से जुड़े मजदूरों की संख्या बहुत ज्यादा है। फहीम हाशमी ने कलेक्टर से निवेदन किया है कि अगर आप इन्हें छूट देते हैं तो इन मजदूरों को बहुत र


निषेधाज्ञा ‘’कर्फ्यू‘’ आदेश दिनांक आज 31 मई 2020 रात्रि 12 बजे तक बढ़ा

बुरहानपुर(मेहलका अंसारी) कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी, बुरहानपुर श्री प्रवीण सिंह ने संपूर्ण बुरहानपुर शहर सीमा में ‘’कर्फ्यू’’ आदेश की अवधि एक दिन के  बुरहानपुर(मेहलका अंसारी) कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी, बुरहानपुर श्री प्रवीण सिंह ने संपूर्ण बुरहानपुर शहर सीमा में ‘’कर्फ्यू’’ आदेश की अवधि एक दिन के लिए बढ़ा दी है। पूर्व में जिले में ‘’कर्फ्यू’’ आदेश दण्ड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 144 में निहित शक्तियों का प्रयोग करते हुए नगर पालिका निगम बुरहानपुर एवं ग्राम एमागिर्द, मोहम्मदपुरा एवं जैनाबाद ग्रामीण क्षेत्र सीमा में ‘’कर्फ्यू’’ आदेश का सख्ती से पालन करने हेतु पारित है। चूंकि वर्तमान परिदृश्य में बुरहानपुर शहर में कोविड-19 कोरोना संक्रमणों की संख्या निरंतर बढ़ रही है। अतः उपरोक्त ‘‘कर्फ्यू‘‘ आदेश की अवधि दिनांक 30/05/2020 की रात्रि 12.00 बजे से 31/05/2020 की रात्रि 12.00 बजे तक बढ़ाई जाती है। इस दौरान अनुमति पास धारको को इलेक्ट्रॉनिक सामग्री रिपेयरिंग व इलेक्ट्रॉनिक सामग्री, घरेलू गैस की टंकी, दूध, पेयजल, किराना/बेकरी/ड्रायफ़ुट के साथ आलू, लहसुन, प्याज, अदरक, नींबू की भी आपूर्ति होम डिलेवरी के माध्यम से संचालित रहेगी। वही इस दौरान बैंकिंग, बीमा कंपनी (एलआईसी), पोस्ट ऑफिस, आयकर, गैस एजेंसी के कार्यालय आंतरिक कार्याे हेतु चालू रहेंगे। बैंकिंग एटीएम, कोरियर सर्विस भी संचालित रहेंगे। यदि कोई व्यक्ति उपर्युक्त आदेश का उल्लंघन करता पाया जाता है, तो उसके विरूद्ध भारतीय दण्ड संहिता के प्रावधानों के तहत अभियोजन की कार्यवाही की जावेगी। ये आदेश तत्काल प्रभाव से प्रभावशील रहेगा एवं इस आदेश का उल्लघंन धारा 188 की भारतीय दण्ड विधान अंतर्गत दण्डनीय अपराध की श्रेणी में शामिल किया जायेगा। कलेक्टर बुरहानपुर द्वारा उनके प्रभार लेने के बाद से आज तक धीरे धीरे निरंतर कर्फ्यू बनाया गया है। मई 2020 का पूरा महीना लाक डाउन के साथ कर्फ्यू में बीता है।


