मंगलवार, 4 अगस्त 2020

मुस्लिम कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने किया पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ के एक बयान का विरोध


बुरहानपुर- अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए होने वाले भूमि पूजन के अवसर पर कमल नाथ ने दो दिन पहले आपने बयान में कहा था के 4 अगस्त को हर कांग्रेसी कार्यकर्ता अपने अपने घरों में दिए जलाकर राम मन्दिर बनने कि खुशी में राम नवमी मनाये। बुरहानपुर जिले में इसका विरोध कांग्रेसी कार्यकर्ता हाजी अब्दुल बासित ने शोशल मीडिया पर आकर किया उनका कहना है के मुस्लिम कार्यकर्ता पहले मुसलमान है उसके बाद राजनीति में कार्यकर्ता है। कमल नाथ जी को हमने अपनी मेहनत से खून पसीना बहाकर मुख्यमंत्री बनाया था लेकिन उन्होंने हमारे दिल को दुखाया है हम ओर हर मुस्लिम कांग्रेसी कार्यकर्ता इनका विरोध करता है ओर अगर कमल नाथ जी ने अपना बयान वापस नहीं लिया तो हम राष्ट्रीय अध्यक्ष माननीय सोनिया गांधी जी को इनके खिलाफ ज्ञापन देगे।


ज्यादती के आरोपी को दस वर्ष का सश्रम कारावास

 राजगढ जिले में पदस्थ माननीय विशेष न्यायाधीश पॉक्सो एक्ट डॉ. अंजली पारे राजगढ ने विशेष सत्र प्रकरण क्रमांक 85/19 धारा 363,366,376(1)(2) एवं ...