गुरुवार, 9 अप्रैल 2020

कोरोना महामारी संकट में बेजुबान पक्षियों का भी ध्यान रखें-  टाइगर फोर्स


बडवाह  देश में कोरोना महामारी संकट के बढ़ते हुए आलम को देखते हुए टाइगर फोर्स के पदाधिकारियों ने सर्व सम्मति से निर्णय  लिया कि बेजुबान पक्षियों और पशुओं का ध्यान भी रखेंगे
इंसानों की तरह पशु-पक्षियों को जिंदा रहने के लिए हर रोज पानी की जरूरत होती है। गर्मियों में हर साल सैकड़ों पक्षी और आवारा पशु पानी की कमी से मर जाते हैं।
 टाइगर फोर्स  के जिला जांच एवं सतर्कता अधिकारी सुनील परिहार ने कहा, "आपको बस एक कटोरी या बर्तन में पीने लायक पानी अपनी बालकनी, छत, बरामदा, खिड़की, गार्डन, उद्यान या सड़क के किनारे रखना है। इससे पशुओं और पक्षियों की जान बच सकती है। टाइगर फोर्स प्रदेश अध्यक्ष महिपाल सिंह मेवाडे ने कहा कि
गर्मियों में कई परिंदों व पशुओं की मौत पानी की कमी के कारण हो जाती है। लोगों का थोड़ा सा प्रयास घरों के आस पास उड़ने वाले परिंदों की प्यास बुझाकर उनकी जिंदगी बचा सकता है। सुबह आंखें खुलने के साथ ही घरों के आस-पास गौरेया, मैना व अन्य पक्षियों की चहक सभी के मन को मोह लेती है। घरों के बाहर फुदकती गौरेया बच्चों सहित बड़ों को भी अपनी ओर आकर्षित करती है। गर्मियों में घरों के आसपास इनकी चहचहाहट बनी रहे, इसके लिए जरूरी है कि लोग पक्षियों से प्रेम करें और उनका विशेष ख्याल रखें


आदिम जाति सेवा सहकारी संस्था रम्भापुर में संचालकों के चुनाव के बाद निविरोध चुने गए अध्यक्ष, उपाध्यक्ष एवं अन्य संस्था के प्रतिनिधि* *रम्भापुर सोसाइटी के अध्यक्ष बने कमलसिंह हाडा (भुंडीया )*

*ब्युरो दशरथ सिंह कट्ठा झाबुआ...9685952025* झाबुआ - जिलें के मेघनगर के ग्राम रम्भापुर में आदिम जाति सेवा सहकारी संस्था के संचालको के चुनाव 2...