आधार केन्द्र संचालित करने संबंधी आवश्यक दिशा-निर्देश जारी*

बुरहानपुर(मेहलका अंसारी) यूआईडीएआई द्वारा जारी गाइड लाईन अनुसार कलेक्टर श्री प्रवीण सिंह ने बुरहानपुर नगर निगम एवं ग्राम पंचायत एमागिर्द, मोहम्मदपुरा और जैनाबाद के बाहर स्थित आधार केन्द्रों को निम्नानुसार 17 शर्तो एवं निर्देशों के पालन के साथ संचालन की अनुमति प्रदान की है:- 1. केन्द्रों पर सामाजिक दूरी का पालन करना अनिवार्य होगा। 2. केन्द्रों में बिना मास्क लगाये प्रवेश करना वर्जित होगा। 3. केन्द्रों में प्रवेश करने से पूर्व आवेदक के हैण्ड सेनेटाइज करने के उपरान्त ही अन्दर आने दिया जायेगा। 4. बायोमैट्रिक डिवाइस के उपयोग के पूर्व हाथों को सेनेटाईज करना अनिवार्य होगा। 5. आवेदक के अतिरिक्त अन्य व्यक्तियों का केन्द्र मंे प्रवेश करना वर्जित होगा। 6. किसी भी स्थिति मे डेस्क पर दो से अधिक व्यक्ति उपस्थित नहीं रहेगें। 7. कोविड-19 महामारी की रोकथाम हेतु केन्द्र पर आने वाले सभी नागरिकों एवं स्टॉफ को अपने मोबाईल में आरोग्य सेतु एप डाउनलोड करना आवश्यक है। 8. उपकरणों को साफ व स्वच्छ रखा जावे एवं स्टॉफ संपूर्ण समय मास्क पहन कर ही कार्य करे। 9. सभी ऑपरेटर्स एवं अन्य स्टॉफ नियमित रूप से अपने हाथ साफ करे एवं स्वच्छता मानकों का पालन करे, सेनेटाइजर का उपयोग करेंगे। 10. केन्द्रों में कंटेनमेंट जोन के अंदर से आने वाले कर्मचारियों व आवेदकों का प्रवेश प्रतिबंधित होगा। 11. सुविधाओं का लाभ लेने हेतु उपस्थित व्यक्ति को भी मास्क पहनना अनिवार्य है, ऐसा न करने पर संबंधित व्यक्ति द्वारा मास्क पहन कर पुनः आने पर ही सेवा का लाभ प्रदान किया जावे। 12. केन्द्र में आ रहे नागरिकों को उनके हाथ को साबुन या पानी से धोने हेतु प्रोत्साहित करें। 13. प्रत्येक आथेंटिकेशन के पश्चात बायोमेट्रिक मशीनों को अनिवार्यतः सेनेटाईजर से साफ करें। 14. केन्द्र के किसी भी कर्मचारी को सर्दी, खासी या बुखार होने की स्थिति में स्वास्थ्य पुनः ठीक होने तक कोई कार्य न कराया जावे। 15. सुविधाओं का लाभ लेने हेतु उपस्थित व्यक्ति के सर्दी, खासी, बुखार या श्वास लेने की तकलीफ से पीडित होने की दशा मे उन्हें ठीक हो जाने उपरांत पुनः सेवा का लाभ लेने हेतु आग्रह करें। 16. सभी आधार केन्द्र शासन द्वारा जारी एडवाईजरी को आमजन हेतु केन्द्र के बाहर चस्पा करें। 17. उपरोक्त के अलावा स्वास्थ्य मंत्रालय/गृह मंत्रालय, भारत शासन के आदेश, मध्यप्रदेश शासन के आदेश एवं जिला क्राईसिस मैनेजमेंट ग्रुप द्वारा समय-समय पर निर्धारित दिशा-निर्देश का पालन किया जाना अनिवार्य होगा। उपरोक्त अनुमति केवल कंटेमेंट जोन/अस्पताल परिसर व बुरहानपुर नगर निगम एवं ग्राम पंचायत एमार्गिद, मोहम्मददपुरा एवं जैनाबाद सीमा क्षेत्र के बाहर स्थित केन्द्रों के लिए ही है। अतः उपरोक्तानुसार समस्त आधार केन्द्र संचालकों को निर्देशित किया जाता है कि तदानुसार निर्देशों का अक्षरशः पालन सुनिश्चित हो, यदि किसी केन्द्र संचालक द्वारा आदेश की अवहेलना की जाती है तो संबंधित केन्द्र संचालक व कर्मचारियों के विरूद्ध आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 की विहित धाराओं तथा भारतीय दण्ड संहिता की धारा 188 के अंतर्गत दण्डात्मक कार्यवाही की जावेगी। इन स्थानों पर होंगे आधार केन्द्र संचालित ई-गवर्नेंस प्रबंधक श्री मनोज मोहरे ने जानकारी देते हुए बताया कि सोमवार से लोक सेवा केन्द्र खकनार, महिला बाल विकास कार्यालय पुराना आईटीआई कॉलेज रेल्वे स्टेशन रोड़ के पीछे नेपानगर, शासकीय प्राथमिक शाला सामुदायिक हॉस्पिटल के सामने शाहपुर और नगर परिषद शाहपुर में आधार केन्द्र संचालित किये जायेंगे।


