शुक्रवार, 11 दिसंबर 2020

पश्चिम बंगाल में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगतप्रसाद नड्डा एवं राष्ट्रीय महामंत्री कैलाश विजयवर्गीय के काफिले पर हुए हिंसक हमले के विरोध में भारतीय जनता पार्टी द्वारा किया धरना प्रदर्शन



बड़वाह.बंगाल में भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के काफिले और राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय पर हुए पथराव को लेकर यहां भी भाजपा समर्थकों में आक्रोश देखने को मिला। शुक्रवार को भाजपा नगर मंडल अध्यक्ष चंद्रपालसिंह तोमर के नेतृत्व में सैकड़ो नेता-कार्यकर्ता मेन चौराहे पर एकत्रित हुए।


जहां बंगाल सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। इसके बाद बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के पुतले को 500 मीटर तक घसीटा और जयस्तंभ चौराहा ले जाकर फूंक दिया। विरोध प्रदर्शन में भाजपा के वरिष्ठ नेता कृष्ण मुरारी मोघे भी शामिल हुए। उन्होंने कहा कि बंगाल में ममता की सरकार कांग्रेसी की तर्ज पर चल रही है। अगर ममता के नेतृत्व में चुनाव हुए तो ऐसी हिंसक घटनाएं होगी। इसलिए वहां राष्ट्रपति शासन लागू किया जाए। पूर्व विधायक हितेंद्र सिंह सोलंकी ने कहा कि बंगाल में अराजकता फैल रही है। अन्याय हो रहा है। भाजपा नेताओं पर हुए हमले की हम कड़ी निंदा करते है। ममता सरकार ऐसी ही हिंसक घटनाएं होती रही, तो भाजपा का एक-एक कार्यकर्ता बंगाल जाएगा और उनकी ईट से ईट बजा देगा। इस दौरान डॉ.अग्रवाल, अशोक तिवारी, महेंद्रसिंह भाटीया,राजेश जायसवाल, महीम ठाकुर, जितेन्द्र सुराणा, सीटू राजपाल, रोमेश विजयवर्गीय,निखिलेश खण्डेलवाल,रवि ऐरन, चेतन साहू,दीपक ठाकुर, रघुनाथ जाट, नरेंद्र राठौड़, लाखन गड़गोत्री, सरपंच अखिलेश पंवार, अंतिम केवट,राहुल बबलू सहित अन्य कार्यकर्ता मौजूद रहे।

कुल्हाडी मार कर अस्थिभंग करने के मामले में आरोपी को दो वर्ष की सजा और अर्थदण्ड

 छतरपुर- कुल्हाडी मार कर अस्थिभंग करने के मामले में कोर्ट ने फैसला दिया। बिजावर अपर सत्र न्यायाधीश की अदालत ने आरोपी को दो साल की कठोर कैद क...