मंगलवार, 21 अप्रैल 2020

राजस्थान के कोटा से एमपी के बच्चों को लाने के लिए ग्वालियर से 150 बस रवाना

 


राजस्थान  के कोटा शहर में पढ़ाई करने गए मध्य प्रदेश के बच्चों को वापस घर लाने के लिये ग्वालियर से बसें कोटा के लिये रवाना हुईं. इन बसों को SAF ग्राउंड से रवाना किया गया. इसके लिए अपर आयुक्त नगर निगम दिनेश शुक्ला  के नेतृत्व का तीन सदस्यीय दल पहले से ही कोटा पहुंच गया है.


कोरोनावायरस (Coronavirus) के संक्रमण को रोकने के लिये पूरे देश में लॉकडाउन (Lockdown) लागू किया गया है. जो जहां है, उसे वहीं रहने का आदेश दिया गया है. इसी वजह से राजस्थान के कोटा से मध्य प्रदेश के बच्चों को वापस उनके घर लाने के लिये 150 बसों की व्यवस्था की गई है.
ग्वालियर से 150 बसें 21 अप्रैल को सुबह 7 बजे SAF मैदान से रवाना की गई.
इन सब के बीच सभी जरूरी गाइडलाइंस का भी ध्यान रखा जा रहा है. बच्चों को लाते समय संक्रमण से बचने के लिए सभी सावधानियों को ध्यान में रखा गया हैं. संक्रमण को फैलने से रोकने के लिये बसों को नगर निगम के माध्यम से सैनिटाइज (Sanitize) और साफ-सफाई करने के बाद रवाना किया गया.
बताया जा रहा है कि करीब 4000 बच्चों को वापस लाने की व्यवस्था की गई है. मध्य प्रदेश के बच्चों को कोटा से लाने एवं उन्हें घर तक पहुंचाने की व्यवस्था के लिये जिला प्रशासन ने एक कंट्रोल रूम  का भी गठन किया है. कोटा प्रशासन मध्य प्रदेश के बच्चों को भेजी जा रही बसों में बिठाकर उनके घर पहुंचाने के लिए रवाना करेगा.


साभार 
टीवी 9 भारतवर्ष


आदिम जाति सेवा सहकारी संस्था रम्भापुर में संचालकों के चुनाव के बाद निविरोध चुने गए अध्यक्ष, उपाध्यक्ष एवं अन्य संस्था के प्रतिनिधि* *रम्भापुर सोसाइटी के अध्यक्ष बने कमलसिंह हाडा (भुंडीया )*

*ब्युरो दशरथ सिंह कट्ठा झाबुआ...9685952025* झाबुआ - जिलें के मेघनगर के ग्राम रम्भापुर में आदिम जाति सेवा सहकारी संस्था के संचालको के चुनाव 2...