सोमवार, 20 अप्रैल 2020

मुख्यमंत्री  चौहान ने  जनकल्याण (संबल) योजना' की बैठक ..... कल्याणकारी योजना को पुनः प्रारम्भ करने का निर्णय ....


भोपाल ।  कमलनाथ सरकार ने गरीबों के कल्याण की 'संबल' योजना को ठंडे बस्ते में डाल दिया था जिससे प्रदेश के लाखों गरीब और निचले तबके के लोग इसके लाभ से वंचित हो गए थे! पिछली सरकार में गरीबों की घोर अनदेखी की गई!
 मुख्यमंत्री चौहान ने इस कल्याणकारी योजना को पुनः प्रारम्भ करने का निर्णय लिया है।
वंचित वर्ग का कल्याण प्रधानमंत्री  @narendramodi की सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है और स्व. पं. दीनदयाल उपाध्याय जी की 'समाज के अंतिम पंक्ति में खड़े अंतिम व्यक्ति के उद्धार' की अवधारणा को  सिद्ध करना हमारा प्रमुख उद्देश्य है। 


प्रदेश के संसाधनों पर पहला अधिकार गरीबों का है!


COVID19 संकट के बीच संबल योजना के पुनः प्रारम्भ होने से प्रत्येक वर्ग के लाखों गरीब नागरिकों सहायता देने में बड़ी मदद मिलेगी!


मैं इस योजना के क्रियान्वयन के लिए धनराशि की कोई कमी आड़े नहीं आने दूंगा! इस संबंध में भाजपा नेता अरविंद सारण ने बताया कि मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि आवश्यक बजट का प्रावधान करते हुए सभी पात्र हितग्राहियों को इसका लाभ दिया जाएगा।


आदिम जाति सेवा सहकारी संस्था रम्भापुर में संचालकों के चुनाव के बाद निविरोध चुने गए अध्यक्ष, उपाध्यक्ष एवं अन्य संस्था के प्रतिनिधि* *रम्भापुर सोसाइटी के अध्यक्ष बने कमलसिंह हाडा (भुंडीया )*

*ब्युरो दशरथ सिंह कट्ठा झाबुआ...9685952025* झाबुआ - जिलें के मेघनगर के ग्राम रम्भापुर में आदिम जाति सेवा सहकारी संस्था के संचालको के चुनाव 2...