शनिवार, 9 मई 2020

जिला स्तरीय परिवार परामर्श केंद्र की बैठक कंट्रोल रूम में आयोजित ....


हरदा ।पुलिस अधीक्षक मनीष कुमार अग्रवाल की अध्यक्षता में आज पुलिस अधीक्षक मनीष कुमार अग्रवाल की अध्यक्षता में आज जिला स्तरीय परिवार परामर्श केंद्र की बैठक कंट्रोल रूम में आयोजित की गई बैठक में प्रस्तुत प्रकरणों की सुनवाई की गई ।सभी प्रकरण में दोनों पक्ष स्थानीय जिले के निवासी थे । दोनो पक्ष की उपस्थिति में सुनवाई हुई जिसमें आपसी रिश्तो को पुनः स्थापना के लिए प्रयास किये गए ।सभी ने अपना पक्ष रखा गया । जिसका मोके पर चर्चा कर निराकरण किया गया । जिसमे सोशल डिस्टेन्स का पूर्ण पालन किया गया । 
बैठक की जानकारी देते हुए काउंसलर रजनीश शर्मा ने बताया कि उपस्थित काउंसलर से केन्द्र से सम्वन्धित जानकारी ली गई। पुलिस अधीक्षक  अग्रवाल ने केंद्र के कार्यों की समीक्षा करते हुए निर्देश देते हुए कहा कि आने वाले आवेदनो का रिकार्ड हमेशा दुरुस्त रखा जाए । अग्रवाल ने इस बात पर जोर देते हुए कहा कि प्रकरणों के निराकरण के उपरांत कुछ माह तक उस परिवार से सतत संपर्क रख उसकी समीक्षा की जानी चाहिए ताकि पीड़ित महिलाओं का हौसला कायम रखे इसके लिए संपर्क में बने रहना जरूरी है । केंद्र प्रभारी को इसके लिए जल्द ही कार्ययोजना बनाने के निर्देश दिए ।साथ ही उपस्थित जनो को पूर्ण पारिवारिक माहौल दिया जाना आवश्यक है । इसके लिए पर्याप्त जलपान की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए । बैठक में अनुविभागीय अधिकारी पुलिस हिमानी मिश्रा केन्द्र प्रभारी ज्योत्स्ना वर्मा सहित काउंसलर कमला सोनी अनिता मिश्रा राम पाराशर प्रेमनारायण लेगा आभा तिवारी जगदीश टांक उपस्थित थे ।की गई बैठक में प्रस्तुत प्रकरणों की सुनवाई की गई ।सभी प्रकरण में दोनों पक्ष स्थानीय जिले के निवासी थे । दोनो पक्ष की उपस्थिति में सुनवाई हुई जिसमें आपसी रिश्तो को पुनः स्थापना के लिए प्रयास किये गए ।सभी ने अपना पक्ष रखा गया । जिसका मोके पर चर्चा कर निराकरण किया गया । जिसमे सोशल डिस्टेन्स का पूर्ण पालन किया गया । 
बैठक की जानकारी देते हुए काउंसलर रजनीश शर्मा ने बताया कि उपस्थित काउंसलर से केन्द्र से सम्वन्धित जानकारी ली गई। पुलिस अधीक्षक  अग्रवाल ने केंद्र के कार्यों की समीक्षा करते हुए निर्देश देते हुए कहा कि आने वाले आवेदनो का रिकार्ड हमेशा दुरुस्त रखा जाए । अग्रवाल ने इस बात पर जोर देते हुए कहा कि प्रकरणों के निराकरण के उपरांत कुछ माह तक उस परिवार से सतत संपर्क रख उसकी समीक्षा की जानी चाहिए ताकि पीड़ित महिलाओं का हौसला कायम रखे इसके लिए संपर्क में बने रहना जरूरी है । केंद्र प्रभारी को इसके लिए जल्द ही कार्ययोजना बनाने के निर्देश दिए ।साथ ही उपस्थित जनो को पूर्ण पारिवारिक माहौल दिया जाना आवश्यक है । इसके लिए पर्याप्त जलपान की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए । बैठक में अनुविभागीय अधिकारी पुलिस हिमानी मिश्रा केन्द्र प्रभारी ज्योत्स्ना वर्मा सहित काउंसलर कमला सोनी अनिता मिश्रा राम पाराशर प्रेमनारायण लेगा आभा तिवारी जगदीश टांक उपस्थित थे । हरदा से मुईन अख्तर खान


नकली दस्तावेजों के आधार पर जमीन बेचने वाले को न्यायालय ने दिया पाक 5 वर्ष का सश्रम कारावास

 अतिरिक्त‍ लोक अभियोजक श्री सुनील कुरील अभियोजित एक महत्वपूर्ण प्रकरण में मा. अपर सत्र न्यायाधीश श्री आर.के.पाटीदार बुरहानपुर द्वारा आरोपीगण...