शनिवार, 20 जून 2020

कोल इंडिया के निजीकरण को लेकर केंद्र सरकार के विरोध में एनसीएल के ट्रेड यूनियन का एकदिवसीय धरना प्रदर्शन।* *एन.सी.एल सभी ट्रेड यूनियन का संयुक्त रूप से धरना प्रदर्शन कार्यक्रम संपन्न हुआ


पब्लिक लुक सिंगरौली जयंत(विनोद कुमार सिंह) एन.सी.एल के सभी ट्रेड यूनियनों का केंद्रीय कर्मशाला गेट पर केंद्र सरकार के द्वारा एनसीएल के निजीकरण के विरोध में केंद्र सरकार के खिलाफ धरना प्रदर्शन किया गया सुबह से चले धरना प्रदर्शन को शाम को 4.30 केंद्र सरकार के नाम के ज्ञापन को परियोजना के एस.ओ.पी रेजिना बा को सौंपा गया और केंद्र सरकार तक पहुंचाने के लिए बोला गया। एन.सी.एल कर्मी जो 2017 में रिटायर हुए हैं उन कर्मियों का ग्रेजुएटी जो कि ₹2000000 रुपये मिलता है उसको अभी तक जारी नहीं किया गया उसका भी जल्द से जल्द निराकरण किए जाने को लेकर प्रबंधक से चर्चा हुई समस्या का समाधान अगर जल्द से जल्द नहीं हुआ तो ट्रेड यूनियन उग्र आंदोलन को बाध्य होगी यह चेतावनी ट्रेड यूनियन के द्वारा परियोजना प्रबंधक को दी गई। *यह लोग रहे हो उपस्थित।



आरसी एसएस से अध्यक्ष आर.के चौबे सचिव सुरेश कुमार दुबे। एटक से सचिव विनय कुमार तिवारी। एच.एम.एस से सचिव जसविंदर सिंह अध्यक्ष अजय कुमार। बी.एम.एस के अध्यक्ष शशि पाल सिंह सचिव पुरुषोत्तम कुमार। साथ ही युनियन के मेंबर भी मौजूद रहे।


जबरदस्ती ले जाकर खोटा काम करने वाले आरोपी को 10 वर्ष का सश्रम कारावास व 10 हजार रू. का अर्थदण्ड

माननीय विशेष न्यायालय (पॉक्सो  एक्ट) मण्डलेश्वर द्वारा नाबालिग को जबरदस्ती ले जाकर खोटा काम करने वाले आरोपी को 10 वर्ष का सश्रम कारावास एवं ...