बिजली बिल की वसूली पर शीघ्र रोक लगाने,3 माह के बिजली के बिल तुरंत सरकार माफ करने,पावरलूम चालू करने की मांग को लेकर जिला कांग्रेस कमेटी बुरहानपुर के अध्यक्ष अजय सिंह रघुवंशी ने कलेक्टर बुरहानपुर सहित मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एवं पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष को भेजा ज्ञापन


 बुरहानपुर (मेहलका अंसारी) जिला कांग्रेस कमेटी बुरहानपुर के अध्यक्ष अजय सिंह रघुवंशी ने आज सोशल मीडिया के माध्यम से निम्नांकित ज्ञापन कलेक्टर बुरहानपुर को प्रेषित कर उसकी प्रतिलिपि मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एवं मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रदेश अध्यक्ष श्री कमलनाथ एवं पूर्व सांसद एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री तथा पूर्व मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष श्री अरुण यादव सहित समस्त पत्रकार बंधुओं को प्रेषित की है। अजय रघुवंशी ने जो ज्ञापन सार्वजनिक किया है उसके अनुसार उन्होंने बताया है कि बुरहानपुर जिले में दो माह से ज्यादा समय से लाॅकडाउन हो चुका है उसके बावजूद बिजली विभाग द्वारा अपने मनमाफिक उद्योगों,दुकानों व घरों पर बिजली के बिल बनाकर भेज रही हैं और बिजली बिल की वसूली के लिए दबाव बना रही है जिस पर सरकार तुरंत रोक लगाये एवं सभी व्यापार व घरो के 3 माह के बिजली के बिलों को माफ करे। *जिला कांग्रेस कमेटी बुरहानपुर के अध्यक्ष अजय सिंह रघुवंशी के अनुसार पूर्व मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ ने कांग्रेस सरकार बनते ही हर परिवार का 150 यूनिट तक 150 रुपये का बिजली बिल की योजना लागू की,जिससे प्रदेश के हर वर्ग के लाखों लोगों को लाभ हो रहा था,पर भाजपा की खरीदी हुई सरकार ने आते ही लाॅकडाउन में भी बिजली बिलों के माध्यम से जनता से वसूली करना शुरू कर दी है। *जिला कांग्रेस कमेटी बुरहानपुर के अध्यक्ष अजय सिंह रघुवंशी के अनुसार पहले ही लॉकडाउन से हर वर्ग परेशान है प्रत्येक व्यक्ति का काम धंधा चौपट है,ऊपर से घर खर्च व सभी तरह के खर्च बढ़ते जा रहे है इस लॉकडाउन से सबसे ज्यादा गरीब एवं मध्यम वर्गीय परिवार परेशान है और त्रस्त है ऐसे में विद्युत वितरण कंपनी हजारों रुपये के बिजली के बिल दुकानों व घरो पर भेजकर व मैसेज देकर जमा करने को लेकर दवाब बना रही है। ऐसे समय में बिजली विभाग द्वारा हजारो रुपये के बिल देना अव्यवहारिक और घोर निंदनीय है इससे तो गरीब एवं मध्यमवर्गीय परिवार की कमर ही टूट जाएगी। *जिला