गुरुवार, 7 मई 2020

प्राइवेट डॉक्टर के क्लीनिक को सशर्त खोलने की अनुमति देने हेतु सामाजिक कार्यकर्ता नूर क़ाज़ी ने कलेक्टर और सीएमओ से की मांग


बुरहानपुर (मेहलका अंसारी) कांग्रेस के युवा नेता, सामाजिक कार्यकर्ता नूरुद्दीन क़ाज़ी ने जिला कलेक्टर एवं मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी से शहर के प्राइवेट डॉक्टर्स के क्लीनिक को सशर्त खोलने की मांग की है। श्री नूर क़ाज़ी ने कलेक्टर महोदय एवं मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी से निवेदन किया है, कि बुरहानपुर में प्राइवेट हॉस्पिटल और क्लिनिक खोलने को सशर्त अनुमति दी जाए, जिससे महिलाओं बच्चों को सामान्य,रेगुलर बीमारियों का वक्त पर इलाज मुमकिन हो सके। 
शहर में गर्भवती महिलाओं को कोई भी महिला डाक्टर  देखने को तैयार नही है, जबकि आम दिनों में सभी मोहल्ला क्लीनिक पर महिलाओं का इलाज सतत होता रहा है।


क्योकि कोरोना की बढ़ती संख्या को देखते हुए जिला कलेक्टर द्वारा जनहित में शहर में कर्फ्यू लागू है। सभी लोगो का शासकीय अस्पताल आना जो कि शहर से काफी दूर है। माननीय कलेक्टर महोदय द्वारा सभी मेडिकल पर बिना डाक्टर की पर्ची के दवाई नही देने के आदेश के बाद आमजन दवाई नहीं ले पा रहे हैं,  न ही किसी निजी क्लीनिक में डॉ दवाई दे रहे हैं। नूर क़ाज़ी ने अपना यह भी विकल्प पेश किया कि नगर के मध्य स्थित पुराने शासकीय नेहरू चिकित्सालय में पूर्व अनुसार ओपीडी शुरू कर जनसामान्य को राहत  प्रदान की जाये।


आदिम जाति सेवा सहकारी संस्था रम्भापुर में संचालकों के चुनाव के बाद निविरोध चुने गए अध्यक्ष, उपाध्यक्ष एवं अन्य संस्था के प्रतिनिधि* *रम्भापुर सोसाइटी के अध्यक्ष बने कमलसिंह हाडा (भुंडीया )*

*ब्युरो दशरथ सिंह कट्ठा झाबुआ...9685952025* झाबुआ - जिलें के मेघनगर के ग्राम रम्भापुर में आदिम जाति सेवा सहकारी संस्था के संचालको के चुनाव 2...