शुक्रवार, 11 सितंबर 2020

जान से मारने की नियत से तलवार से प्रहार करने वाले आरोपीगण को न्यायालय ने पुलिस रिमांड पर भेजा


ग्वालियर। माननीय न्यायालय श्रीमान निधि एम. पिंटो जे.एम.एफ.सी डबरा जिला ग्वालियर म.प्र. ने रास्ता रोककर जान से मारने की नियत से गंदी गंदी गालियां देने और तलवार से प्रहार करने वाले आरोपीगण पलविंदर सिंह , जसकरन सिंह निवासी शरनागत थाना पिछोर को को पुलिस अभिरक्षा मे भेजा । अभियोजन की ओर से पैरवी करने वाले सहायक जिला लोक अभियोजन अधिकारी श्रीमती निधि शर्मा डबरा ने घटना के बारे में बताया कि दिनांक 19/06/2020 को समय करीब 5:30 बजे शाम फरियादी अपने घर के पास खेत के सामने पिछोर तरफ से आ रहा था जैसे ही वहां पर पहुंचा तो मेजर सिंह सिक्खा ने अपना ट्रेक्ट र ट्राली रास्ते में लगाकर फरियादी का रास्ता रोक दिया जब उससे पूछा तो उसने पुरानी रंजिश पर मां बहन की गंदी गंदी गालियां दी गालियां देने से मना किया तो मेजर सिंह ने तलवार से वार किया जो बायें हाथ की छोटी अंगुली की बगल बाली अंगुली में लगी जिससे अंगुली कटकर अलग हो गई फरियादी के पिता अजीत ने बचाया तो वहां पर पलविंदर सिंह , जसकरन सिंह , छिंदर कौर , बलजीत कौर आये एवं तलवार से मारा फरियादी के पिता भाई एवम भाबी की तलवार से मारपीट कि जिससे उनको छोटे आई परियादि के पिता की बायें हाथ की अंगुली बायें हाथ की बाजू दाहिने हाथ एवं शरीर में जगह जगह चोटें आई जिस पर से थाना पिछोर अपराध क्रमांक 104/20 अंतर्गत धारा 294,323,324,326,341,506,34 भादवि का दर्ज कर विवेचना में लिया एवं विवेचना दौरान आरोपीगण पलविंदर सिंह , जसकरन सिंह को गिरफ्तार कर माननीय न्यायालय के समक्ष दिनांक 10/09/20 को पेश किया जिस पर माननीय न्यायालय ने अभियोजन से सहमत होकर उक्त आरोपीगण को पुलिस अभिरक्षा में भेजने का आदेश दिया । उक्त प्रकरण में शासन की ओर से पैरवी सहायक जिला लोक अभियोजन अधिकारी श्रीमती निधि शर्मा तहसील डबरा जिला ग्वालियर के द्वारा की गयी ।


कुल्हाडी मार कर अस्थिभंग करने के मामले में आरोपी को दो वर्ष की सजा और अर्थदण्ड

 छतरपुर- कुल्हाडी मार कर अस्थिभंग करने के मामले में कोर्ट ने फैसला दिया। बिजावर अपर सत्र न्यायाधीश की अदालत ने आरोपी को दो साल की कठोर कैद क...