रविवार, 31 मई 2020

प्रथमपूज्य के परमभक्त प्रदीप चौधरी प्रवासी परिवारों की सेवा मे भी प्रथम (श्रीसिद्धिविनायक भक्त मंडल की सर्वत्र सराहना)


 देवास(शाकिर अली दीप) शहर और बायपास से लगे बालगढ़ के श्रीसिद्धिविनायक भक्त मंडल द्वारा अपने क्षेत्रवासियों सहित बायपास से पैदल और दूसरे साधनो से अपने घर जा रहे लाखों प्रवासी मजदूरों को भोजन,पानी,दूध,दलिया और दवाइयां देकर ,सेवा का जो श्रीगणेश किया था वह अब पहले स्थान पर बताया जा रहा है । जिसके होठों पर प्रथम पूज्य श्रीसिद्धिविनायक की जयजयकार हो/ श्रद्धा ,धन्यवाद और आत्मविश्वास की शक्ति अपार हो/दिल मे दया , सद्भावना और प्यार हो/नर के रुप मे नारायण की सेवा ही जिसका आधार हो/ उसका हर कार्य सिद्ध ,सफल और प्रसिद्ध होता है इसका प्रमाण हैं संस्था सिद्धिविनायक के संयोजक प्रदीप चौधरी और उनके सहयोगी ।


 


कोरोना संक्रमण के कारण लॉकडाउन की शुरुआत से ही आसपास की बस्तियों मे राशन के पैकेट बांटने वाले श्री सिद्धिविनायक भक्त मंडल के सदस्यों ने, प्रदीप चौधरी के नेतृत्व मे बायपास से हजारों मील दूर अपने आशियाने पर जा रहे मेहनतकश मजदूरों,उनके बच्चों और महिलाओं की सेवा का सुनहरा इतिहास बनाकर देवास की शोहरत को देश के अनेक राज्यों तक विस्तारित किया है । देवास नगर निगम के सभापति रहे ,सरल और सहयोगी किसान स्वर्गीय रतनलाल चौधरी के लाल प्रदीप चौधरी ने अपने पार्षद कार्यकाल को मेयर इन कौंसिल सदस्य रहते हुए ,यादगार बनाया और विशाल कावड़ यात्रा के आयोजन की सफलता का कीर्तिमान बनाकर श्रद्धा का सुन्दर रुप भी दिखाया । रोजाना पन्द्रह क्विंटल आटे की , खास मसाले डालकर बनायी गईं , जायकेदार पूड़ी बंटवाने वाले चौधरी कहते हैं कि हमारा भोजन पेट भरने के साथ पोष्टिक भी है जो लम्बा सफर करने वाले मजदूरों को ताकत देता है और खराब भी नहीं होता । पांच सौ पैकेट का श्रीगणेश अब पन्द्रह हजार पैकेट का प्रवाह बन गया है ।



जिसे खाने वाले श्रीसिद्धिविनायक भक्त मंडल के लिए प्रार्थना कर रहे हैं कि मानवसेवियों की सेहत और सुरक्षा बनी रहे । भोजन बनाने वाले भीषण गर्मी की परवाह किये बगैर ,पचास पचास के समूह और दो शिफ्टों मे अपनी सेवाएं दे रहे हैं । इतनी ही संख्या मे सहयोगी, पैकिंग से लेकर भोजन बांटने मे भी शामिल हैं । बीस हजार से भी ज्यादा मजदूरों को चप्पल पहनाकर खुश होने वाले प्रदीप चौधरी यह सेवा व्यक्तिगत रुप से श्री सिद्धिविनायक की कृपा और आशिर्वाद मानकर कर रहे हैं । आपने कुछ और समाजसेवी संस्थाओं को भी आटा और तेल से सहयोग देकर उनका साहस बढ़ाया है । आपके साथ समर्पित साथियों का बड़ा समूह है जिसमे पूर्व पार्षद छोटू गुर्जर भी शामिल हैं । बेहतरीन भोजन के लिये बेहतरीन किराना,आटा और तीन दिन मे समाप्त होने वाला एक हजार लीटर तेल भी शामिल है जो सीधे कम्पनी से लाया जा रहा है । प्रदीप चौधरी ने लॉकडाउन से अब तक अस्सी लाख रुपये खर्च कर दिये हैं और मानव सेवा का यह पुण्य कार्य अब भी जारी है । आपका कहना है कि मुझे यह अवसर श्रीसिद्धिविनायक और महादेव की कृपा से मिला है और इसका कोई राजनीतिक मतलब न निकाला जाए क्योंकि हजारों प्रवासी मजदूर न मेरा चेहरा जानते हैं और न मै उन्हें जानता हूं । प्रदीप चौधरी वास्तव मे जनसेवा के चैम्पियन साबित हो रहे हैं ।


कुपोषित बच्चों को खिलाया पोष्टिक आहार, बताया महत्व

बुरहानपुर। शहर के आलमगंज सेक्टर के अंतर्गत सिंधीपुरा आंगनवाड़ी केंद्र 4 पर बाल भोज कराया गया। कार्यकर्ता मंजू सिंह ठाकुर ने बताया गुरुवार को...