मंगलवार, 23 फ़रवरी 2021

बुरहानपुर जिले में कोरोना को लेकर जिला स्तरीय क्राईसिस मैनेजमेंट बैठक में लिए निर्णय महाराष्ट्र राज्य से आने वाले यात्रीगणों को मेडिकल सर्टिफिकेट लाना अनिवार्य, वैवाहिक कार्यक्रमों में केवल 100 सदस्यों को की होगी अनुमति, शव यात्रा में 30 लोगों को जाने की रहेंगी अनुमति,


बुरहानपुर- मध्य प्रदेश शासन के निर्देशानुसार प्रदेश के सीमावर्ती जिलों एवं ऐसे जिले जहां पर कोविड-19 के बढ़ते हुए केसेस नजर आ रहे है, में क्राईसिस मैनेजमेंट की बैठक आयोजित किये जाने, निर्देशों के परिपालन में कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव हेतु आवश्यक कार्यवाही के लिए क्राईसिस मैनेजमेंट की बैठक आयोजित की गई।


कलेक्टेªट सभागार में आयोजित बैठक में कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री प्रवीण सिंह ने बैठक के उद्देश्यों से उपस्थित सम्मानीय जनों को अवगत कराया कि बुरहानपुर जिला सीमावर्ती जिला है। देखने में आया है कि महाराष्ट्र राज्य के अमरावती, जलगांव एवं अन्य जिलों में कोरोना संक्रमण की दर बढ़ती नजर आ रही है। जिले को कोरोना संक्रमण के प्रभाव से बचाने के लिए उपस्थित जनप्रतिनिधिजनों के बहुमूल्य विचारों को आमंत्रित किया गया।

क्राईसिस मैनेजमेंट की बैठक में सर्वसम्मति से विचार उपरांत निर्णय लिये गये निर्णयानुसार-


ऽ महाराष्ट्र राज्य से आने वाले यात्रीगणों को अपने साथ मेडिकल सर्टिफिकेट लाना अनिवार्य होगा।

ऽ वैवाहिक कार्यक्रमों में दोनो पक्षों से 50-50 सदस्यों को शामिल होने की अनुमति होगी। यह अनुमति अनुविभागीय अधिकारी द्वारा ली जाना अनिवार्य है। अनुमति 24 घंटे के अंदर व्यक्ति को प्राप्त हो जायेगी।  

ऽ शव यात्रा में 30 लोगों को जाने की अनुमति रहेंगी।

ऽ 1 मार्च, 2021 से होने वाले सभी सार्वजनिक कार्यक्रमों के लिए अनुमति लेना अनिवार्य रहेगा। अनुमति हेतु नोडल अपर कलेक्टर बुरहानपुर रहेंगे।  

ऽ मास्क एवं सेनेटाईजर के उपयोग को बढ़ावा देने के लिए आगामी दिनों में सभी व्यवसायिक, प्रतिष्ठानों एवं अन्य संगठनों के साथ बैठक आयोजित की जायेगी तथा ग्राहक व दुकानदार एवं सभी के लिए मास्क लगाना अनिवार्य रहेगा।  


ऽ अनुविभागीय अधिकारी, तहसीलदार यह सुनिश्चित करेंगे कि जिले में आयोजित हॉट बाजार पर निरंतर निगरानी रखी जाये एवं कोई बाहरी व्यक्ति इन हॉट बाजार में अपनी दुकान ना लगाये।

ऽ जिला अस्पताल में उपचार संबंधी उपकरणों, व्यवस्थाएंँ, साफ-सफाई, तकनीकि विशेषज्ञों की टेªनिंग, प्रायवेट अस्पतालों के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश तथा स्टॉफ की कमी को दूर करने के लिए शासन को पत्र जारी करने का निर्णय लिया गया।


ऽ जिले की बार्डर पर चेक पोस्ट लगाकर थर्मल स्केनिंग एवं अन्य व्यवस्थाएँ की जायेगी।

ऽ बाजारों, प्रतिष्ठानों एवं अन्य संस्थानों पर ‘‘नो मास्क नो एन्ट्री‘‘ के लिए व्यापारी बन्धुओं एवं समाजसेवकों से अपील करेंगे कि इसे सख्ती से लागू करवायें।

बैठक में पूर्व केबिनेट मंत्री श्रीमती अर्चना चिटनिस, भाजपा जिलाध्यक्ष श्री मनोज लघवे, कांग्रेस जिलाध्यक्ष श्री अजय रघुवंशी, श्री राजाराम पाटीदार, अपर कलेक्टर श्री शैलेन्द्र सिंह चौहान, बुरहानपुर अनुविभागीय अधिकारी राजस्व श्री के आर.बडोले, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व नेपानगर श्री दीपक चौहान, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.एम.पी.गर्ग, शहरी विकास अभिकरण श्री सलीम खान, डिस्ट्रिक्ट होमगार्ड कमाडेंट श्रीमती रोशनी बिलवाल सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित रहे।  

कुल्हाडी मार कर अस्थिभंग करने के मामले में आरोपी को दो वर्ष की सजा और अर्थदण्ड

 छतरपुर- कुल्हाडी मार कर अस्थिभंग करने के मामले में कोर्ट ने फैसला दिया। बिजावर अपर सत्र न्यायाधीश की अदालत ने आरोपी को दो साल की कठोर कैद क...