सोमवार, 25 मई 2020

बुरहानपुर जिले में कंटेनमेंट एरिया में जान की परवाह किये बगैर प्रवेश कर कोरोना को बढावा दे रहे है वार्डवासी, प्रशासन की समझाईश भी बेअसर


बुरहानपुर- बुरहानपुर में दिन-प्रतिदिन कोरोना वायरस का संक्रमण बढ़ते जा रहा है । हालांकि बुरहानपुर में अब तक 182 मरीज पूर्णतया स्वस्थ हुए हैं और वर्तमान में 98 के लगभग कोरोना एक्टिव केस है । प्रशासन आम जनता की सुरक्षा के लिए मुस्तैदी से जुटा है । जिन क्षेत्रों में कोरोना पाजिटिव की रिपोर्ट प्राप्त होती है तुरंत उसे कंटेनमेंट एरिया किया घोषित कर अन्य लोगों को सुरक्षित किया जाता है । बुरहानपुर में जिन वार्डों में कोरोना पाजिटिव की रिपोर्ट प्राप्त हुई है उन क्षेत्रों को प्रशासन द्वारा सील कर दिया गया है ।



कंटेनमेंट जोन के अंतर्गत आवश्यक वस्तुओं एवं सेवाओं की आपूर्ति और अपरिहार्य स्वास्थ्यगत आपातकालीन परिस्थितियों को छोडक़र कंटेनमेंट जोन में आवागमन पर पूर्ण प्रतिबंध लगा दिया गया है। क्षेत्र के निवासी बिना अनुमति के अपने घरों से बाहर किसी भी स्थिति में नहीं निकलेंगे। कंटेनमेंट जोन के अंतर्गत सभी प्रकार के वाहनों का आवागमन पूर्णतः प्रतिबंधित रहेगा । इस संबंध में किसी प्रकार की आवश्यकता होने पर जिला मजिस्ट्रेट कार्यालय द्वारा पृथक से आदेश प्रसारित किए जाएंगे। कंटेनमेंट क्षेत्र के अंतर्गत सभी दुकानें एवं अन्य वाणिज्यिक प्रतिष्ठान आगामी आदेश तक पूर्णतः बंद रहेंगे। प्रभारी अधिकारी द्वारा कंटेनमेंट जोन में घर पहुंच सेवा के माध्यम से आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति उचित दरों पर कराई जा रही है लेकिन आम नागरिकों द्वारा प्रशासन को सहयोग नहीं किया जा रहा है।



बैरी मैदान, खैराती बाजार क्षेत्र में कोरोना पॉजिटिव मरीज मिलने के बाद एरिया को कंटेनमेंट एरिया घोषित किया गया था। इस कंटेंटमेंट एरिया में लोगों द्वारा बेधड़क आवागमन चालू है सुरक्षाकर्मियों को धता दिखाकर आमलोग बेरीकेट्स में से आवाजाही कर रहे हैं। ऐसे में कोरोना संक्रमण का खतरा और बढ़ता जा रहा है लोगों को समझाइश देने के बाद में भी उनके द्वारा मनमानी की जा कर लोगों की जान से खिलवाड़ किया जा रहा है। बड़े तो बड़े यहां बच्चे भी अपनी जान की परवाह किए बगैर कंटेनमेंट एरिया में दाखिल हो रहे हैं। यदि ऐसे ही लोगों द्वारा मनमानी की जाएगी तो कोरोना को बढ़ने से रोका नहीं जा सकता । आखिर प्रशासन के अधिकारी कर्मचारी भी अपनी जान हथेली पर रखकर लोगों की सुरक्षा के लिए 24 घंटे तैनात हैं लेकिन लोग है कि समझने को तैयार नहीं है ।



सैय्यद हिफाजत अली की रिपोर्ट 


कुल्हाडी मार कर अस्थिभंग करने के मामले में आरोपी को दो वर्ष की सजा और अर्थदण्ड

 छतरपुर- कुल्हाडी मार कर अस्थिभंग करने के मामले में कोर्ट ने फैसला दिया। बिजावर अपर सत्र न्यायाधीश की अदालत ने आरोपी को दो साल की कठोर कैद क...