शुक्रवार, 11 सितंबर 2020

अणु स्मृति दिवस के पहले दिन हुई धर्म आराधना

खिरकिया। आचार्य उमेषमुनि मसा अणु के स्मृति दिवस के उपलक्ष्य में तीन दिवसीय धर्म आराधना कार्यक्रमो में पहले की तप, त्याग व तपस्याऐं की गई। कोरोना महामारी के चलते शासन के नियमानुसार समाजजनो द्वारा अपने घरो में परिवार के साथ अणु स्मृति दिवस जप जप त्याग के साथ मनाया जा रहा है। शुक्रवार को घरो में श्रावक श्राविकाओ द्वारा अपने परिवार के साथ गुरूदेव का पुण्य स्मरण किया गया। उपवास एकासना आदि तप स्वेच्छानुसार किए। साथ ही सामायिक की गई। गुरू चालिसा, उमेष चालिसा, गुरूभक्ति के भजन को परिवार के बीच गाया गया। धर्मेन्द्रमुनि मसा द्वारा रचित आचार्य का प्रवर का संथारा स्तवन एकादषी उज्जैन की वो याद आएगी, को दोहराकर गुरू की स्मृति को पुनः ताजा किया गया। समाजजनो ने बताया कि चाहे आज गुरू हमारे बीच देहरूप में उपस्थित नही हैद्व पर उनका प्रदत्त माग, उनका विषाल साहित्य भंडार व उनकी अमिट यादे आज भी हमारे हृदय में बसती है।


कुल्हाडी मार कर अस्थिभंग करने के मामले में आरोपी को दो वर्ष की सजा और अर्थदण्ड

 छतरपुर- कुल्हाडी मार कर अस्थिभंग करने के मामले में कोर्ट ने फैसला दिया। बिजावर अपर सत्र न्यायाधीश की अदालत ने आरोपी को दो साल की कठोर कैद क...