मंगलवार, 23 जून 2020

बुरहानपुर जिले में कोरोना संक्रमित मरीज 93 प्रतिशत रिकवरी के साथ हुए स्वस्थ वर्तमान में मात्र 5 एक्टिव केस कोरोना की चेन तोड़ने में हम हो रहे है सफल संकट अभी टला नही, सावधानी एवं बचाव ही उपाय -कलेक्टर श्री प्रवीण सिंह आयुर्वेदिक कॉलेज कोविड केयर सेंटर अस्थाई रूप से किया बंद स्वास्थ्य विभाग, समस्त मिडिया एवं जिला प्रशासन के सहयोग का कलेक्टर ने किया आभार व्यक्त


बुरहानपुर -( मेंहलकाअंसारी) अगर व्यक्ति कड़ी मेहनत एवं लगन से किसी कार्य को करने की ठान ले तो, वह निश्चित तौर पर विजय हासिल कर लेता है। ऐसा ही एक उदाहरण दक्कन का प्रवेश द्वार कहलाने वाले, विविधता में एकता का प्रतीक ऐतिहासिक शहर के जिला प्रशासन की टीम, स्वास्थ्य, पुलिस, मीडियासाथी, धर्मगुरूओं सहित समस्त जिलेवासियों ने कटिबद्धता का परिचय देकर इस वैश्विक महामारी से लड़कर खुद को विजयी रथ की ओर अग्रसर किया है। बुरहानपुर जिला महाराष्ट्र राज्य से सटा हुआ है जहां कोरोना संक्रमण थमा नहीं है साथ ही लगे हुए जिलों में कोरोना का प्रभाव है। बुरहानपुर जिला प्रशासन टीम ने रात-दिन ड्यूटी कर जिले में कोरोना की कड़ी को तोड़ने का हर संभव प्रयास किया है। जिसका परिणाम आज हमारे सामने है। कोरोना चेन तोड़ने के लिए किये अथक प्रयास जिले में कोरोना की दस्तक 21 अप्रैल, 2020 को हुई जिसे अवरूद्ध करने के लिए अनेकों प्रयास किये, जिसके अंतर्गत चेकपोस्ट पर लगातार चैकिंग, फीवर क्लीनिक की स्थापना, अत्याधुनिक कोविड केयर सेंटरों की स्थापना, शहर की गली-गली में लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करवाना, प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए दवाईयों का घर-घर वितरण, लगातार घर द्वार सर्वे कार्य, विभिन्न प्रकार की सुविधाओं एवं शिकायतों के लिए जारी हेल्पलाइन नंबर, जरूरतमंदों को केन्द्रीकृत किचन सेंटर के माध्यम से भोजन उपलब्ध करवाना, विभिन्न वार्डो एवं शहर में सेनेटाईजर का छिड़काव एवं साफ-सफाई, मास्क ना पहनने पर चालानी कार्यवाही, अन्य राज्यों से पैदल चलकर बुरहानपुर में आये व्यक्तियों को अपने-अपने जिलों एवं राज्यों तक पहुंचानें की व्यवस्था इत्यादि यहां तक व्यक्ति की अंतिम यात्रा जिला प्रशासन अपनी टीम के साथ करके, कोरोना श्रृंखला को तोड़ने में सफल रहा। जिसके फलस्वरूप जिला ग्रीन जोन एवं अपनी स्वच्छंदता की ओर बढ़ रहा है। जैसा कि विदित है कोरोना वायरस एक सूक्ष्म जीव है जिसे नग्न आंखों से नहीं देखा जा सकता है। इसलिए हमें कई सावधानी रखना अतिआवश्यक है। क्योंकि बचाव ही इस वैश्विक महामारी से सुरक्षित रहने का सर्वश्रेष्ठ साधन है। पारिवारिक माहौल प्रदाय करने पर सहृदय आभार जिले में कोविड-19 से लड़ने के लिए तैयार किया गया अत्याधुनिक सेवाओं से युक्त आयुर्वेदिक कॉलेज स्थित कोविड केयर सेंटर जहां व्यक्ति को घर-सा माहौल प्रदान करने के लिए जिला प्रशासन एवं टीम ने हर संभव प्रयास किया। जिसके प्रतिउत्तर में प्रत्येक उपचारत् मरीज जो स्वस्थ होकर अपने घर लौटे है। उन्होंने सहर्ष जिला कलेक्टर को यह संबोधित किया है कि हमें यह महसूस ही ना हुआ कि हम अपने परिवार से दूर किसी अन्यत्र स्थान पर रह रहे है। आयुर्वेदिक कॉलेज कोविड केयर सेंटर अस्थाई रूप से किया बंद जिला कलेक्टर श्री प्रवीण सिंह ने बताया कि जिले में अब तक 390 कोरोना केस सामने आये है। जिसमें उपचार के चलते मरीज 93 प्रतिशत रिकवरी दर के साथ स्वस्थ होकर अपने घर को लौटे है। वर्तमान में मात्र 5 एक्टिव मरीज बचे है। वह भी शीघ्र ही स्वस्थ होकर अपने घर को लौटेंगे। जिसके मद्देनजर जिले में कोरोना चेन टूटने एवं संक्रमण कम होने पर आयुर्वेदिक कॉलेज में बनाये गये कोविड केयर सेंटर को आज अस्थाई रूप से बंद कर दिया गया है। प्राप्त जानकारी अनुसार जिले में 1900 बेडो की व्यवस्था की गई थी। आप सभी से सहयोग की अपेक्षा है कि निर्धारित कोरोना नियमों का पालन करें जिससे दोबारा इस सेंटर को खोलने की आवश्यकता ना पडे़े। हॉटस्पॉट जिलों की यात्रा करने से बचें-कलेक्टर जिला कलेक्टर एवं दण्डाधिकारी श्री प्रवीण सिंह ने समस्त जिलेवासियों से कहा कि जिले में कोरोना संक्रमित मरीज 93 प्रतिशत रिकवरी के साथ स्वस्थ हुए है। वर्तमान में मात्र 5 एक्टिव केस है जिसमें 4 इंदौर में उपचारत है एवं 1 बुरहानपुर में है। हम यह जरूर कह सकते है कि कोरोना की चेन तोड़ने में हम सफल हो रहे है परन्तु यह हमारी पूर्ण सफलता नहीं कही जा सकती। मेरा समस्त जिलेवासियों से अनुरोध है कि इस कोरोना महामारी में आप स्वयं के संघर्ष को याद रखें कि हम लगातार प्रयासों के बाद आज यहाँ पहुंचे है। आगे दोबारा हमें फिर वहीं गलतियां नहीं दोहराना है, जिससे कोरोना मजबूत हो पाये। आप अनावश्यक कार्यो, अन्य गतिविधियों से दूरी, सेनेटाईजर का इस्तेमाल, सामाजिक दूरी का पालन करते हुए हॉटस्पॉट जिलों की यात्रा कुछ समय के लिए स्थगित रखें।  


कुपोषित बच्चों को खिलाया पोष्टिक आहार, बताया महत्व

बुरहानपुर। शहर के आलमगंज सेक्टर के अंतर्गत सिंधीपुरा आंगनवाड़ी केंद्र 4 पर बाल भोज कराया गया। कार्यकर्ता मंजू सिंह ठाकुर ने बताया गुरुवार को...