गुरुवार, 9 अप्रैल 2020

कलेक्टर ने लोक स्वास्थ्य एवं लोक हित में कोरोना वायरस से बचाव एवं रोकथाम के लिए किया जांच दल गठित*    


बुरहानपुर(मेहलका अंसारी)जिले में लोक स्वास्थ्य एवं लोक हित को दृष्टिगत रखते हुए कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री राजेश कुमार कौल ने कोरोना वायरस कोविड-19 के बढ़ते हुए संक्रमण को देखते हुए जिले में प्रत्येक व्यक्ति की जांच किए जाने का निर्णय लिया है।  उन्होंने इसके लिए नगरीय एवं पंचायत स्तर पर जांच दल गठित किया है। 
    नगरीय स्तर पर कलेक्टर श्री कौल द्वारा वार्ड मोहर्रिर, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता, आंगनवाड़ी सहायिका और शहरी आशा कार्यकर्ता को दल में शामिल किया है। वही पंचायत स्तर पर सचिव, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता, सहायिका, आशा कार्यकर्ता, सहायक सचिव व ग्राम कोटवार को सम्मिलित किया गया है। 
    कलेक्टर श्री कौल द्वारा उक्त दलों को निर्देशित किया है कि, दल द्वारा संयुक्त रूप से प्रत्येक घर का भ्रमण कर घर में प्रत्येक व्यक्ति से प्रश्न पूछकर निर्धारित प्रपत्र में जानकारी संधारित करें। दल द्वारा प्रत्येक घर से यह प्रश्न पूछे जायेगे, जैसें-क्या आपको तेज बुखार आ रहा है ?, क्या आपके गले में खरास है?, क्या आपको सूखी खांसी आ रही है?, क्या आपको सांस लेने में कोई तकलीफ/दमा, टीबी है?, क्या किडनी (गुर्दा) लीवर (यकृत), ह्दय रोग, शुगर की तकलीफ है?, क्या ब्लड प्रेशर की बीमारी है? अन्य किसी भी बीमारी की नियमित रूप से दवाई ली जा रही है? यह सभी प्रश्न आपसे दल के सदस्यों द्वारा पूछे जायेगें जिसका सही जवाब दें। यह सभी प्रकार की प्रक्रिया आम जन की भलाई और सुरक्षा के लिए की जा रही है इनका सहयोग करें। 



    कलेक्टर श्री कौल ने उक्त दलों के सदस्यों को तीन दिवस में कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिये है। कलेक्टर श्री कौल ने समस्त जिलेवासियों से अपील की है कि दल के सदस्यों को जानकारी देने के लिए अपने घर के बाहर ही जानकारी उपलब्ध कराये तथा सोशल डिस्टेंस बनाये रखे। यह एक संकेत है कि अभी तक बुरहानपुर जिले में एक भी व्यक्ति कोरोना पाजिटीव नहीं है, जो कि हमें इस ओर इशारा करता है कि हमें सतर्क रहना आवश्यक है क्योकि यह जानलेवा वायरस हम पर हावी ना हो पाये।


कुल्हाडी मार कर अस्थिभंग करने के मामले में आरोपी को दो वर्ष की सजा और अर्थदण्ड

 छतरपुर- कुल्हाडी मार कर अस्थिभंग करने के मामले में कोर्ट ने फैसला दिया। बिजावर अपर सत्र न्यायाधीश की अदालत ने आरोपी को दो साल की कठोर कैद क...