मंगलवार, 28 अप्रैल 2020

कोरोना संक्रमण को भी धर्म से जोड़ कर  दी  जाति सूचक धमकियां .... आसामाजिक तत्वों पर कार्यवाही की मांग.......


खड़वा ।  खंडवा जिले  हरसूद ब्लॉक के ग्राम बोरी सराय जहाँ पर  सामाजिक संवेदनाओं पर सवाल खड़ा कर दिया है. *ग्राम बोरी सराय में  श्याम पटेल और उसके निम्न साथियों द्वारा गांव की मस्जिद पर हमला कर सदर इमाम और नमाजियों से मारपीट की गईं* 
मुस्लिम समुदाय को चैलेंज करते हुए आपत्तिजनक गालियां दी गई और गांव के सभी मुस्लिम समुदाय को जान से मारने की धमकी दी गई  नमाज अजान मस्जिद को बंद करने धमकी दी गई इस संबंध में   रफीक खान ने बताया कि हमारे गांव बोरी सराय में दिनांक 27 अप्रैल  सोमवार को दोपहर गांव की मस्जिद में इमाम साहब द्वारा गांव के और तीन अन्य लोगों को नमाज पढ़ाई जा रही थी तभी अचानक गांव के श्याम पटेल  एवं उसके अन्य साथियों द्वारा मस्जिद पर हमला कर दिया गया जबरदस्ती मस्जिद से बाहर निकाल कर इमाम साहब और नमाजियों के साथ आपत्तिजनक टिप्पणी करते हुए गालियां दी गई मस्जिद में घुसकर मस्जिद के माइक और अन्य वस्तुओं के 7 तोड़-फोड़ की गई और मस्जिद के पानी के ट्यूबेल में से मोटर निकालकर उसमें पत्थर भर दिए वही  रफीक सदर खान  समझाने के लिए सामने आए तो उन्हें धार्मिक टिप्पणी कर गाली गलौज देकर उसको भी मारा गया और सभी मुस्लिम समुदाय को जान से मारने की धमकी दी गई श्याम पटेल जबरदस्ती मस्जिद में उनके द्वारा ताला लगा दिया गया रफीक खान ने बताया कि इनसे हमें जान माल और हमारी बीवी बच्चों की इज्जत का खतरा बना हुआ है   हरसूद पुलिस और तहसीलदार द्वारा कोई कार्यवाही नहीं होने पर दंडात्मक अधिकारी  को आवेदन दिया गया जिसमें बताया गया की हमारे गांव बोरी सराय मैं निम्न घटना के बाद हरसूद पुलिस और तहसीलदार  द्वारा कोई ठोस कार्रवाई नहीं करते हुए अपराधियों का साथ दिया गया थाने पहुंचे लोगों को साधारण कागज पर लिखकर रवाना कर दिया गया और बाद में गांव पर आकर अपराधियों का ही साथ देकर मस्जिद पर रोक लगा दी गई हरसूद पुलिस द्वारा कोई एफआईआर भी दर्ज नहीं की गई और तहसीलदार  ने भी इसके विरुद्ध कोई एक्शन नहीं लिया हम गांव वालों को उल्टा समझाइश देकर रवाना हो गए और हमें मस्जिद में सीसीटीवी कैमरे लगवाने का हुक्म दिया गया  इस महामारी के दौर में हम गरीबों के पास अभी खाने पीने के पैसे नहीं है और जवाबदार अधिकारियों द्वारा हमें ही उल्टा जवाब देकर सीसीटीवी कैमरे लगवाने का कह दिया गया  लापरवाह हरसूद पुलिस और तहसीलदार के विरुद्ध कार्यवाही की जावे । विश्व मुस्लिम बोर्ड मध्यप्रदेश ने घटना की घोर निंदा करते हुए आरोपियों को जल्द गिरफ्तार करने की मांग की है साथ ही धार्मिक मौलाना सलमान रज़ा ने भी अपने वक्तव्य में इस घटना को गंगा जमुना तहजीब से जोड़ते हुए कहा कि इस तरिके का कृत्य देश को शर्मसार कर रहा है । इस देश में सभी को अपनी बात रखने का हक है । परन्तु जोरजबरदस्ती कर माहौल खराब किया जाना निदंनीय है । 
मुईन अख्तर खान की रिपोर्ट...


कुल्हाडी मार कर अस्थिभंग करने के मामले में आरोपी को दो वर्ष की सजा और अर्थदण्ड

 छतरपुर- कुल्हाडी मार कर अस्थिभंग करने के मामले में कोर्ट ने फैसला दिया। बिजावर अपर सत्र न्यायाधीश की अदालत ने आरोपी को दो साल की कठोर कैद क...