गुरुवार, 4 जून 2020

असमय बारिश होने से किसानों की मूंग की फसल खराब हुई ..... उसका सर्वे कराए जाने कलेक्टर को ज्ञापन.


हरदा । जिले में हजारों एकड़ के रकबे में मूंग की फसल बोई हुई है इस असमय बारिश होने की वजह से किसानों की मूंग की फसल नष्ट होने की कगार पर है मूंग की उपज बहुत नाजुक होती है फसल पकने के बाद अगर हल्की बारिश भी हो जाती है तो मूंग दागी और खराब हो जाते है किसान कांग्रेस प्रदेश महासचिव मोहन विश्नोई ने कलेक्टर को सौपें ज्ञापन के माध्यम से बताया कि विगत दो दिन से बारिश हो रही है कई किसानों की फसल कटाई होकर खेत मे पड़ी है वह तो लगभग पूरी खराब हो जायेगी अधिकांश किसानों की फसल पकी हुई खेत मे खड़ी है वह भी 70 प्रतिशत दागी मूंग हो जायेगा । मोहन विश्नोई ने कहा कि यह संकट की घड़ी है कोरोना महामारी के चलते लॉक डाउन में किसानों ने कैसे मजदूरी की व्यवस्था की है यह किसान जनता है फसल भी अगर बेची है गेंहू चने की टी महीनों बाद अभी तक भुकतान नही हुआ है ऊपर से खरीफ फसल बोनी का समय आ चुका है सोयाबीन का बीज लेना है खाद लेना है बहुत सारी परेशानी है किसानों के से इस मूंग की फसल खराब होने की शिवराज सरकार जिम्मेदार है सरकार ने 20 दिन लेट पानी छोड़ा था नहर में जिस वजह से आज ये परेशानी किसानों को उठानी पड़ रही है जो अपने आप को किसान पुत्र खेती करने वाले बताते है उन्हें यह पता नही की मूंग की फसल कितने दिन की होती है किसान बहुत ज्यादा आर्थिक रूप से कमजोर हो चुका है। जिला कलेक्टर अनुराग वर्मा से निवेदन किया है कि जिले में मूंग फसल जो बारिश में खराब हुई है उसका सर्वे करा कर किसानों को उचित मुवावजा दीया जाए और तमाम बैंक बिजली आदि की वसूली रोकी जाए और गेहूं चने का भुकतान अति शीघ्रता से कराया जावे ।ज्ञापन की प्रति प्रदेश सचिव मध्यप्रदेश सरकार को भी मोहन बिश्नोई प्रदेश महासचिव किसान कांग्रेस ने प्रेषित की है। हरदा से मुईन अख्तर खान


कुल्हाडी मार कर अस्थिभंग करने के मामले में आरोपी को दो वर्ष की सजा और अर्थदण्ड

 छतरपुर- कुल्हाडी मार कर अस्थिभंग करने के मामले में कोर्ट ने फैसला दिया। बिजावर अपर सत्र न्यायाधीश की अदालत ने आरोपी को दो साल की कठोर कैद क...