बुधवार, 22 अप्रैल 2020

कोटा में अध्यनरत बुरहानपुर के छात्र और पालक सरकार की पहल से सकुशल घर लौटे।


बुरहानपुर -उत्तर प्रदेश सरकार के बाद अब मप्र सरकार ने भी राजस्थान के काेटा में फंसे प्रदेश के 3191 छात्राें काे वापस लाने का अभियान शुरू किया है। इसी कड़ी में बुधवार काे काेटा में रहकर विभिन्न परीक्षाओं की तैयारी कर रहे  9 जिलों के 153 छात्र 9 बसाें से सवार होकर आगर-मालवा पहुंचे। आरटीओ सुरेन्द्र सिंह गौतम ने बताया कि कोटा से आगर मालवा पहुँचे बच्चों  में बुरहानपुर जिले के 5 बच्चे भी और पालक शामिल थे । उन्हें आज सकुशल बुरहानपुर लेकर आये।



बुरहानपुर पहुंचने के बाद सभी को जिला चिकित्सालय ले जाकर सभी का स्वास्थ्य परिक्षण करवा कर उन्हें उनके घर भिजवाया गया। 
 काेटा से अपने प्रदेश की सीमा में दाखिल हाेते बच्चाें के चेहरे खिल उठे।उन्हाेंने मुख्यमंत्री का आभार मानते हुए कहा कि मामा से हमें यही उम्मीद थी। बुरहानपुर पहुंचे बच्चाें के स्वास्थ्य अधिकारियों ने स्वास्थ्य परीक्षण की जानकारी ली । सिविल सर्जन डाॅ शकिल शेख ने बताया कि सभी बच्चों का स्वास्थ्य परिक्षण करवा गया उनमें किसी प्रकार के कोई लक्षण नहीं दिखाई दिये वह पूर्णतया स्वस्थ है। स्वास्थ्य परीक्षण के बाद बच्चों को नोडल अधिकारी के माध्यम से छात्रों को उनके घर पहुंचाया गया है छात्रों को उनके मोबाइल पर सार्थक एप्प डाउनलोड कराया गया जिससे उनकी लोकेशन का पता रहे तथा वे होम क्वारैंटाइन में रहे।


किस जिले के कितने बच्चे आए
जिलेछात्रों की संख्या
बड़वानी 07
बुरहानपुर05
देवास09
इंदौर22
खंडवा25
खरगोन24
शाजापुर29
उज्जैन26
आगर मालवा07


आदिम जाति सेवा सहकारी संस्था रम्भापुर में संचालकों के चुनाव के बाद निविरोध चुने गए अध्यक्ष, उपाध्यक्ष एवं अन्य संस्था के प्रतिनिधि* *रम्भापुर सोसाइटी के अध्यक्ष बने कमलसिंह हाडा (भुंडीया )*

*ब्युरो दशरथ सिंह कट्ठा झाबुआ...9685952025* झाबुआ - जिलें के मेघनगर के ग्राम रम्भापुर में आदिम जाति सेवा सहकारी संस्था के संचालको के चुनाव 2...