रविवार, 17 मई 2020

खंडवा मे 68 पॉजिटिव पश्चात आसपास के जिलों में दहशत का माहौल...... संक्रमण ना फैले इसलिए व्यापारियों और उनके स्टाफ का हो कोरोना परिक्षण......


खंड़वा/ बुरहानपुर ।मध्यप्रदेश का खंड़वा जिला इंदौर के बाद खाद्यान्न की बड़ी मंडी है खंडवा का व्यापार बुरहानपुर खरगोन सहित हरदा होशंगाबाद ज़िलों मे बड़े पैमाने पर व्यापार फैला हुआ है  जानकारी देते हुए मध्यप्रदेश मदरसा बोर्ड पूर्व चैयरमैन प्रोफेसर एस. इमादुद्दीन ने समस्त जिला कलेक्टर सहित प्रदेश के मुख्यमंत्री माननीय शिवराज सिंह चौहान को पत्र लिखकर बताया कि  खासकर  खाद्दान्न और किराना सामग्री तेल इत्यादि का होल सेल व्यापार खंड़वा मे अधिक होता है , और निमाड़ एवं बुरहानपुर ज़िले के इस आर्थिक विकास  की गाड़ी का एक पहिया हमारे खाद्यान्न ,तेल ,सब्ज़ी के होल व्यापारी हैं!जो आस पास के सभी जिलों एवं तहसील के फुटकर व्यापारियों को माल की पूर्ति करते हैं । परन्तु कोरोना महामारी के चलते अब सतर्कता बरती जाना जरूरी है । इससे संक्रमण और फैल सकता है मालूम हो कि खंडवा में अपडेट जानकारी अनुसार 68 पोसिटिव आये हैं और जो बुरहानपुर में भी कोरोना पोसिटिव हैं  ,उनमे अधिकतर लोग स्वयं या उनके परिवार के लोग अनाज किराना तेल सब्ज़ी व्यापार से जुड़े हुए हैं  प्रोफेसर एस. इमादुद्दीन ने जिला प्रशासन के संज्ञान मे अपनी बात रखते हुए कहा कि खंडवा बुरहानपुर खरगोन देवास जिला कलेक्टर इसे गंभीरता से लेते हुए अनुरोध किया है ,कि हमारे व्यापारी भाई जो व्यापार कर रहे हैं खासकर किराना, अनाज, दूध ,सब्ज़ी , उनका और उनके डिलेवरी करने वाले स्टाफ का पहले प्रमुखता से  कोरोना परीक्षण करवा कर आसपास के जिलों में माल भेजना सुनिश्चित करें साथ ही उसके बाद ही उनके पास जारी किए जाए, ताकि किसी भी तरह से संक्रमण फैलने की संभावना न बन सके,हालांकि व्यवहारिकता में ये थोड़ा कठिन ज़रूर है ,लेकिन आम जनता के स्वास्थ्य के लिए किसी भी तरह का जोखिम संबंधित जिलों के लिए सबब साबित हो सकता है ।प्रोफेसर एस. इमादुद्दीन ने जनहित में इस ओर ध्यान की जरूरत समझते हुए प्रशासन से ये भी अनुरोध है, कि हमारे व्यापारी भाई जो संक्रमित हो गए हैं,उनको अच्छी से अच्छी स्वस्थ सुविधाएं उपलब्ध कराई जाए ,ताकि निमाड़ के आर्थिक विकास की गाड़ी का पहिया दोबारा पूरी गति के साथ पुनः दौड़ सके ।
    मुईन अख्तर खान की रिपोर्ट.....


कुल्हाडी मार कर अस्थिभंग करने के मामले में आरोपी को दो वर्ष की सजा और अर्थदण्ड

 छतरपुर- कुल्हाडी मार कर अस्थिभंग करने के मामले में कोर्ट ने फैसला दिया। बिजावर अपर सत्र न्यायाधीश की अदालत ने आरोपी को दो साल की कठोर कैद क...