कांग्रेस कमेटी बुरहानपुर के अध्यक्ष अजय सिंह रघुवंशी के अनुसार मध्यप्रदेश में भाजपा शासन की हठधर्मिता उद्योगों को बहुत ही ज्यादा परेशान कर रही है लाॅकडाउन के बढ़ते हुए काल खंडों में उद्योगों पर बिजली के बिलों की मार,उद्योग विभाग के विभिन्न प्रकारों के शुल्क उद्योगों को आर्थिक विपत्ति में और ज्यादा नुकसान पहुंचा रहे हैं प्रदेश के कई संगठनों ने मध्यप्रदेश शासन से गुहार लगाई है कि बिजली के बिल और शुल्क में छूट दी जाए,क्योंकि लाॅकडाउन पीरियड में उद्योग व्यापार प्रतिष्ठान बंद रहे हैं और शासन उस पीरियड में भी वसूली करने पर उतारू है प्रदेश के कई संगठन इस मामले में न्यायालय में भी शरण ले चुके हैं शिवराज सरकार केवल अपना और अपनों के लिए सोच रही है जबकि देश के करीबन 10 राज्यों में उद्योगों को बिजली के बिलों और शुल्क में छूट देने की घोषणा हो चुकी है घोषणा वीर सरकार कब इस मामले में ध्यान देगी यह सोचने वाली बात है। * किसानों द्वारा हर बार बिजली बिल 6 माह का एडवांस जमा किया जाता है,किन्तु इस बार इस लॉक डाउन के चलते ओर उनकी फसल को दाम ना मिलने से उनकी ये हालत नही है कि वे एडवांस बिल भर सके,अतः भविष्य में किसानों से एडवांस बिल ना लेते हुए प्रतिमाह आने वाले बिल के हिसाब से लिये जाए। * किसान की फसल को उचित मूल्य ना मिलने पर वो अपनी फसल ओने पौने दाम को बेचने को मजबूर है,यहां तक कि उसकी फसल की लागत नही निकल पा रही है,इसे में उन पर बिजली बिल की मार सहन नही हो रही है,अतः उनके पूरे बिल माफ किये जायें। * कई महीनों से बन्द पड़े पावरलूम के कारण अब मजदूरों के घर में चूल्हे बन्द होने की नोबत आ गई है,अतः पावरलूम के कारखाने तत्काल चालू होना चाहिए। * ताज्जुब इस बात का है कि सरकार भाजपा की,सांसद भाजपा के,पूर्व मंत्री भाजपा की,फिर भी उन्हें रोज पत्र लिख लिख कर मांग ही करना पड़ रही है, औेर उन पत्रों के बदले सरकार उनकी एक भी बात मानने को तैय्यार नही है। जिले की जनता अब इनके इस व्यवहार से भली भांति परिचित होने लगी है ,भविष्य में इन नेताओ को चिट्ठीबाज नेताओ के नाम से जानने लगेंगे। * कांग्रेस पार्टी मांग करती है की शिवराज सरकार भी लॉकडाउन के समय के बिजली बिल तत्काल माफ करे और नही करती है और बिजली बिल की जबरन वसूली करती हैं तो कांग्रेस पार्टी लॉकडाउन के बाद शिवराज सरकार के खिलाफ सड़क पर उतरकर चरणबद्ध उग्र-आंदोलन करेगी।


गली मोहल्लों के छोटे बड़े दवाखाने खुलवाने के लिए जिला कांग्रेस कमेटी बुरहानपुर के सचिव मुशर्रफ़ ख़ान ने कलेक्टर बुरहानपुर से निवेदन किया


