बुधवार, 6 मई 2020

कोरोना से बचाव हेतु आयुर्वेद यूनानी एवं होम्योपैथिक पद्धति की दवाइयों के पर्याप्त मात्रा में वितरण की मांग की पूर्व मंत्री श्रीमती अर्चना चिटनिस दीदी ने।                  


बुरहानपुर(मेहलका अंसारी) बुरहानपुर के प्रसिद्ध यूनानी चिकित्सक हकीम डॉक्टर महमूद खान ने सर्वप्रथम अपने एक इंटरव्यू में कोरोना से बचाव हेतु आयुष चिकित्सा पद्धति के तहत आयुर्वेदिक, यूनानी एवं होम्योपैथिक से उपचार की सलाह दी थी, जिसे भारत सरकार एवं माननीय प्रधानमंत्री महोदय ने इसे स्वीकार कर फ्लेक्स बैनर के माध्यम से एवं उचित प्रचार प्रसार कर इस पद्धति को प्रचलन में लिया था। मध्य प्रदेश की पूर्व कैबिनेट मंत्री एवं बुरहानपुर की पूर्व विधायिका तथा जागरूक जनप्रतिनिधि श्रीमती अर्चना चिटनिस दीदी ने भी भारतीय चिकित्सा पद्धति के तहत आयुर्वेदिक, यूनानी एवं होम्योपैथिक की दवाओं की पर्याप्त मात्रा में वितरण की मांग बुरहानपुर के कलेक्टर महोदय से की है। श्रीमती अर्चना चिटनिस दीदी ने बताया कि बुरहानपुर में कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए मध्य प्रदेश शासन के निर्देश पर जिला प्रशासन ने नियंत्रण के कई उपाय किए हैं। प्राचीन आयुर्वेदिक, होम्योपैथिक एवं यूनानी चिकित्सा पद्धति की दवाइयों का वितरण भी किया जाना चाहिए । श्रीमती अर्चना चिटनीस दीदी ने कलेक्टर महोदय, बुरहानपुर एक पत्र प्रेषित कर व्यक्तिगत रूप से यह सुझाव दिया है कि बुरहानपुर जिले के लिए क्षेत्र में सभी वार्ड एवं ग्रामीण क्षेत्र की सभी ग्राम पंचायतों में प्रत्येक घर पर प्राचीन आयुर्वेदिक, होम्योपैथिक यूनानी चिकित्सा पद्धति की दवाई का वितरण किया जाना चाहिए। श्रीमती अर्चना चिटनिस दीदी के अनुसार बुरहानपुर जिले की जनसंख्या 8 लाख है। श्रीमती अर्चना चिटनिस दीदी ने बताया कि उनके ज्ञान अनुसार एवं उन्हें प्राप्त अपुष्ट जानकारी के अनुसार दो से 2.5 लाख दवाइयों का वितरण ही किया गया है, जो कि अपर्याप्त है। श्रीमती अर्चना चिटनीस दीदी ने कहा कि उपरोक्त पद्धति की दवाई की उपलब्धता कराते हुए वितरण की सुचारू व्यवस्था की जाएगी तो हम सब मिलकर निश्चित ही कोरोना वायरस पर नियंत्रण कर बचाव करने से शासन के इस प्रयास का अधिक सदुपयोग करेंगे। श्रीमती अर्चना चिटनीस दीदी ने कलेक्टर, बुरहानपुर से भारतीय चिकित्सा पद्धति की तीनों पद्धति की दवाओं की पर्याप्त उपलब्धता वितरण की अच्छी व्यवस्था सुनिश्चित करने का निवेदन कलेक्टर बुरहानपुर से आग्रह  किया है।