रविवार, 14 जून 2020

ग्रामीण क्षेत्रों में कंटेनमेंट क्षेत्र व समय सीमा न्यूनतम और व्यवहारिक किया जाए-पूर्व मंत्री अर्चना दीदी


बुरहानपुर(मेहलक़ा अंसारी) मध्यप्रदेश की पूर्व कैबिनेट मंत्री श्रीमती अर्चना चिटनिस (दीदी) ने कलेक्टर को पत्र लिखकर किसानों-ग्रामीणों की समस्याओं से अवगत कराया। श्रीमती चिटनिस ने ग्रामीण क्षेत्रों में कंटेनमेंट क्षेत्र व समय सीमा न्यूनतम और व्यवहारिक किए जाने की बात कही। श्रीमती अर्चना चिटनिस ने कहा कि क्षेत्र में मानसून के पूर्व की वर्षा हो चुकी है और शीघ्र ही मानसून भी आने वाला है। कुछ किसानों ने खरीफ फसल की बोनी कर दी है, लेकिन अभी बहुत-से किसानों को बोनी करना बाकी है। इसी को दृष्टिगत रखते हुए सभी किसान भाई खेती किसानी के काम में लग चुके हैं। किसान को अपने खेत में सही समय पर बोनी करने का अवसर मिलेगा तो ही वह अपनी आगामी 1 वर्ष की योजना बना पाएगा अन्यथा किसान को भारी नुकसान होगा। इसलिए जिले के सभी ग्रामीण क्षेत्रों के कंटेंटमेंट एरिया बहुत छोटे करना चाहिए एवं किसानों को अपने खेत में जाने के लिए किसी प्रकार की असुविधा ना हो इसका ख्याल रखते हुए कंटेनमेंट एरिया का निर्धारण करना चाहिए। वर्तमान किसान भाई का एक-एक क्षण कीमती है। अतः तत्काल इस संबंध में उचित एवं व्यवहारिक निर्णय लिया जाना चाहिए।


आदिम जाति सेवा सहकारी संस्था रम्भापुर में संचालकों के चुनाव के बाद निविरोध चुने गए अध्यक्ष, उपाध्यक्ष एवं अन्य संस्था के प्रतिनिधि* *रम्भापुर सोसाइटी के अध्यक्ष बने कमलसिंह हाडा (भुंडीया )*

*ब्युरो दशरथ सिंह कट्ठा झाबुआ...9685952025* झाबुआ - जिलें के मेघनगर के ग्राम रम्भापुर में आदिम जाति सेवा सहकारी संस्था के संचालको के चुनाव 2...