बुरहानपुर (मेहलका अंसारी) जिला कांग्रेस कमेटी बुरहानपुर के सचिव मुशर्रफ खान ने कलेक्टर बुरहानपुर को व्यक्तिगत रूप से यह सुझाव दिया है कि कोरोना की बढ़ती हुई चैन को रोकने के लिए, आपके द्वारा जो, हर संभव प्रयास और कामयाब कोशिशें की जा रही हैं, उस के लिए ज़िला प्रशासन एवं सभी कोरोना योद्धाओं का बहुत बहुत आभार व्यक्त करने के साथ मुशर्रफ खान ने कलेक्टर बुरहानपुर से व्यक्तिगत रूप से निवेदन किया है कि कोरोना के कारण कुछ बड़े अस्पताल छोड़ कर गली मोहल्लों के तमाम अस्पताल बन्द है। इन अस्पतालों के बंद होने के कारण छोटे गरीब और अनपढ़ लोग,जो अपनी हैसियत के मुताबिक डॉक्टरों के यहां से उधार सुधार दवा लाकर अपना काम चलाते थे उन्हें बहुत ज्यादा परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। जिससे ये स्थिति है कि छोटी,छोटी बीमारियों से पीड़ित व्यक्ति भी डर के कारण शासकीय अस्पताल में जाने को तैयार नहीं है। पता नही क्या डर उसके मन में, उसके दिलो-दिमाग में बैठ गया है ? या यूं कहें कि कई लोगों की धारणा बनी हुई है, या विश्वास बना हुआ है कि मुझे फलां डॉक्टर की दवा से ही फायदा होगा।हालांकि आप ने ताप्ती अस्पताल को फीवर क्लिनिक बनाया है, ये भी बहुत सराहनीय है। लेकिन गरीब लोगों को शहर से दूर जाने में, उसका किराया भाड़ा देने में बहुत ज्यादा परेशानियां हैं। लॉक डाउन के कारण गरीब और छोटे लोग टूट गए हैं। अब उनकी स्थिति भीख मांगने की हो गई है। ऐसी स्थिति में गरीब लोग वहां कैसे पहुंचेंगे यह भी एक बहुत बड़ी समस्या है। ज्यादा उचित होता कि शासकीय नेहरू चिकित्सालय की पुरानी बिल्डिंग के एक भाग को शहर के गरीब लोगों की सहूलियत के हिसाब से फीवर क्लिनिक यहां शुरू किया जाता तो इसका लाभ हर बुरहानपुर वासी को प्राप्त होता। लेकिन बुरहानपुर से 4 किलोमीटर दूर के क्लीनिक का चयन करना भी जन भावनाओं की विपरित होकर न्याय संगत प्रतीत नहीं होता है। कांग्रेस नेता मुशर्रफ खान ने कलेक्टर बुरहानपुर से सोशल मीडिया के माध्यम से व्यक्तिगत रूप से यह निवेदन किया है कि कलेक्टर महोदय यदि जन स्वास्थ्य के प्रति वास्तव में गंभीर हैं और जनता को लाभान्वित करने की इच्छाशक्ति रखते हैं तो कृपया करके गली मोहल्ले के सभी छोटे मोटे दवाखाने और अस्पताल खुलवाने के आदेश निर्धारित शर्तों के तहत एवं सामाजिक दूरी का पालन करने के निर्देश के साथ दे दिए जाएं तो निश्चित ही इस से बुरहानपुर की जनता को लाभ प्राप्त होगा और जनता अपने विश्वास और श्रद्धा के अनुसार अपने फैमिली डॉक्टर को बताकर उसका इलाज प्राप्त करके ठीक हो सकेगी। पर्याप्त इलाज के अभाव में एवं अपनी श्रद्धा और विश्वास का डॉक्टर नहीं मिलने से कई लोग इसका शिकार हो रहे हैं। मोहल्ला या गली के किसी डॉक्टर को यह भी निर्देश दिया जा सकता है कि अगर किसी को कोई गंभीर बीमारी या उसके लक्षण हैं तो वो डॉक्टर जिला प्रशासन के अधिकारियों को विधिवत रूप से मोबाइल से या व्हाट्सएप से या अन्य साधन से सूचित कर सकता है । मेरी राय है कि कलेक्टर महोदय अगर इस सुझाव पर विचार करें तो आधी समस्या अपने आप हल हो जाएगी।


लाकडाऊन, कर्फ्यू नियमों का उल्लंघन करने पर सिटी कोतवाली थाना में तीन आरोपियों पर हुआ अपराध पंजीबद्ध


