शनिवार, 2 मई 2020

मुम्बई का धारावी बना बुरहानपुर.......एक दिन में सत्रह कोरोना पाजिटिव के नये मामले पूरा जिला रेड झोन में, इन परिस्थितियों से जनता में रोष आखिर इसके लिए जिम्मेदार कौन ? शीघ्र उच्च स्तरीय जांच कर लापरवाही करने वालों के विरूद्ध हो कार्रवाही


बुरहानपुर- बुरहानपुर जिले में बढते  कोरोना संक्रमण की वर्तमान स्थिति के लिए जिम्मेदार कौन है? यह प्रश्न बुरहानपुर वासियों के मन में उठ रहा है । जनता कर्फ्यू से लेकर शासन द्वारा लगाये गये लाॅक डाऊन अवधि में घर में सुरक्षित रहकर लोगों ने प्रशासन द्वारा निर्धारित नियमों का पालन किया । लेकिन जब ग्रीन झोन से आरेंज और अब रेड झोन में आना बुरहानपुर के लिए दुर्भाग्य की बात है । सवाल यह उठता है कि इन परिस्थितियों के लिए जिम्मेदार कौन है? यहाँ के वह नागरिक जो इतने दिनों से घर में परिवार के साथ सुरक्षित थे या वह लोग जिन्होंने अपनी ट्रैवल हिस्ट्री को इतने दिनों से छुपा कर रखा था, या स्वास्थ्य विभाग जिसने जानकारी के बाद भी सम्बन्धित उक्त व्यक्ति के कोरोना टेस्ट के लिए जल्दी से जहमत नहीं उठायी। ध्यानाकर्षण के लिए 27/4/2020 के इस प्रेस नोट में जो श्रीमान मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ अधिकारी महोदय के हस्ताक्षर से जारी हुआ इसमे श्रीमान ने बताया कि पूर्व पार्षद की ट्रेवल हिस्ट्री होने से उनको 28 दिन होम क्वारन्टीन किया गया था, तो इस अवधि में उनका कोरोना टेस्ट क्यो नही किया गया?,क्या ये गम्भीर चूक नही है ?जिसके कारण आज पूरा बुरहानपुर खतरे में पड गया ,और भी ऐसे मामले होंगे जिनको होमक्वारन्टीन किया होगा और उनकी भी जांच नही की होगी ,कृपया मान्य मुख्यमंत्री जी और वरिष्ठ अधिकारी गण एवं ज़िला प्रशासन इस ओर अपना ध्यान आकर्षित करते हुए सम्बन्धित अधिकारियों पर तत्काल कार्यवाही करते  हुए इस पुरे प्रकरण की उच्च स्तरीय जांच करने का कष्ट करें ,


आदिम जाति सेवा सहकारी संस्था रम्भापुर में संचालकों के चुनाव के बाद निविरोध चुने गए अध्यक्ष, उपाध्यक्ष एवं अन्य संस्था के प्रतिनिधि* *रम्भापुर सोसाइटी के अध्यक्ष बने कमलसिंह हाडा (भुंडीया )*

*ब्युरो दशरथ सिंह कट्ठा झाबुआ...9685952025* झाबुआ - जिलें के मेघनगर के ग्राम रम्भापुर में आदिम जाति सेवा सहकारी संस्था के संचालको के चुनाव 2...