रविवार, 27 दिसंबर 2020

किसानों के खेतों से डीपी चुराने वाले 3 आरोपियों को किया पुलिस ने गिरफ्तार ,पूर्व में खेतों में नागार्जुन इन्टरप्राइज कंपनी द्वारा डीपी लगाने करते थे कार्य


  बुरहानपुर-  विगत दो माह से जिला बुरहानपुर के ग्रामीण  क्षैत्रों विद्युत ट्रांसफार्मर (ङी.पी) चोरी के अपराधो मे लगातार वृद्धि हो रही थी विगत कुछ माह से जिला बुरहानपुर के भिन्न-भिन्न क्षेत्रो मे चोरी की घटनाओ को अंजाम दिया जा रहा था जिससे की फसलो को सिंचित करने मे काफी परेशानियो का सामना करना पढ रहा था जिससे की सभी थाना क्षेत्रो मे किसानो द्वारा लगातार शिकायते की जा रही थी ।


बुरहानपुर जिला पुलिस अधीक्षक श्री राहुल कुमार लोढा के मामला संज्ञान में आते ही अलग अलग थाना क्षैत्रों की टीम का गठन किया । अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री मनकामना प्रसाद एवं एस डी ओ पी श्री यशपाल सिंह ठाकुर के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी श्री विक्रम सिंह बामनिया के द्वारा थाना निम्बोला की टीम का गठन किया गया। जिसके द्वारा सूचना तंत्र एवं मुखबिर को सक्रिय किया गया एवं कार्य में सायबर सेल का सहयोग भी लिया गया।

टीम द्वारा पूर्व में डी पी चोरी की घटना से संबंधित अपराधियों के रिकार्ड को खंगाला गया एवं बुरहानपुर जिले से सटे अन्य जिलों मे भी इस प्रकार की घटनाओं की जानकारी प्राप्त की गई जिसमें पाया गया कि खण्डवा जिले के कोतवाली थाना अन्तर्गत आने वाले ग्राम टिगरिया के आरोपी कैलाश, चंदू एवं राजेन्द्र पूर्व में डीपी चोरी के आरोप में गिरफ्तार हो चुके हैं। टीम के द्वारा उनके घर पर तलाशी ली गई लेकिन तीनो संदेही घर पर नही मिले । सायबर टीम के मदद से संदेहियों की लोकेशन ट्रेस की गयी जिसमें संदहियों को जिला बुरहानपुर में होना पाया गया । लगातार लोकेशन ट्रेस करते हुए टीम ने संदेहियों को दिनांक 26/12/2020 के तकरीबन 12.00 बजे धर दबोचा जिनसे अपराध के संबंध में पूछताछ करने पर संतोषजनक जवाब नही मिलने से संदेहियों को निम्बोला थाना लाया गया एवं हिकमत अमली से पूछताछ की गई जिसमें आरोपी 1.कैलाश पिता छीतर गोलकर जाति भील, 2.चंदू पिता दशरथ सांकले जाति चमार 3.राजेन्द्र उर्फ दिलीप पिता मंशाराम गायकवाड सभी निवासी टिगरीया जिला खंडवा ने निंम्बोला थाना क्षेत्र मे ग्राम बोरीखुर्द, नासीराबाद ,पांचपुल, मंगरुल, रेल्वे स्टेशन रोड निम्बोला बसाड.रोड की 10 डीपी को तोडकर उसमे से ताँबे का तार चुराना स्वीकार किया । तीनो आरोपीयो को लेकर टीम उनके घर पर गई। उनके द्वारा चुराया हुआ ताँबे का तार तकरीबन 01 क्विंटल 10 किलो मूल्यतकरीबन 77,000 रुपये का आरोपियो के कब्जे से जब्त किया गया । आरोपियों के द्वारा शेष तांबे का तार खण्ड़वा जिले के स्थानीय कबाडी को बेचने की बात कबूली । टीम द्वारा खण्डवा जाकर उक्त शेष तार जप्त किया जायेगा ।

  आरोपियों की पृष्ठभूमि पता करने पर पता चला कि आरोपी पूर्व में खेतों में डीपी लगाने वाली कंपनी नागार्जुन इंटरप्राईजेस में काम करते थे और उन्ही के द्वारा निम्बोला थाना क्षैत्र में डीपी लगाई गई थी जिससे आरोपियों को पता था कि किस खेत में कॉपर वाली डीपी लगी है । आरोपी स्थान पर पहुंचकर बडी ही चतुराई से बिजली आपुर्ति बंद कर उन डीपी को तोडकर उसमें से तांबा तार को निकालकर बिक्री कर दिया करते थे ।

कुल्हाडी मार कर अस्थिभंग करने के मामले में आरोपी को दो वर्ष की सजा और अर्थदण्ड

 छतरपुर- कुल्हाडी मार कर अस्थिभंग करने के मामले में कोर्ट ने फैसला दिया। बिजावर अपर सत्र न्यायाधीश की अदालत ने आरोपी को दो साल की कठोर कैद क...