बुरहानपुर जिले में कोरोना पाजिटिव 05 लोगों की रिपोर्ट प्राप्त


बुरहानपुर - स्वास्थ्य विभाग के सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार आज प्रातः आई रिपोर्ट में 05 कोरोना पॉजिटिव की रिपोर्ट आयी हैं। अब तक कुल एक्टिव केस 88 कोरोना वायरस के संक्रमण मृत 15 है। जिला कलेक्टर प्रवीण सिंह ने कर्फ़्यू 31 मई तक बढ़ा दिया गया है। कर्फ़्यू का उल्लंघन करने वालों पर तुरंत कार्यवाही की जा रही है। प्रशासन सतर्क है और उन्होंने सभी से यह अपील की है की अपने घरों में रहें,अफवाहों से बचें एवं प्रशासन द्वारा दी गई दिशा निर्देशों का पालन करें। नए क्षेत्रों में पॉजिटिव केस मिलते ही उन क्षेत्रों में बैरिकेडिंग की जा रही है। संदिग्धों को आइसोलेट करने की तैयारियां आरंभ हो चुकी हैं। स्वास्थ विभाग पूरा डाटा तैयार कर रहा है।  


कलेक्टर-एसपी ने किया रेलवे स्टेशन का निरीक्षण..... ट्रेन से आवागमन के संबंध में दिए आवश्यक निर्देश...


हरदा  /रेल मंत्रालय भारत सरकार के निर्देशानुसार 1 जून से हरदा रेलवे स्टेशन पर ट्रेनों का आवागमन प्रारम्भ होगा। इस संबंध में स्टेशन प्रबंधन एवं प्रशासन द्वारा सभी व्यवस्थाएँ सुनिश्चित की जा रही है। कलेक्टर अनुराग वर्मा एवं पुलिस अधीक्षक मनीष अग्रवाल द्वारा रेलवे स्टेशन का निरीक्षण कर व्यवस्थाओं का जायज़ा लिया गया तथा आवश्यक निर्देश दिए गए। अधिकारी द्वय द्वारा निर्देशित किया गया कि स्टेशन पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन सुनिश्चित कराएं। सभी यात्री एवं कर्मचारी मास्क का उपयोग अनिवार्य रूप से करें। जीआरपी द्वारा स्टेशन पर समस्त व्यवस्था बनाई जाए। भीड़ अधिक होने पर पुलिस के जवान भी तैनात किए जाएंगे। कलेक्टर श्री वर्मा ने कहा कि ट्रेन से जाने तथा आने वाले सभी व्यक्तियों की सूची बनाएं। सभी यात्रियों का स्वास्थ्य परीक्षण भी करवाएं। हरदा से मुईन अख्तर खान


साहिर खान बने कलाकार संरक्षक...


हरदा ।अखिल भारतीय कलाकार संगठन मध्य प्रदेश में प्रदेश संरक्षक पद पर स्थानीय पूर्व पार्षद साहिर खान मुन्ना पेंटर्स की नियुक्ति की गई है प्राप्त जानकारी अनुसार भारतीर कलाकार संगठन मध्य प्रदेश में कलाकारों के हितों में कार्य करता है यह संगठन पिछले कई वर्षों से मध्यप्रदेश में कलाकारों की समस्याओं के लिए निरंतर संघर्ष करना है उनके संघर्ष को आगे बढ़ाने के लिए नेता प्रतिपक्ष साहिर खान मुन्ना पेंटर्स को संगठन में प्रदेश संरक्षक मनोनीत किया गया है उनकी इस नियुक्ति पर अनवर मोहम्मद फारुकी याह्या खान यासीन खान राजेश सांगुले इकबाल खान सैय्यद मंसूर अली जफर खान नादिर पठान आबिद अली बशीर मंसूरी तथा पेंटर्स एसोसिएशन ने बधाई प्रेषित की है । हरदा से मुईन अख्तर खान


कुपोषित बच्चों को खिलाया पोष्टिक आहार, बताया महत्व

बुरहानपुर। शहर के आलमगंज सेक्टर के अंतर्गत सिंधीपुरा आंगनवाड़ी केंद्र 4 पर बाल भोज कराया गया। कार्यकर्ता मंजू सिंह ठाकुर ने बताया गुरुवार को...