गुरुवार, 21 मई 2020

बुरहानपुर के युवा कोरोना योद्धा - शेख वसीम दिन-रात दे रहे हैं अपनी सेवाऐं


बुरहानपुर(मेहलका अंसारी) तृतीय विश्व युद्ध के रूप में कोरोना महामारी आज संपूर्ण विश्व पर हावी हो रही हैं, जिसे हराने के लिये कोरोना योद्धा कमर कस कर डटे हुये हैं। बुरहानपुर जिला भी इस महामारी से अछूता नहीं हैं, वैसे तो प्रत्येक व्यक्ति कोरोना योद्धा हैं चाहे वह घर के अंदर या घर के बाहर अपनी सेवाऐं दे रहा हैं। शहर के युवा 20 वर्षीय कोरोना योद्धा जो किसी भी क्षण सूचना मिलने पर अपने कर्त्तव्य स्थल पर पहुँचकर अपनी सेवाऐं दे रहे हैं। हम बात कर रहे हैं जिले के सबसे युवा कोरोना योद्धा *शेख वसीम पिता शेख हसन* जो कि एम्बुलेंस ड्रायवर के रूप में अपनी सेवाऐं दिन-रात दे रहे हैं। यह कोरोना योद्धा संक्रमित मरीज को जिला अस्पताल से कोविड केयर सेंटर, कोरोना से स्वस्थ व्यक्ति को घर की ओर एवं अन्य कार्य सूचना मिलने पर तत्काल मौके पर पहुँच कर अपने कर्त्तव्य को अदा कर रहे हैं। हम ऐसे जांबाज कोरोना योद्धा को पाकर गौरांवित महसूस करते हैं कि इनकी ईमानदारी एवं दृढ निष्ठा से दी जा रही सेवाओं के बदौलत हम निश्चित ही कोरोना से शीघ्र ही जीत हासिल कर लेगें।


कुल्हाडी मार कर अस्थिभंग करने के मामले में आरोपी को दो वर्ष की सजा और अर्थदण्ड

 छतरपुर- कुल्हाडी मार कर अस्थिभंग करने के मामले में कोर्ट ने फैसला दिया। बिजावर अपर सत्र न्यायाधीश की अदालत ने आरोपी को दो साल की कठोर कैद क...