शनिवार, 18 अप्रैल 2020

धार्मिक स्थल ग्राम झांझरी में कोरोना  संदिग्ध वृद्ध मृत महिला के मकान में इलाज कर लंबे समय से क्लीनिक संचालित कर रहा था डॉक्टर बंगाली



बंगाली डॉ द्वारा नियमों को ताक में रखकर लॉक डाउन के दौरान घर पर महिला का इलाज करते व ड्रिप लागते पकड़ा।
मौके पर पंचनामा बनाया , बड़ी मात्रा में ईलाज की दवाइयां  जप्त की ।कोई भी सुरक्षा व्यवस्था नहीं थे इंतजाम
फोटो


खिरकिया तहसील के ग्राम झांझरी मैं कोरोना का संदिग्ध मानते हुए वृद्ध महिला की मौत हो गई थी धार्मिक स्थल के पास दफनाने को लेकर ग्रामीणों ने आपत्ति उठाई थी महिला कोरोना  संक्रमित हो सकती है ग्रामीणों की सूचना पर बीएमओ डॉ राजेंद्र ऑनकर के साथ कोरोना वायरस टीम ने मौके पर पहुंचकर सैंपल लिए मौके पर तहसीलदार अलका एक्का नायब तहसीलदार कुलदीप सिंह एस आई मनीष चौधरी मौके पर पहुंचे थे ग्राम झंझरी के ग्रामीणों ने बताया कि गोविंद नामक बंगाली डॉक्टर झांझरी में वृद्ध महिला के मकान में लंबे समय से क्लीनिक संचालित करता रहा है बंगाली द्वारा वृद्ध मृत महिला का लंबे समय से इलाज  किया जा रहा था परंतु तबीयत ज्यादा बिगड़ने पर उसे हरदा जिला चिकित्सालय मैं इलाज ले गए थे इलाज करा कर घर लाए थे  बुधवार रात्रि को  उसकी मृत्यु हो गई थी ग्रामीणों की शिकायत पर डॉक्टर गोविंद के खिड़कियां में बने आवास पर तहसीलदार अलका एक्का टीआई ज्ञानू जायसवाल ने छापामार कार्रवाई की जिसमें बंगाली डॉक्टर को ड्रिप लगाते हुए बड़ी मात्रा में दवाइयां जबकि है शहर से लेकर गांव तक बंगाली डॉक्टरों ने अपने पैर पसार रखें
लॉक डाउन के दौरान नगर के बीचो बीच  गोविंद  नामक बंगाली डॉक्टर पूरे नियम और कायदे कानून को ताक मैं रखकर यूज करी हुई खाली बोतले इंजेक्शन से प्रतीत होता है कि  सर्दी खासी पेट दर्द कोरोना बीमgारी के हजारों लोगों का अभी तक इलाज कर चुका है  नगर में वार्ड क्रमांक 2   मातृश्री कॉलोनी में
बंगाली डॉ गोविन्द को उनके घर पर महिला सुनीता  पति भागवत  खंडवा जिले के ग्राम  सुखलिया तलाई का इलाज करते व ड्रिप लागते पाया। तहसीलदार अलका एक्का टीआई ज्ञानू जयसवाल ने
मौके पर पंचनामा बनाया ,व ईलाज की दवाओं इत्यादि को जप्त किया गया। तहसीलदार अलका एक्का ने बताया कि
कोई भी सुरक्षा व्यवस्था मास्क,ग्लब्स नही थे
बंगाली डॉक्टर द्वारा क्लीनिक का संचालन किया जा रहा था जिसकी शिकायत स्थानीय प्रशासन को बार बार मिल रही थी जिसके चलते कुछ लोगों द्वारा पुलिस व राजस्व शिकायत के बाद तहसीलदार  अलका एक्का  व थाना प्रभारी ज्ञानू जायसवाल  मौके पर पहुंचकर उस क्लीनिक खुली हो  पाई गई और लोगों की भीड़ भी जुट रही थी खंडवा जिले के  किल्लौद थाना अंतर्गत ग्राम  सुखलिया तलाई सुमिता पति भागवत आदिवासी का सर्दी खांसी एवं पेट दुखने का इलाज किया जा रहा था जबकि   लॉक डाउन के चलते लोगों को अपने अपने घरों में रहना होता है पर उसका पालन नहीं हो रहा था जिसके चलते पहले तो तहसीलदार अलका एक्का एवं थाना प्रभारी ज्ञानू जायसवाल अपने दल बल के साथ मौके पर पहुंचकर बड़ी मात्रा में दवाई जप्त कर  कार्रवाई की है


अवैध मदिरा एवं ताड़ी के विरूद्ध चलाये जा रहे अभियान के तहत छापा मार कार्रवाई* *आबकारी विभाग ने की कार्रवाई*

*ब्युरो दशरथ सिंह कट्ठा झाबुआ...9685952025* झाबुआ - अवैध मदिरा के विरूद्ध चलाये जा रहे अभियान के तहत झाबुआ जिले में अवैध मदिरा की बिक्री पर ...