शुक्रवार, 19 जून 2020

रुड़की उत्तराखंड में मुस्लिम समाज ने चीनी सामान को किया आग के हवाले*


रुड़की उत्तराखंड (मेहलक़ा अंसारी) अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त शायर अफ़ज़ल मंगलोरी ने रुड़की से रिपोर्ट दी है कि मोहल्ला सोत जामा मस्जिद के सामने जुमा की नमाज़ के बाद मुस्लिम समाज ने चीन के राष्ट्रीय झंडे के साथ साथ चीन के बने हुए विभिन्न प्रकार के समान को आग में जला कर अपना रोष प्रकट किया तथा लदाख में शहीद हुए भारत की सेना के जवानों को अपनी श्रद्धांजलि पेश की। सर्वधर्म त्यौहार कमेटी के आवाह्न पर आज बाद नमाज़ जुमा मस्जिद के इमाम मौलाना कारी कलीम अहमद के नेतृत्व में मुसलमानो ने चीन के प्रति अपने गुस्से का इज़हार करते हुए चाइनीज़ प्रोडक्ट को आग के हवाले कर दिया, जिनमे चीनी झंडा ,चीनी पतंगें,चीनी घड़ियां,चीनी जूते, चीनी मांझा,चीनी फ्रेम,चीनी थैले, चीनी खिलोने आदि समान शामिल था। मौलाना कलीम साहब ने कहा कि हमारा मुल्क हिन्दुतान हमें अपनी जान से भी ज़्यादा प्यारा है अगर कोई भी दुश्मन देश की आज़ादी और सरहदों की तरफ आंख उठा कर देखेगा तो हर भारत का हर मुसलमान दूसरे देशवासियों की तरह ही अपनी कुर्बानी देने से पीछे नही हटेगा। कमेटी के संयोजक व अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त शायर अफ़ज़ल मंगलोरी ने कहा पूरे देश मे चाइना के खिलाफ गुस्सा है।हमारे धर्मगुरुओं ने संदेश दिया है कि चीन की बनी सभी चीजों का बहिष्कार किया जाए और स्वदेशी वस्तुओं को प्रयोग में लाया जाए। अफ़ज़ल मंगलोरी ने बताया कि जल्द ही चीन के खिलाफ मुस्लिम उलेमा की बैठक कर एक प्रस्ताव पारित कर देश के प्रधानमंत्री को भेजा जाएगा और देश के लिए 1962,1965 ,1971 तथा कारगिल युद्ध की तरह ही मुस्लिम समाज हर कुर्बानी के लिए तत्पर रहेगा। इस अवसर पर मौलाना कारी मज़ाहिर ,कारी सदाक़त अली,मौलवी अंसार अहमद ,सुल्तान खान,आतिफ रिज़वान,सयैद नाफिसुल हसन ,ताहिर चौधरी,मो आलम बॉडी,मेयर पी आर ओ इमरान देशभक्त ,पत्रकार रियाज़ कुरेशी साबरी ,नसीम अहमद,फ़िरोज़ अहमद,फुरकान खान,नवेद अरशद क़ासमी,महफूज़ आलम मौजूद थे।


कुपोषित बच्चों को खिलाया पोष्टिक आहार, बताया महत्व

बुरहानपुर। शहर के आलमगंज सेक्टर के अंतर्गत सिंधीपुरा आंगनवाड़ी केंद्र 4 पर बाल भोज कराया गया। कार्यकर्ता मंजू सिंह ठाकुर ने बताया गुरुवार को...