मंगलवार, 14 अप्रैल 2020

लाक डॉउन के संबंध में कलेक्ट्रेट बुरहानपुर में आयोजित बैठक में पूर्व मंत्री श्रीमती अर्चना चिटनिस ने दिए सुझाव*


बुरहानपुर (मेहलका अंसारी) कलेक्ट्रेट कार्यालय बुरहानपुर में आज मंगलवार को लॉकडाउन को लेकर आयोजित अधिकारियों-जनप्रतिनिधियों की बैठक में मध्यप्रदेश की पूर्व कैबिनेट मंत्री श्रीमती अर्चना चिटनिस (दीदी) ने जिला प्रशासन के समक्ष जनता के विभिन्न मुद्दों-विषयों पर अपने विचार व्यक्त किए।
बैठक में श्रीमती अर्चना चिटनिस ने बुरहानपुर की जनता की ओर से जिला प्रशासन की प्रशंसा करते हुए कहा कि महाराष्ट्र एवं बुरहानपुर के आसपास के जिलों की कोरोना वायरस संक्रमण की स्थिति को देखते हुए अपने जिले के ग्रीन झोन में रहने पर अभिनंदन किया। उन्होंने कहा कि बुरहानपुर में पॉवरलूम, औद्योगिक क्षेत्र के कार्यरत् श्रमिकों-मजदूर बड़ी संख्या में निवासरत होने के बावजूद इस प्रकार के संक्रमण से मुक्त रहना हम सब पर ईश्वर की बड़ी असीम कृपा है। आने वाले दिनों में आगामी 20 अप्रैल तक हमारा जिला और अधिक सतर्कता-जागरूकता रखते हुए प्रशासन की मदद से संक्रमण से मुक्त रहे यह हम सबकी सामूहिक जिम्मेदारी है। हम सब मिलकर आने वाली चुनौतियों का डटकर जिला प्रशासन के साथ मिलकर सामना करेंगे।
श्रीमती चिटनिस ने कहा कि केन्द्र सरकार एवं राज्य सरकार द्वारा निर्देश एवं आश्वासनों को दृष्टिगत रखते हुए जिस प्रकार मेडिकल सेवाएं लॉकडाउन अवधि में छूट प्राप्त है उसी प्रकार किसानों के हितों को ध्यान में रखते हुए कृषि आदान एवं उपक्ररणों सहित मरम्मत की दुकानों में छूट दिया जाना चाहिए। क्योंकि बुरहानपुर उद्यानिकी फसलों से आच्छादित जिला है। यहां पर केला, गन्ना एवं मौसमी फल-सब्जी की फसलें बहुतायात में लगाई जाती है। वर्तमान भीषण गर्मी के समय को देखते हुए मध्यप्रदेश के अन्य जिलों की भांति यहां पर भी समर्सिबल पंप विक्रेता, मरम्मतीकरण की दुकान, कम्बाईन हार्वेस्टर मशीन, थ्रेसर, ट्रेक्टर, स्ट्रा रीपर, ट्रक रिपेयर एवं इससे संबंधित पार्टस विक्रेेताओ की दुकान के अतिरिक्त आटा चक्की, थोक रस्सी विक्रय, पशु आहार विक्रय की दुकान, सोशल डिस्टेंस के नियमों का पालन करते हुए अतिशीघ्र खुलवाने के आदेश कृषकहित में जिला प्रशासन जारी करें। जिससे प्रधानमंत्री जी के संबोधन के अनुसार हम 20 अप्रैल के बाद लॉकडाउन में कुछ राहत प्राप्त करे सकें।
श्रीमती चिटनिस ने बैठक में आगे कहा कि बुरहानपुर नगर में कुछ स्थानों पर नमक की कमी की शिकायतें भी मिल रही है जिससे नमक प्रचलित दरों से दाम पर बिकने की खबरें भी आ रही है। जिला प्रशासन नमक के होलसेल व्यापारियों से संपर्क कर यह सुनिश्चित करें कि नमक पर्याप्त मात्रा व प्रचलित दरों पर मिल सके।
श्रीमती अर्चना चिटनिस ने आगे कहा कि प्रधानमंत्री मा.श्री नरेन्द्र मोदी एवं मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री मा.श्री शिवराजसिंह जी चौहान द्वारा जनधन योजना के खातेदारो, श्रमिकों, मजदूरों, महिलाओं, सामाजिक सुरक्षा पेंशन धारकों एवं अन्य पात्र हितग्राहियों के खातें में राशि डलवाई है। जिला प्रशासन को चाहिए कि मा.प्रधानमंत्री जी एवं मा.मुख्यमंत्री जी की भावना के अनुशरण में अग्रणी बैंक एवं जिला क्षेत्र की सभी बैंकों को निर्देशित करें कि पात्र हितग्राहियों कोे टोकन पद्धति से नगद राशि का भुगतान किया जाना सुनिश्चित करें।
पूर्व मंत्री श्रीमती चिटनिस ने मध्यप्रदेश शासन द्वारा दिए गए विभिन्न आदेशों का हवाला देते हुए कहा कि मध्यप्रदेश शासन ने यह निर्णय किया है कि प्रदेश में कहीं भी कोई मालयान, चाहे वह भरा हो या खाली हो, रोका नहीं जाएगा। मात्र भारवाहक के केवाइसी एवं सक्षम परिवहन कागज का संतोषजनक होना ही पर्याप्त है इसके साथ ही लॉकडाउन अवधि में खाद्यान्न उपार्जन एवं अनुशांगिक गतिविधियों तथा अत्यावश्यक सेवाओं, आपातिक कार्यों के लिए जिले के भीतर, अंर्तजिला एवं जिले में अन्य राज्य में आवागमन हेतु अनुमति (ई-पास) की प्रक्रिया के लिए भी शासन ने स्पष्ट निर्देश जिला प्रशासन के लिए जारी कर दिए है। जिसका अनुशरण कर जिला प्रशासन को ई-पास व्यवस्था संचालन करना है। इस हेतु जिला प्रशासन इलेक्ट्रानिक, प्रिंट एवं सोशल मीडिया में प्रमुखता से प्रचार-प्रसार करें। श्रीमती अर्चना चिटनिस ने आगे कहा कि गृह मंत्रालय एवं राज्य शासन के पत्रों का जिला प्रशासन तत्काल अनुकरण करें जिससे नागरिकों को रोजमर्रा की समस्याओं के निराकरण में बड़ी राहत मिल सके।



आदिम जाति सेवा सहकारी संस्था रम्भापुर में संचालकों के चुनाव के बाद निविरोध चुने गए अध्यक्ष, उपाध्यक्ष एवं अन्य संस्था के प्रतिनिधि* *रम्भापुर सोसाइटी के अध्यक्ष बने कमलसिंह हाडा (भुंडीया )*

*ब्युरो दशरथ सिंह कट्ठा झाबुआ...9685952025* झाबुआ - जिलें के मेघनगर के ग्राम रम्भापुर में आदिम जाति सेवा सहकारी संस्था के संचालको के चुनाव 2...