सोमवार, 7 सितंबर 2020

ग्राहक के साथ चाकू से मारपीट करने वाले अभियुक्तगण का जमानत आवेदन निरस्त*

न्यायालय श्रीमान हेमंत मेहरा न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी जिला उज्ज्ैान के न्यायालय द्वारा अभियुक्तगण 1.आजम खान 02. हमजा निवासीगण-उज्जैन का जमानत आवेदन निरस्त किया गया। मीडिया सेल प्रभारी श्री मुकेश कुमार कुन्हारे ने अभियोजन घटना अनुसार बताया कि फरियादी दीपक पिता गोवर्धनलाल निवासी प्रकाश नगर ने अपने दोस्त संतोष सिंह और राज भदौरिया के साथ थाना नीलगंगा में रिपोर्ट दर्ज कराई कि फरियादी रेल्वे स्टेशन पर चाय की दुकान चलाता है। घटना दिनांक को दोपहर 03ः00 बजे फरियादी अपने दोस्त संतोष सिंह और राज भदौरिया के साथ खाना खाने दरगाह होटल में गये थे, जहां पर सब्जी खराब बनाने की बात पर फरियादी ने उस्ताद आजम खान को बोला कि सब्जी जल गई है इसी सब्जी को ठीक कर के दे दो तो आजम खान ने बोला कि सब्जी तो अच्छी बनी है, अगर नहीं खाना है तो चले जाओ मगर पैसे तो पूरे देने पडेंगे, इसी बात पर आजम खान फरियादी को मां-बहन की नंगी-नंगी गालियां देने लगा। फरियादी ने गाली देने से मना किया तो आजम खान ने चाकू से मारा जो फरियादी के बायें हाथ की हथेली व दाहिने हाथ की हथैली में लगी फरियादी को बचाने उसके साथी संतोष सिंह ठाकुर व राज भदौरिया आये तो उन्हें भी आजम खान ने चाकू से मारा एवं होटल के मैनेजर के द्वारा भी चाकू से वार करने से राज भदौरिया को बायें हाथ की कोहनी के नीचे पीठ पर चोट आयी एवं संतोष ठाकुर को लात घूसों से मारा जिससे मुंह पर मुंदी चोट लगी, फिर अभियुक्तगण ने चार-पांच लोगों को बुला लिया जो बारी-बारी से फरियादी और उसके दोस्तों को मारने के लिये दोडे तो फरियादी एवं उसके दोस्त वहां से जान बचाकर भागे। अभियुक्तगण बोले आज तो बच गये आईन्दा होटल में आये तो जान से खत्म कर देगें। फरियादी की उक्त रिपोर्ट पर थाना नीलगंगा द्वारा अभियुक्तगण के विरूद्ध अपराध पजींबद्ध किया गया। अभियुक्तगण द्वारा न्यायालय में जमानत आवेदन प्रस्तुत किया गया था। अभियोजन अधिकारी श्री उमेश सिंह तोमर द्वारा जमानत का विरोध करते हुये तर्क किये कि अभियुक्त द्वारा गंभीर अपराध कारित किया है। माननीय न्यायालय द्वारा अभियोजन के तर्कों से सहमत होकर अभियुक्तगण का जमानत आवेदन निरस्त किया गया। प्रकरण में शासन की ओर से पैरवी श्री उमेश सिंह तोमर, सहायक जिला लोेक अभियोजन अधिकारी, जिला उज्जैन द्वारा की गई। (मुकेश कुमार कुन्हारे) अभियोजन मीडिया सेल प्रभारी उज्जैन मध्यप्रदेश


ज्यादती के आरोपी को दस वर्ष का सश्रम कारावास

 राजगढ जिले में पदस्थ माननीय विशेष न्यायाधीश पॉक्सो एक्ट डॉ. अंजली पारे राजगढ ने विशेष सत्र प्रकरण क्रमांक 85/19 धारा 363,366,376(1)(2) एवं ...