मंगलवार, 19 मई 2020

मदरसा फैजुल उलूम बुरहानपुर में धार्मिक शिक्षा प्राप्त कर रहे बच्चों को बिहार राज्य भिजवाने की व्यवस्था करने हेतु कलेक्टर बुरहानपुर को लिखा गया पत्र

 


बुरहानपुर(मेहलका अंसारी) मध्य प्रदेश यूथ कांग्रेस के पूर्व महामंत्री एवं सामाजिक कार्यकर्ता नूरुद्दीन हमीदुद्दीन काजी ने कलेक्टर बुरहानपुर को एक पत्र प्रेषित कर के मदरसा फैजुल उलूम बुरहानपुर में अध्ययनरत एवं धार्मिक शिक्षा प्राप्त कर रहे बिहार स्टेट के 111 गरीब और नादार छात्रों को उनके वतन भिजवाने के लिए शासकीय अनुमति देने हेतु निवेदन किया है। नूरुद्दीन हमीदुद्दीन क़ाज़ी ने बताया कि इस मदरसे में अध्ययनरत यतीम, गरीब और नादार छात्रों को अप्रैल 2020 में अपने वतन जाना था, लेकिन लाक डाउन के कारण वे छात्र अपने वतन जाने में असफल रहे। इसके अतिरिक्त भी अन्य धार्मिक संस्थान जय श्री दारुल उलूम शेख अली मुत्तकी,, मदरसा जामिया अशरफीया एवं अन्य मदरसों में भी बाहर के छात्र धार्मिक शिक्षा ग्रहण करते हैं और प्रतिवर्ष रमजान की छुट्टियों में अवकाश में घर जाते हैं। लेकिन इस वर्ष लाक डॉउन के कारण उनके रेलवे आरक्षण होने के उपरांत भी ट्रेनों के रद्द होने से उनको अपने रिजर्वेशन निरस्त करना पड़े। नूरदीन क़ाज़ी ने गरीब, यतीम और नादार छात्रों को उनके वतन बिहार शरीफ भेजने के लिए व्यवस्थाएं कराने का अनुरोध किया है।


कुल्हाडी मार कर अस्थिभंग करने के मामले में आरोपी को दो वर्ष की सजा और अर्थदण्ड

 छतरपुर- कुल्हाडी मार कर अस्थिभंग करने के मामले में कोर्ट ने फैसला दिया। बिजावर अपर सत्र न्यायाधीश की अदालत ने आरोपी को दो साल की कठोर कैद क...