शनिवार, 12 सितंबर 2020

अणु स्मृति के दूसरे दिन हुई गुरू की 36 वंदना


खिरकिया। जैन श्वेताम्बर समाज द्वारा मनाए जा रहे तीन दिवसीय अणु स्मृति दिवस के दूसरे दिन आराधना अनुरूप आचार्य उमेषमुनि मसा के 36 गुणो का स्मरण करते हुए 36 वंदना की गई। अणु चालिसा की आराधना घरो में सामुहिक रूप से की गई। सामायिक का तेला कर ज्ञान दर्षन चारित्र रूप रत्न त्रय की आराधना की गई। परिवारो में सामुहिक रूप से नवकार का जाप किया गया। श्राविका सुचिता भंडारी ने बताया कि कोरोना जैसी बढ़ती महामारी में नवकार का जप अचूक औषधि है, जो घरो व परिवारो को सुरक्षित रखती है। जाप के शुभ पुद्गल अषुभ वातावरण को भी शुभ वातावरण में परिणित कर देते है।


नकली दस्तावेजों के आधार पर जमीन बेचने वाले को न्यायालय ने दिया पाक 5 वर्ष का सश्रम कारावास

 अतिरिक्त‍ लोक अभियोजक श्री सुनील कुरील अभियोजित एक महत्वपूर्ण प्रकरण में मा. अपर सत्र न्यायाधीश श्री आर.के.पाटीदार बुरहानपुर द्वारा आरोपीगण...